सैफ़ी सरनेम के संस्थापक सदस्य हाजी एम वकील सैफ़ी का इंतक़ाल 


नयी दिल्ली - सैफ़ी सरनेम के संस्थापक सदस्य और सरपरस्त जनाब हाजी एम वकील सैफ़ी साहब का आज सुबह इंतक़ाल हो गया । हाजी एम वकील सैफ़ी का जन्म 6 अप्रैल 1936 को अमरोहा, उत्तर प्रदेश में हुआ ,आप ने इस्लामिक तालीम के साथ साथ ग्रेजुएशन भी की । सैफ़ी सरनेम की तहरीक में आप ने अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है ।


मरहूम बाबू हनीफ़ बछरायूनी ,अली हसन सैफ़ी  चकनवाला ,मौजी ख़ान, रशीद सैदपुरी सैफ़ी , शमीम अहमद सैफ़ी मास्टर अली शेर सैफ़ी के साथ आपको बहुत लगाव था और दोस्ती भी थी । 
आपने कई किताबें लिखीं जिसमें सैफ़ी तहरीक और उसकी तस्वीर, इस्लाम की तस्वीर मशहूर किताबें हैं ।
आपको देश की विभिन्न सामाजिक और धार्मिक संस्थाओ से अनेक सम्मान व अवार्ड प्राप्त हो चुके हैं ।


हाजी एम वकील सैफ़ी के पुत्र क़मर आलम सैफ़ी ने बताया कि हाजी साहब पिछले छह महीनों से सख़्त बीमार चल रहे थे ।
20 अगस्त को लगभग  सुबह 11बजे उन्होंने इस दुनिया ए फानी को अलविदा कह दिया ।
सैफ़ी समाज के इतिहास में मरहूम हाजी एम वकील सैफ़ी साहब को सुनहरे हरूफो  में लिखा जाएगा।