पहली बार मिग-29 भारत से बाहर किसी अंतर्राष्ट्रीय अभ्यास में भाग लेगा

​​​​


नयी दिल्ली - भारतीय वायु सेना के बेड़े में शामिल मिग-29 और सी-17 विमान, मिग-29 रॉयल एयरफोर्स ओमान के यूरोफाइटर टाइफून, एफ-16 और हॉक के साथ युद्ध अभ्यास में भाग लेंगे। इस अभ्यास से दोनों वायुसेनाओं के बीच आपसी परिचालन के दौरान अंतरसंक्रियता में बढ़ोत्तरी होगी और इससे एक-दूसरे की श्रेष्ठ प्रक्रियाओं को जानने का अवसर उपलब्ध होगा।


भारतीय वायु सेना, रॉयल एयरफोर्स ओमान (आरएएफओ) के साथ एक्स ईस्टर्न ब्रिज - V नामक द्विपक्षीय संयुक्त अभ्यास में भाग ले रही है। यह अभ्यास एयरफोर्स बेस मसीरा में  17 से 26 अक्तूबर तक आयोजित किया जाएगा। पिछला अभ्यास एक्स ईस्टर्न ब्रिज -IV जामनगर में 2017 में आयोजित किया गया था। पहली बार मिग-29 लड़ाकू विमान भारत से बाहर किसी अंतर्राष्ट्रीय अभ्यास में भाग लेगा।


इस अभ्यास में भारतीय वायुसेना की भागीदारी से व्यावसायिक बातचीत, अनुभव, द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के अलावा इससे वायुसैनिकों को अंतर्राष्ट्रीय माहौल में परिचालन करने का एक अच्छा अवसर भी उपलब्ध होगा।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अतरलाल कोलारे बने नुन्हारिया मेहरा समाज के प्रांतीय अध्यक्ष

दिल्ली मूल ग्रामीणों की 36 बिरादरी अपनी अनदेखी से लामबंद

मुंबई उपचुनाव में MEP का शानदार प्रदर्शन : दिल्ली MCD चुनाव में उम्मीदवार उतारने का फैसला

डॉ सुब्बाराव की पुण्यतिथि पर शिविरार्थियों ने मानसरोवर में निकाली सदभावना रैली

आजादी के बाद भी बिरसा मुंडा को उचित सम्मान न दिए जाने पर निराशा