भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान रोपड़ ‘टाईमज़ यंग यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2020’ में सर्वश्रेष्ठ

‘दा यंग यूनिवर्सिटी रैंकिंग’ 50 वर्ष से कम उम्र की सबसे शानदार यूनिवर्सिटयों पर ध्यान केंद्रित करती है और निम्न पैरामीटरों के साथ अध्यापन, शोध, अंतर्राष्ट्रीय दृष्टि और औद्योगिक आऊटपुट के पांच व्यापक मापदंडों का प्रयोग करती है: अध्यापन: 30 फीसदी, शोध: 30 फीसदी, हवाला पत्र: 30फीसदी, अंतर्राष्ट्रीय: 7.5फीसदी, और उद्योग: 2.5 फीसदी



रोपड़: आई. आई. टी रोपड़ ने एक ओर मिसाल कायम करते हुए यू.के. में घोषित किए गए ‘टाईमज़ हायर एजुकेशन यंग यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2020’ में पहले 70 संस्थानों में अपना स्थान कायम किया है। संस्थान को दुनिया के सर्वोच्च 70 सर्वश्रेष्ठ नौजवान संस्थानों की सूची में 62वें स्थान प्राप्त हुआ है। आई. आई. टी रोपड़ की सफलता पीछे इसका अत्याधुनिक शोध बुनियादी ढांचा, जो कि विश्व स्तरीय शोध का समर्थन करने के लिए समर्पित है, संस्थान के अत्याधुनिक उपकरण और उच्च योग्यता प्राप्त संकाय सदस्य आदि हैं जो कि इस संस्थान की सफलता हेतू प्रेरक शक्ति के तौर पर अहम रोल अदा कर रहे हैं। यह विश्व स्तरीय फेकल्टी आई. आई. टी रोपड़ की वैज्ञानिक और शोध सामर्थ्य को आगे बढ़ाने के लिए सक्रियता के साथ योगदान डाल रही है।


संस्थान के निर्देशक प्रोफैसर सरित कुमार दास ने इस मौके कहा कि मुझे खुशी है कि आई. आई. टी रोपड़, जो कि सिर्फ 12 वर्ष पुराना विद्यार्थी संस्थान है, अपनी विश्वव्यापी प्रतियोगिता के लिए दुनिया भर में मशहूर हो गया है। उन्होंने कहा कि यह रैंकिंग महत्वपूर्ण है क्योंकि आई. आई. टी रोपड़ का दृष्टिकोण इस शताब्दी में पैदा हुए प्रोद्योगिकी संस्थानों में से उभर कर एक मिसाल कायम करना है। उन्होंने कहा कि यह काफी हद तक हमारी कड़ी मेहनत करने वाले फेकल्टी सदस्यों, विद्यार्थियों और कर्मचारियों के कारण ही संभव हुआ है। प्रोफैसर दास ने कहा कि अलग-अलग दर्जाबन्दी में निरंतर प्रदर्शन एक सहयोगी और सहायक शोध संस्कृति को उत्साहित करने में संस्था की निरंतर सफलता का प्रमाण है।


उन्होंने कहा कि आई. आई. टी रोपड़ ने कई प्रभावशाली रणनीतिक पहलकदमियों की शुरूआत की है जिसमें सीड फंडिंग शामिल हैं, उच्च प्रभावशाली शोध की सुविधा और उत्तमता केंद्र स्थापित करना, जो अलग-अलग विषयों और कॅरियर विकास प्रोग्रामों में नये शोध समूहों को विकसित करने में सहायता करते हैं। इसी दौरान आई. आई. टी. रोपड़ ने ओवरआल टाईमज़ हायर एजुकेशन वर्ल्ड रैंकिंग साथ-साथ एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2020 में 47वें रैक के साथ बढ़त हासिल की है। उन्होंने कहा कि हमने एन. आई. आर. एफ राष्ट्रीय रैंकिंग में पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश और चंडीगढ़ के क्षेत्र में अग्रणी संस्थान के रूप में अपनी स्थिति में भी सुधार किया है। उन्होंने ओर कहा कि यह शानदार नतीजे आई. आई. टी रोपड़ की बढ़ रही अंतर्राष्ट्रीय प्रसिद्धि और देश के विकास प्रति हमारे ज्ञान में योगदान डालने के लिए हमारे मिशन को समर्थन देने के लिए चल रही सरकारी नीति की महत्त्ता को दिखाते हैं।


उन्होंने उम्मीद जताई कि आने वाले दिनों में आई. आई. टी रोपड़ संस्थान रैंकिंग की इस सीढ़ी में ओर शीर्ष स्थान हासिल करेगा। उन्होंने कहा कि संस्थान अध्यापन की गुणवत्ता को उत्साहित करने के लिए अपने यत्नों को लगातार केंद्रित करेगा और देश और विदेशें से सबसे बढिय़ा प्रतिभाओं को आकर्षित करेगा।