शराब पीकर आने वाले पर हजार रुपए आर्थिक दंण्ड

देहरादून  - यह युवा शक्ति क्षेत्र में शराब उन्मूलन के लिए प्रयास रत होकर क्षेत्र का और नाम रोशन करेंगी। प्रस्ताव के आधार पर गांव में कोई शराब की बिक्री नहीं करेंगे। बाहर से शराब पीकर आने वाले पर हजार रुपए आर्थिक दंण्ड रखा गया है।



राजेश रावत के संदेश को पढ़कर एक आलौकिक आनंद की अनुभूति हुई कि विकास क्षेत्र बीरोंखाल के अंतर्गत ग्रामसभा भाकंण्ड  पट्टी साबली पत्रालय वेदीखाल के युवाओं जिसमें जसपाल सिंह नेगी , गांव की मातृशक्ति महिला मंगल दल, भूतपूर्व प्रधान एवं नव निर्वाचित प्रधान एवं समस्त ग्रामवासियों द्वारा शराब  की बिक्री और निर्माण पर प्रतिबंध लगा कर एक अनूठा उदाहरण क्षेत्र में ही नहीं सम्पूर्ण उत्तराखंड के शराब निर्माताओं को दिया है।


 इस सराहनीय कार्य से कई घरों को बचाया है।जिसकी बाटजोहते हुए  चार दशक से भी अधिक समय हो गया था। इस पुरानी बीमारी के अंत के लिए अभी क्षेत्र में जागरूकता और प्रचार प्रसार की आवश्यकता है। गांव की युवा शक्ति को यदि बेकारी बेरोजगारी और रोगग्रस्त होने से बचाना है तो इस शराबी नामक राक्षस से मुक्त करना होगा। यह युवा शक्ति क्षेत्र में शराब उन्मूलन के लिए प्रयास रत होकर क्षेत्र का और नाम रोशन करेंगी। प्रस्ताव के आधार पर गांव में कोई शराब की बिक्री नहीं करेंगे। बाहर से शराब पीकर आने वाले पर हजार रुपए आर्थिक दंण्ड रखा गया है।