राष्ट्रपति ने आतंकवाद के खिलाफ बांग्लादेश की जीरो टॉलरेंस नीति की सराहना की


नयी दिल्ली - राष्ट्रपति ने कहा कि जहां तक सामाजिक-आर्थिक विकास की बात है तो आज बांग्लादेश विकासशील देशों के लिए क रोल मॉडल है। इस यात्रा में बांग्लादेश का सहयोगी होना भारत के लिए सम्मान की बात है। उन्होंने भरोसा जताया कि भारत और बांग्लादेश की द्विपक्षीय परियोजनाएं एक संयुक्त एवं समृद्ध पड़ोस का निर्माण करेंगी।


राष्ट्रपति ने आतंकवाद के खिलाफ बांग्लादेश की जीरो टॉलरेंस यानी बिल्कुल बर्दाश्त न करने की नीति की सराहना की। उन्होंने कहा कि आतंकवाद, उग्रवाद और हिंसात्मक कट्टरपंथ को परास्त करने के हमारे संयुक्त प्रयास परिणाम दे रहे हैं।


बांग्लादेश गणराज्य की प्रधानमंत्री श्रीमती शेख हसीना ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की।


बांग्लादेश की प्रधानमंत्री का भारत में स्वागत करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि भारत बांग्लादेश के साथ अपने संबंधों को उच्च प्राथमिकता देता है। हमारी साझेदारी ऐतिहासिक, समय की कसौटी पर परखी हुई और चिरस्थायी है। यह 1971 के मुक्ति संग्राम में तपकर निकली है। 


राष्ट्रपति ने कहा कि दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंध बहुत अच्छे चल रहे हैं। हम दोनों मिलकर अपनी साझेदारी का स्वर्णिम अध्याय – 'सोनाली अध्याय' लिख रहे हैं। भारत परस्पर भरोसे और समझ के आधार पर इस संबंध को और मजबूती देने के लिए दृढ़ संकल्पित है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अतरलाल कोलारे बने नुन्हारिया मेहरा समाज के प्रांतीय अध्यक्ष

दादा लख्मी फ़िल्म देश ही नहीं बल्कि विश्व में हलचल मचा सकती है - हितेश शर्मा

Delhi MCD Election वार्ड 117 से आप उम्मीदवार तिलोत्तमा चौधरी की जीत की राह आसान

दिल्ली मूल ग्रामीणों की 36 बिरादरी अपनी अनदेखी से लामबंद

मुंबई उपचुनाव में MEP का शानदार प्रदर्शन : दिल्ली MCD चुनाव में उम्मीदवार उतारने का फैसला