ग्लोबल इंडियन इंटरनेशनल स्कूल ने विश्व पर्यावरण दिवस पर लाॅन्च किया डिजिटल कैम्पेन

नई दिल्ली, विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर ग्लोबल इंडियन इंटरनेशनल स्कूल ने डिजिटल कैम्पेन श्स्मजेन्दसवबाछंजनतमश् को लाॅन्च करने का एलान किया। कोरोना वायरस महामारी के बाद एक बेहतर दुनिया के लिए पर्यावरण संरक्षण के एक मजबूत सामाजिक संदेश के साथ संचालित यह अभियान फेसबुक, ट्विटर और यूट्यूब सहित जीआईआईएस के सभी सोशल मीडिया चैनलों पर जारी किया गया है। गौतम बुद्ध नगर, यूपी के सांसद और पूर्व केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री डॉ महेश शर्मा और केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड- सीबीएसई के डायरेक्टर डाॅ विश्वजीत साहा इस अभियान की सराहना कर चुके हैं।



इस अभियान में छात्रों और देश के 5 शहरों में जीआईआईएस स्कूलों के नेतृत्व दल द्वारा बनाया गया एक संक्षिप्त लेकिन प्रभावशाली वीडियो शामिल किया गया है। टीम ने सभी को व्यक्तिगत स्तर पर छोटे कदम उठाने के लिए प्रोत्साहित करने के लिहाज से इस वीडियो का निर्माण किया है, ताकि वे समग्र रूप से एक बड़ा प्रभाव कायम कर सकें और इस तरह हम सब मिलकर दुनिया को एक बेहतर जगह में बदल सकें। इस वीडियो के बाद जीआईआईएस के छात्र एक और वीडियो का निर्माण करेंगे और वे अन्य सकारात्मक कदम भी उठाएंगे, जैसे परिंदों के लिए घोसलों का निर्माण करना, पेड़ लगाना और पौधों के लिए स्वतः जल ग्रहण करने वाले सिस्टम को कायम करना और प्रदूषण का पता लगाने वाली प्रणाली को स्थापित करना, ताकि सस्टेनेबल एनवायर्नमेंट के निर्माण की दिशा में महत्वपूर्ण कार्य किया जा सके।


इस अभियान के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए जीआईआईएस इंडिया के डायरेक्टर- आॅपरेशंस राजीव बंसल कहते हैं, ‘‘जीआईआईएस में हम छात्रों के समग्र विकास में विश्वास करते हैं। हमारा उद्देश्य न केवल अकादमिक उत्कृष्टता प्रदान करना है, बल्कि उन्हें एक ऐसा जिम्मेदार नागरिक बनाना भी है, जो परिवर्तन का वाहक भी बन सके। हमारा श्स्मजेन्दसवबाछंजनतमश्  अभियान छात्रों को सामाजिक रूप से जिम्मेदार बनाने के लिए जीआईआईएस द्वारा की गई कई पहलों में से एक को सामने लाता है। हमारा लक्ष्य इस शिक्षाशास्त्र को जारी रखना है जहां पर्यावरण जैसे विषय को सीखने पर केंद्रित किया गया है और छात्र बचपन से ही वास्तविक दुनिया की समस्याओं को हल करना सीखते हैं। हालांकि स्कूल कोविड - 19 के डर के बीच बंद हैं, पर हम एक शिक्षण संस्थान के रूप में वर्तमान संकट के दौर में हमारे सभी छात्रों के समग्र विकास को सुनिश्चित करने के लिए एक सहज सीखने का अनुभव प्रदान करने का लक्ष्य रखते हैं।‘‘


लॉकडाउन से पहले, स्कूल केवल सामाजिक मुद्दों के बारे में छात्रों को संवेदनशील बनाने में सक्षम थे। इस बीच चूंकि लॉकडाउन ने छात्रों और अभिभावकों को हर समय अपने घरों में एक साथ रहने के लिए मजबूर किया है, इसलिए जीआईआईएस के इस अभियान का बहुत बड़ा और व्यापक प्रभाव हो सकता है। हर अच्छे काम की शुरुआत अपने घर से ही होनी चाहिए, इस महान सोच के साथ जीआईआईएस के छात्र यह प्रतिबद्धता व्यक्त करते हैं कि हममें से प्रत्येक को पर्यावरण पर सकारात्मक प्रभाव बनाने की पहल करनी होगी।


इस पहल पर संपूर्ण जीआईआईएस परिवार को हार्दिक बधाई देते हुए गौतम बुद्ध नगर, यूपी के सांसद और पूर्व केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री डॉ महेश शर्मा ने कहा, ‘‘ग्लोबल इंडियन इंटरनेशनल स्कूल का यह प्रयास कि बचपन से अपने छात्रों के बीच पर्यावरण के बारे में जागरूकता पैदा की जा सके, एक श्रेयस्कर पहल है। छात्र कल के लीडर हैं और यह जरूरी है कि स्कूल बचपन से ही उनके बीच स्थायी जीवन मूल्यों को संवारें। वर्तमान दौर में कोरोना वायरस महामारी एक अभूतपूर्व स्वास्थ्य आपातकाल है, जिससे दुनिया जूझ रही है, लेकिन इसने हमें पर्यावरण के संरक्षण और दुनिया को रहने के लिए एक बेहतर जगह बनाने का एक महत्वपूर्ण सबक सिखाया है।‘‘


जीआईआईएस की इस पहल की सराहना करते हुए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के डायरेक्टर डाॅ विश्वजीत साहा ने कहा, ‘‘ग्लोबल इंडियन इंटरनेशनल स्कूल का श्स्मजेन्दसवबाछंजनतमश्  अभियान छात्रों को सही दिशा में ले जाता है और पर्यावरण के बारे में जागरूकता पैदा करने अपने मकसद को प्रभावी रूप से आगे बढ़ाता है। कोविड - 19 महामारी ने हम सबको इस बारे में फिर से सोचने पर मजबूर किया है कि हमने इन वर्षों में कुदरत की कितनी उपेक्षा की है। बहुत कम उम्र से ही पर्यावरण की देखभाल करने के लिए छात्रों के बीच एक आदत विकसित करना दरअसल सभी स्कूलों की जिम्मेदारी है। लॉकडाउन के दौर में यह अभियान छात्रों और अभिभावकों के बीच जागरूकता पैदा करता है, इसलिए समाज पर बहुत बड़ा प्रभाव पैदा करने में सफल है। मैं जीआईआईएस को उन सभी कदमों के लिए बधाई देना चाहता हूं जो न केवल अकादमिक उत्कृष्टता पर ध्यान केंद्रित करते हैं बल्कि कल के जिम्मेदार नागरिकों को बनाने में भी मदद करते हैं।‘‘


विश्व पर्यावरण दिवस पर बच्चों, शिक्षकों और उनके परिवारों के बीच पर्यावरण संबंधी मुद्दों पर जागरूकता बढ़ाने के लिए कई गतिविधियों का आयोजन किया गया। इनमें स्लोगन लेखन, पौधारोपण, कविताएं लिखना, पोस्टर बनाना आदि शामिल हैं। ग्लोबल इंडियन इंटरनेशनल स्कूल ऐसे छात्रों को तैयार करने के लिए जाना जाता है, जो आने वाले कल में अग्रणी स्थान बनाएंगे। पृथ्वी दिवस पर स्कूल पूरे वर्ष ऐसे अनेक अनूठे कदम उठा रहा है, जिनकी सहायता से देश के अधिक जागरूक और जिम्मेदार नागरिकों को बनाने में योगदान किया जा सकता है।