IIFL फाइनेंस ने लोगों को सिखाया ‘‘फ्यूचर का गणित’

नयी दिल्ली-भारत की सबसे बड़ी नाॅन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों में से एक, आईआईएफएल फाइनेंस ने आईआईएफएल फाउंडेशन के साथ मिलकर ‘‘मिलन’’ बैनर तले कई सामुदायिक गतिविधियां आयोजित की। इन गतिविधियों का आयोजन कंपनी की शाखाओं में व्यापक रूप से किया गया। इन गतिविधियों से समुदायों पर सकारात्मक असर पड़ता है और ये स्थानीय समुदायों व समाज के प्रति अपने दायित्वों के निर्वहन के आईआईएफएल के मिशन का हिस्सा हैं।



आईआईएफएल का मानना है कि परिवार के वित्तीय भविष्य की तैयारी अत्यंत महत्वपूर्ण है और इनसे परिवार के उद्देश्यों को पूरा करने में मदद मिलती है। इस मिशन की दिशा में, आईआईएफएल फाइनेंस ने 21 दिसंबर, 2019 को देश के 900 से अधिक शहरों में स्थित आईआईएफएल की 1,100 से अधिक शाखाओं में एक ही दिन ‘‘फ्यूचर का गणित’’ कार्यशालाएं आयोजित की। इन कार्यक्रमों के जरिए बताया गया कि वित्तीय प्लानिंग का संबंध केवल बचत से ही नहीं है, बल्कि इसमें सावधानीपूर्वक मनी मैनेजमेंट के साथ विभिन्न वृद्धिकारी एवं कर-बचतकारी उपकरणों में निवेश भी शामिल है।


सौरभ कुमार,हेड,गोल्ड लोन्स ने बताया, ‘‘आईआईएफएल फाइनेंस एक जिम्मेवार कंपनी है, जो ईएसजी अर्थात पर्यावरणीय, सामाजिक एवं प्रशासनिक लक्ष्यों को अपना प्रमुख लक्ष्य मानकर काम करता है। ‘‘फ्यूचर का गणित’’ के जरिए, हमने परिवारों का मार्गदर्शन किया ताकि वो अपने लिए वित्तीय लक्ष्य तय करें और फिर उन्हें हासिल करने की दिशा में कदम उठायें। हमारा मिशन यहीं खत्म नहीं हो जाता। आईआईएफएल फाइनेंस की देश भर में मौजूद 1700 से अधिक शाखाओं में से किसी में भी कोई भी व्यक्ति जाकर अपने परिवार के वित्तीय भविष्य की योजना बनाने के तरीके के बारे में निःशुल्क सलाह ले सकता है।’’
अपने सीएसआर प्रोग्राम ‘‘मिलन’’ के जरिए, आईआईएफएल ने अब तक 4 लाख से अधिक लोगों की जिंदगियों को सकारात्मक रूप से प्रभावित किया। इस हेतु, आईआईएफएल ने स्वास्थ्य, पर्यावरण संरक्षण एवं वित्तीय साक्षरता से संबंधित नये-नये प्रोग्राम्स चलाये। ,


आईआईएफएल एक सुव्यवस्थित महत्वपूर्ण नाॅन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी है, जो पब्लिक डिपाॅजिट्स स्वीकार नहीं करती और इसका कारोबार होम एवं प्रोपर्टी लोन्स, गोल्ड लोन्स, सिक्योरिटीज पर लोन, एसएमई बिजनेस व माइक्रो-फाइनेंस लोन्स से संबंधित है। आईआईएफएल को क्रिसिल ने एए (स्टेबल), इक्रा ने एए (स्टेबल) और केयर ने एए (पाॅजिटिव) की दीर्घकालिक क्रेडिट रेटिंग दी हैं।