वेस्टर्न डिजिटल ने भारतीय स्टार्टअप्स को सशक्त बनाने के लिए डेटा इनोवेशन बाजार 2020 के विजेताओं की घोषणा की

डेटा इनोवेशन बाजार की सर्वोच्च 40 चयनित टीमों को टाई सदस्यता दी जाएगी और उन्हें वेस्टर्न डिजिटल द्वारा प्रस्तुत तीन दिवसीय इनोवेशन बूटकैंप के लिए भी आमंत्रित किया जाएगा। सर्वोच्च 40 में महिला नेतृत्व के सभी उद्यमियों को तेलंगाना सरकार के अभियान, वी हब द्वारा प्रस्तुत तीन माह का एक्सक्लुसिव एक्सलरेटर अवसर मिलेगा। 40 फाईनलिस्ट्स को अटल इन्क्यूबेशन सेंटर - बिमटेक द्वारा प्रस्तुत खोज इन्क्यूबेटर प्रोग्राम में हिस्सा लेने का मौका मिलेगा। उनमें से 15 इन्क्यूबेशन प्रोग्राम का हिस्सा होंगे।



बैंगलुरू । स्टार्टअप्स को ज्यादा उपलब्धि हासिल करने में समर्थ बनाने के अपने निरंतर प्रयास में वेस्टर्न डिजिटल ने अपने फ्लैगशिप स्टार्टअप चैलेंज, डेटा इनोवेशन बाजार 2020 का समापन किया। डेटा इनोवेशन बाजार 2020 की मेजबानी स्टार्ट अप इंडिया एवं इन्वेस्ट इंडिया और ईकोसिस्टम पार्टनर- इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (माईटी), विज्ञान व प्रौद्योगिकी विभाग - विज्ञान व प्रौद्योगिकी मंत्रालय (डीएसटी) एवं इंडस एंटरप्रेन्योर्स (टाई दिल्ली-एनसीआर) के साथ साझेदारी में की गई। वार्षिक स्टार्टअप चैलेंज ने हैल्थकेयर, शिक्षा, कृषि, ऊर्जा व पर्यावरण, स्मार्ट ट्रांसपोर्टेशन एवं स्मार्ट सिटीज़ सहित विविध उद्योगों के लिए डेटा संचालित समाधानों को बढ़ावा देने के लिए एक प्लेटफॉर्म प्रस्तुत किया।


भारत में दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप ईकोसिस्टम है। आज स्टार्टअप्स को ज्यादा गति मिल रही है और उद्यमी साझेदारों के साथ सहयोग के अवसर तलाश रहे हैं। उन्हें अपने व्यवसाय का विस्तार करने के लिए ज्यादा एक्सपोज़र मिल रहा है। कॉर्पोरेट सेक्टर स्टार्टअप्स से मिलकर नया परिदृश्य प्राप्त कर रहे हैं और कॉर्पोरेशंस को ज्यादा चुस्त बना रहे हैं। वेस्टर्न डिजिटल के अभियान - डेटा इनोवेशन बाजार को भारत में सुप्रिया ढंडा के नेतृत्व में तैयार किया गया है। इससे उद्यमियों को अपने डेटा-संचालित विचारों के प्रदर्शन एवं मुख्य स्टेकहोल्डर्स के साथ नेटवर्क के निर्माण का अवसर मिला है।


डेटा इनोवेशन बाजार 2020 के विजेताओं की घोषणा ऑफिस ऑफ इंडिया कंट्री मैनेजर एवं वाईस प्रेसिडेंट - सुप्रिया ढंडा के नेतृत्व में एक वर्चुअल ईवेंट में की गई। इस अवसर पर मुख्य अतिथि, श्री दीपक बागला, एमडी एवं सीईओ, इन्वेस्ट इंडिया, वेस्टर्न डिजिटल की एक्ज़िक्यूटिव लीडरशिप के सदस्य, सरकार एवं मुख्य एकेडेमिया मौजूद थे।


