सेनाध्‍यक्षों की समिति के अध्‍यक्ष और वायु सेनाध्‍यक्ष थाईलैंड की यात्रा पर

सम्‍मेलन में भाग लेने वाले देशों के सामने मौजूद साझा चुनौतियों के बारे में योजना तैयार की जाएगी और इस पर खुली चर्चा होगी। सम्‍मेलन में 33 से अधिक देशों के रक्षा प्रमुख भाग लेंगे।



नयी दिल्ली - सेनाध्‍यक्षों की समिति के अध्‍यक्ष और वायुसेना अध्‍यक्ष एयर चीफ मार्शल बीरेन्‍दर सिंह धनोवा, पीवीएसएम, एवीएसएम, वाईएसएम, वीएम, एडीसी 26 से 28 अगस्‍त तक थाईलैंड की तीन दिवसीय यात्रा करेंगे। वह बैंकाक में भारत प्रशांत रक्षा प्रमुखों (सीएचओडी) के सम्‍मेलन में शामिल होंगे। सम्‍मेलन का विषय - 'स्‍वतंत्र और खुला भारत-प्रशांत सहयोग' है।


      भारत और थाईलैंड के बीच द्विपक्षीय रक्षा सहयोगों को राजनीतिक, आर्थिक और सांस्‍कृतिक स्‍तरों पर संबंधों में संपूर्ण सुधार के साथ भारत की 'लुक/एक्‍ट ईस्‍ट पॉलिसी' के परिणामस्‍वरूप गति मिली है। मई 2003 में शुरू सुरक्षा सहयोग पर संयुक्‍त कार्य दल ने सहयोग मजबूत बनाने के लिए सात प्रमुख क्षेत्रों में से एक के रूप में सैनिक सहयोग पर मुख्‍य रूप से ध्‍यान केंद्रित किया।


जनवरी, 2012 में थाईलैंड के प्रधानमन्‍त्री की भारत की सरकारी यात्रा के दौरान संयुक्‍त वक्‍तव्‍य में इसे फिर से बढ़ाया गया। भारत और थाईलैंड ने कूटनीतिक संबंध स्‍थापित करने की 70वीं वर्षगांठ 2017 में मनाई। इस तरह की यात्रा और सहयोग से सहयोगपूर्ण क्षेत्रीय सुरक्षा पहलों के लिए थाईलैंड के साथ भारत की सहज साझेदारी कायम हो सकेंगी।


      सीओएससी के भारतीय अध्‍यक्ष की भागीदारी से थाईलैंड के साथ रक्षा सहयोग बढ़ाने की दिशा में गति आयेगी और भविष्‍य में अधिक सहयोग का मार्ग प्रशस्‍त होगा।