अरुणाचल प्रदेश में तीन दिवसीय खाद्य उत्सव

भारत की अनूठी और जीवंत संस्कृति को प्रदर्शित करने के प्रयास से,आईटीडीसी अरुणाचल प्रदेश की सरकार के सहयोग से 03 दिवसीय अरुणाचल खाद्य उत्सव का आयोजन कर रहा है। अपने प्रकार का इस तरह का पहला समारोह 21 फरवरी से 23 फरवरी तक दि अशोक के सुप्रसिद्ध रेस्टोरैंट दि अवध में आयोजित किया गया है।



समारोह के बारे में बात करते हुए, विजय दत्त, प्रधान प्रबंधक, दि अशोक होटल, आईटीडीसी ने कहा कि, “हम अपने प्रकार के इस तरह के पहले उत्सव के लिए अरुणाचल प्रदेश की सरकार के साथ सहयोग करके आनंदित हैं। इस उत्सव की अवधारणा अरुणाचल प्रदेश की संस्कृति और परंपरा को इसके भोजन और स्थानीय अनुभवों के माध्यम से प्रदर्शित करना है। मैं अरुणाचल प्रदेश के पदाधिकारियों को दि अशोक होटल, दिल्ली में इस उत्सव में हमारे साथ भागीदारी करने हेतु धन्यवाद देना चाहता हूं। यह छोटा-सा कदम है, जो हमने एक नई दिशा की ओर बढ़ाया है और इस तरह के कई और समारोहों की मेज़बानी के लिए अन्य राज्य सरकारों के साथ जुड़ने की आशा करते हैं।”


शेफ अरविंद राय, कार्यपालक शेफ, दि अशोक होटल ने कहा कि, “अरुणाचल प्रदेश अपने भोजन में बहुत समृद्ध है और जिस जैविक खाद्य का वे उत्पादन करते हैं, वह किसी को भी पसंद आ सकता है, जिसने उसे आज़माया होगा। जैसाकि हर राज्य की अपनी विविधताएँ होती हैं, अरुणाचल भोजन, बारीकियों पर ध्यान देते हुए बनाया जाता है और यह स्वास्थ्यवर्धक भी होता है। हम इस उत्सव के प्रति आशान्वित हैं और वास्तव में आगे भी भोजन का अन्वेषण करना चाहेंगे।”


 जितेंद्र नारायण, आईएएस, प्रधान निवासी आयुक्त, अरुणाचल प्रदेश सरकार ने सहयोग के बारे में बताते हुए कहा कि, “यह पहला ऐसा आयोजन होगा, जहां अरुणाचल प्रदेश के विशेषज्ञता-प्राप्त शेफ इस समारोह के लिए अरुणाचल के व्यंजनों को पकाने हेतु आईटीडीसी के शेफों की सहायता करेंगे। इस समारोह में अधिकांश व्यंजन अरुणाचल प्रदेश के स्थानीय स्रोतों से प्राप्त सामग्री से बनाए जाएंगे, जो भोजन प्रेमियों के लिए भोजन का अद्भुत अनुभव होगा।”


विशिष्ट भोजन के अलावा, यह खाद्य उत्सव, अरुणाचल प्रदेश के लोहित जिले से नृत्य मंडलियों, हस्तशिल्पों और जैविक मसालों को भी प्रदर्शित करेगा।