ट्रैवलर अपनी बुकिंग को 31 दिसंबर,2020 तक रिसेड्यृल कर सकते हैं


कोरोनावायरस ने वैश्विक स्तर पर टूरिज्म को प्रभावित करते हुए, ट्रैवलर्स को अंतिम समय में फ्लाइट्स और एकोमडेशन कैंसल करने पर मजबूर कर रहा है। यात्रियों सुरक्षित रहें और प्लान रद्द होने की वजह से परेशान न हों, इसलिए कम्युनिटी आधारित बेहतरीन अनुभव मुहैया कराने वाले जॉस्टेल ने सभी एकोमडेशन और अन्यु सुविधाओं की कैंसिलेशन फीस माफ कर दी है। नई पॉलिसी के अनुसार जॉस्टेल के वेबसाइट के माध्यम से की गई बुकिंग का 100 रिफंड तत्काल प्रोसेस कर दिया जाएगा। इसके अलावा ऑनलाइन ट्रैवल एंजेंसी के माध्यम से की गई बुकिंग के मामले में प्लेटफॉर्म यात्रियों द्वारा किए गए एडवांस डिपॉजिट को रिफंड करने के लिए प्रमुख रूप से सहयोग करेगा।


भारत में कोरोनावायरस से होने वाली बीमारी कोविड-19 के मरीजों की संख्या बढ़कर 147 होने के साथ ही विश्वभर में 2 लाख से ज्यादा मामलों की पुष्टि हो चुकी है और इससे होने वाली मौतों का आंकड़ा 8100 पार कर गया है। दुनियाभर में सुरक्षा कारणों के चलते विभिन्न प्रकार के सार्वजनिक कामकाज बंद किए जा रहे हैं और विमान सेवाएं रद्द की जा रही हैं। खैर, जॉस्टेल की नई पॉलिसी यात्रियों को एकोमडेशन बुकिंग को 31 दिसंबर, 2020 तक रिसेड्यूल करने का अवसर भी दे रही है।


जॉस्टेल के सह-संस्थापक और सीईओ मि धर्मवीर सिंह चौहान ने कहा कि “यात्रियों का स्वास्थ्य बेहतर रहना ही हमेशा हमारे प्रमुख विचारों में से एक रहा है और इसीलिए हमने सभी तरह की याचिकाओं को स्वीकार करते हुए अपनी अधिकतर स्टे एंड रिजर्वेशन पॉलिसी को रद्द कर दिया है। हम फ्री कैंसिलेशन और उम्र की सीमा हटाते हुए सख्त सुरक्षा नियमों के आधार पर सस्ते दामों में लोगों को रुकने की सुविधा दे रहे हैं।”


वैश्विक महामारी को देखते हुए जॉस्टेल भी मार्च के पहले सप्ताह से ही मौजूदा यात्रियों के लिए अपने सभी होटेल और घरों में सुरक्षा मानकों का गंभीरता से पालन कर रहा है। इसने सभी सार्वजनिक जगहों जैसे कैफे, रिसेप्शन डेस्क, और रुकने की जगहों पर सेनेटाइजर की व्यवस्था की है। स्टाफ को फेस मास्क और ग्लव्स का उपयोग करने के साथ ही स्वच्छता बनाए रखने और गेस्ट के साथ सीधा संपर्क न करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा 1 दिन के उपयोग के लिए रिसेप्शन डेस्क पर डिस्पोजेबल मास्क भी खरीद के लिए उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। जॉस्टेल बेहतर स्वच्छता और संक्रमण को रोकने के लिए सख्त हाउसकीपिंग शूड्यूल का भी पालन कर रहा है। यहां तक कि घरेलू यात्रियों को मेडिकल सर्टिफिकेट लेने की सलाह दी जा रही है, ताकि उनकी स्वास्थ्य स्थिति सुनिश्चित की जा सके।