मध्य प्रदेश प्रवासी मजदूरों के कल्याण के लिए आयोग का गठन करेगा

भोपाल । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक हुई। गृह मंत्री डॉ० नरोत्त्तम मिश्रा ने बैठक में कहा कि, मध्य प्रदेश के प्रवासी मजदूरों के कल्याण के लिए आयोग का गठन किया जाएगा। आयोग में अध्यक्ष के अलावा दो सम्मानित सदस्य होंगे।



मध्यप्रदेश में भाजपा सरकार ने कोरोना आपदा से लड़ाई में अपने जीवन की परवाह न करते हुए कर्तव्य की खातिर प्राणोत्सर्ग करने वाले कर्मचारी और अधिकारियों की शहादत का सम्मान, उनके आश्रितों के प्रति मानवीयता संवेदना और पूरी जिम्मेदारी निभाई है। इसी कड़ी में सरकार ने पूरी संवेदनशीलता और सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर अपना फर्ज निभाते हुए आज कैबिनेट की बैठक में कोरोना योद्धा के रूप में अपनी जान गंवाने वाले अपने दो जांबाज पुलिस अफसर के आश्रित को उप निरीक्षक के पद पर अनुकंपा नियुक्ति को मंजूरी दे दी।


कैबिनेट ने कोरोना आपदा के दौरान ड्यूटी में शहीद हुए CoronaWarriors उज्जैन के टीआई यशवंत पाल की बेटी फाल्गुनी पाल और इंदौर के निरीक्षक देवेन्द्र चंद्रवंशी की पत्नी सुषमा चंद्रवंशी को पुलिस उप निरीक्षक बनाया है। इतना ही नहीं सरकार ने कोविड योद्धा कल्याण योजना के तहत अभी तक 20 लोगों को 10 करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई है। सरकार ने तय किया था कि यदि कोरोना आपदा में ड्यूटी करते हुए किसी भी सरकारी कर्मचारी, अधिकारी की मृत्यु होती है तो उसके परिजनों को 50 लाख रूपए की आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाएगी। यह राशि केंद्र सरकार की ओर से उपलब्ध कराई जाने वाली बीमा राशि से अलग है।