मीडिया के सामने चुनौतियां भी खूब है,जरूरी है कि मीडिया बापू के आदर्शो को आत्मसात करे


बापू के आदर्शो को आत्मसात करें मीडिया - जस्टिस रांका। पिंकसिटी प्रेस क्लब में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण। प्रेस क्लब में बापू की प्रतिमा स्थापित क्लब अध्यक्ष अभय जोशी ने बताया कि बापू की मार्बल की खूबसूरत प्रतिमा प्रेस क्लब को रांका चैरिटेबल ट्रस्ट ने उपलब्ध कराई है। प्रेस क्लब में नियमित रूप से गांधी प्रतिमा पर पुष्प एवम् गांधी की सूत की माला पहना कर पुष्पांजलि दी जाएगी।


प्रेस क्लब ने स्थापना दिवस समारोह राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वी जयंती के सेलिब्रेशन के रूप में मनाया



जयपुर। जस्टिस जे के रांका का कहना है कि मीडिया की आज के दौर में सशक्त भूमिका है ऐसे में मीडिया के सामने चुनौतियां भी खूब है जरूरी है कि मीडिया बापू के आदर्शो को आत्मसात करें। महावीर के सिद्धांतो को गांधी ने अपने जीवन में उतारा। रांका प्रेस क्लब स्थापना दिवस समारोह के अवसर पर आयोजित गोष्ठी "पत्रकार गांधी एवम् आज के दौर में पत्रकारिता के मायने"  पर अपने विचार रख रहे थे।  मुख्य अतिथि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव एवम् राजस्थान सहप्रभारी विवेक बंसल ने कहा कि महात्मा गांधी ने कहा था मेरा जीवन ही मेरा संदेश है।



उनका जीवन आज भी पूरे विश्व को रास्ता दिखा रहा है। विशिष्ट अतिथि प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष राजीव अरोड़ा ने कहा कि महात्मा गांधी ने पूरे देश को सच्चाई के रास्ते पर चलाते हुए अंग्रेजों से लड़ाई लड़ी। गांधी का पूरा जीवन प्रेरणादाई है। मुख्य वक्ता शिक्षाविद् डॉ विद्या जैन ने कहा कि गांधी के विचारों से पूरी दुनिया आलोकित हुई है उनके विचारों की आज बहुत जरूरत है। वरिष्ठ पत्रकार नारायण बारेठ ने कहा कि महात्मा गांधी को दक्षिण अफ्रीका में ट्रेन से नहीं उतारा जाता तो वे मोहनदास बन कर रह जाते। उन्होंने अपनी पत्रकारिता से प्रेम का रास्ता दिखाया। जबकि आज मीडिया नफरत फैलाने में मददगार बन रहा है।



पत्रकार ईश मधु तलवार ने कहा कि महात्मा गांधी केवल आजादी की लड़ाई नहीं लड़ रहे थे बल्कि वे एक अच्छा समाज बनाने में भी जुटे थे। पत्रकारिता का उद्देश्य सामाजिक समस्याओं को उठा कर समाधान का रास्ता दिखाना होता है। प्रेस क्लब के संस्थापक सदस्य वरिष्ठ पत्रकार प्रवीण चंद्र छाबड़ा ने कहा कि महात्मा गांधी ने जनता से जुड़ी पत्रकारिता की जिसकी आज भी जरूरत है। जबकि वरिष्ठ पत्रकार वशिष्ठ कुमार शर्मा ने कहा कि महात्मा गांधी का सत्य, अहिंसा का रास्ता हमें आज भी रोशनी दिखा रहा है।


जस्टिस विनोद शंकर दवे का कहना है कि गांधी जेल भी गए, सजा भी भुगती लेकिन पत्रकारिता में जनता को जाग्रत करने का काम उन्होंने नहीं छोड़ा। प्रेस क्लब अध्यक्ष अभय जोशी ने सभी अतिथियों का प्रेस क्लब कार्यालय में सूत की माला पहनाकर स्वागत किया एवम् प्रेस क्लब के 28 सालो के गौरवशाली इतिहास के बारे में बताया। जोशी ने कहा कि प्रेस क्लब ने स्थापना दिवस समारोह राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वी जयंती के सेलिब्रेशन के रूप में मनाया गया। जोशी ने कहा कि अब प्रेस क्लब अपने अतिथियों का स्वागत गांधी की सूत की माला से ही करेगा।