अनूठी और चुनिंदा प्रतिभाओं ने अपनी प्रतिभा के जलवे बिखेरे


लखनऊ - देश भर की प्रतिभाओं को मंच और सम्मान देने में अग्रणी सांस्कृतिक संस्था सुर ताल संगम के सौजन्य से  वर्ल्ड म्यूजिक डे के अवसर पर एक भव्य संगीत समारोह का आयोजन अंतरराष्ट्रीय बौद्ध शोध संस्थान प्रेक्षागृह, लखनऊ में किया गया, जिसमें अनूठी और चुनिंदा प्रतिभाओं ने अपनी प्रतिभा के जलवे बिखेरे। अपने आप में बेहद खास इस संगीतमयी शाम के मुख्य अतिथि कैबिनेट मंत्री श्री लक्ष्मीनारायण चौधरी जी (सांस्कृितिक मंत्रालय) ने सर्वप्रथम दीप प्रज्वलित कर व माँ सरस्वती की प्रतिमा पर पुष्प अर्पण कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया तथा अपने कर कमलों से संगीत जगत की जानी-मानी वरिष्ठ एवं नवोदित प्रतिभाओं को सम्मानित कर कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई।


इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रूप में श्री पवन सिंह चौहान तथा अन्नपूर्णा सेवा संस्थान (उत्तर प्रदेश) के अध्यक्ष श्री अनिल द्विवेदी सहित कई जानी-मानी हस्तियां मौजूद रहीं। कार्यक्रम का शुभारंभ आद्या श्रीवास्तव ने भरतनाट्यम शैली में अपनी अनूठी वंदना के साथ किया। तत्पश्चात गायन की एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियों ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया और उन्हें अंत तक बांधे रखा। सत्यम शिवम् सुंदरम, लागा चुनरी में दाग आदि जैसे लोकप्रिय गीतों सहित अदिति, रूबल, सृष्टि तथा सुदिति की चिर परिचित विभिन्न नृत्य शैलियों को सदा की तरह इस कार्यक्रम में भी खूब वाह-वाही मिली।


कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण सम्मानित होने वाली विभूतियां तथा निकट समय में लगातार टीवी चैनलों पर छाए रहने वाले लोकप्रिय नवोदित गायक रहे, जिनमें केवल कुमार, प्रो. कमला श्रीवास्तव, योगेश प्रवीण, गोपाल टंडन जैसे संगीत को समर्पित हस्तियां तथा तन्मय चतुर्वेदी, अव्या सक्सेना, संजोली पांडेय, राधा श्रीवास्तव, वैभव मिश्रा, प्रियांशी तथा प्रतीक्षा श्रीवास्तव आकर्षण का विशेष केन्द्र रहे।


कार्यक्रम की खास विशेषता यह रही कि कार्यक्रम के दौरान वरिष्ठ संगीत मर्मज्ञों को संगीत सिंधु सम्मान देने के साथ ही सभी सेलेब्रिटी कलाकारों के पिताओं को भी प्रणेता सम्मान से अलंकृत किया गया। इस अद्भुत क्षण के लिए सभी ने संस्था के प्रति अपना आभार व्यक्त किया तथा इस प्रयास की मुक्त कंठ से सराहना की। माननीय मुख्य अतिथि ने इस सफल आयोजन के लिए संस्था व विशिष्ट अतिथि पवन सिंह चौहान तथा आदित्य द्विवेदी ने आगामी समय में इस प्रकार के बेहतरीन आयोजनों की श्रृंखला को आगे बढ़ाने का आश्वासन भी दिया।


शानदार कार्यक्रम की श्रृंखला में अभय, तौकीर, अनन्या, हरीश, अमिताभ, वेदिका, हर्षित, यामिनी सहित सुर ताल संगम की ब्रांड एम्बेसडर कुमारी शबीना ने बेहतरीन प्रस्तुतियां देकर प्रेक्षागृह को लगातार तालियों की गड़गड़ाहट से गुंजायमान रखा। कार्यक्रम के अंत में संरक्षक राज पुरोहित शिवराज कृष्ण जी महाराज एवं समिति के पदाधिकारियों ने संगीत के महागुरुओं, सेलिब्रिटीज तथा कलाकारों को अंगवस्त्र, पुष्पगुच्छ तथा स्मृति चिह्न प्रदान कर सम्मानित किया। कार्यक्रम की अनूठी परिकल्पना के साथ ही कार्यक्रम का अद्भुत संचालन संस्था की निदेशक श्रीमती जया श्रीवास्तव ने अपने अनूठे अंदाज़ में किया।