वो सर्वोच्च पाँच स्टार्टअप, जिन्हें 25 लाख रु. का ग्रांड पुरस्कार दिया गया, उनमें शामिल हैं – प्रथम स्थान आरोग्याएआई इनोवेशंस प्राईवेट लिमिटेड को मिला। उन्हें ड्रग रज़िस्टैंट ट्यूबरकुलोसिस के लिए जेनोमिक्स एवं आर्टिफिशियल इंटैलिजेंस संचालित रैपिड डायग्नोस्टिक समाधान के लिए 10 लाख रु. का पुरस्कार दिया गया। अनुकई सॉल्यूशंस प्राईवेट लिमिटेड को दूसरा स्थान मिला। उन्हें एआई की मदद से अपने अभिनव ट्रैफिक मैनेजमेंट समाधान के लिए 6 लाख रु. का पुरस्कार दिया गया।
एगुआ वायरलेस सिस्टम्स प्राईवेट लिमिटेड को अपने आईओटी-आधारित समाधान के लिए 4 लाख रु. का तीसरा पुरस्कार दिया गया। इस समाधान द्वारा भवनों, ले-आउट एवं शहरों में जल वितरण, बिलिंग व लीकेज की पहचान को ऑटोमेट कर स्मार्ट जल प्रबंधन किया जाता है। 3 लाख रु. का चौथा पुरस्कार पैराक्लीट इमेज लैब्स प्राईवेट लिमिटेड को उनकी असिस्टेड डिवाईस के लिए दिया गया। यह डिवाईस नेत्रहीनों के लिए रीडर एवं एग्ज़ाम राईटर का काम करती है। शिल्पमिस टेक्नॉलॉजीज़ को 2 लाख रु. का पाँचवां पुरस्कार मिला। उनका प्लेटफॉर्म इमर्सिव एवं इंटरैक्टिव लर्निंग के लिए वर्चुअल रियलिटी/ऑग्मेंटेड रियलिटी कंटेंट क्रिएशन एवं डिस्कवरी सरल बनाता है। इसके अलावा आरोग्या एआई को 2 लाख रु. का विशेष महिला उद्यमी पुरस्कार भी दिया गया।


दीपक बागला, एमडी एवं सीईओ, इन्वेस्ट इंडिया ने कहा, ‘‘इन्वेस्ट इंडिया लंबे समय से स्टार्टअप्स को ज्यादा हासिल करने में मदद करता आया है। कॉर्पोरेट पार्टनर्स की मदद से हम स्टार्टअप्स का एक मजबूत नेटवर्क बना सकेंगे और उन्हें उद्यम के लिए तैयार कर सकेंगे। किफायती अभिनवता, जो भारतीय स्टार्टअप के परिवेश का मुख्य तत्व है, वह पूरी दुनिया में विभिन्न देशों की सामाजिक आर्थिक समस्याओं के लिए अनेक समाधान प्रदान करती है। भारत में उद्यमशीलता को प्रोत्साहित करने वाले सबसे बड़े फोरम के रूप में हमारे स्टेकहोल्डर्स के विस्तृत समुदाय ने प्रतिभाशाली उद्यमियों को सफल होने में तथा अपनी अभिनवता को लैब से बाहर निकालकर मूर्त रूप देने में मदद की।’’


शिवा शिवाराम, प्रेसिडेंट, टेक्नॉलॉजी एंड स्ट्रेट्जी, वेस्टर्न डिजिटल ने कहा, ‘‘स्टार्टअप की सफलता परिभाषित करने के लिए व्यक्ति को विज़न एवं स्ट्रेट्जी के ब्लॉक्स का निर्माण करना होगा एवं ईकोसिस्टम का उपयोग नए युग की अभिनवता के साथ करना होगा। हमने अपने फाईनलिस्ट्स में इन कुछ विशेषताओं को देखा। इस चुनौतीपूर्ण समय में टेक्नॉलॉजी ने हमारी जिंदगी को परिवर्तित कर एवं व्यवसाय पर ज्यादा सकारात्मक प्रभाव उत्पन्न कर ज्यादा महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। डेटा की वृद्धि तेजी से हो रही है और स्टार्टअप इनोवेशन में वृद्धि के साथ हमें डेटा इनोवेशन बाजार द्वारा और ज्यादा उन्नत समाधानों के विकसित होने की उम्मीद है, क्योंकि इसमें उद्यमशील परिवेश, निवेशक, कॉर्पोरेट, एकेडेमिया एवं सरकार एक ही मंच पर आए हैं।’’


सुप्रिया ढंडा, वाईस प्रेसिडेंट एवं इंडिया कंट्री मैनेजर, वेस्टर्न डिजिटल ने कहा, ‘‘वेस्टर्न डिजिटल स्थानीय प्रतिभा को सशक्त बनाने के लिए भारतीय स्टार्टअप ईकोसिस्टम के साथ अपने संबंध मजबूत करने में यकीन करता है। सभी समाधानों में भारत के सामने मौजूद चुनौतियों का समाधान करने का उत्साह देखने को मिला। लगभग 50 प्रतिशत आवेदन हैल्थकेयर एवं शिक्षा के क्षेत्र में आए थे तथा चुने गए आवेदनों में से लगभग एक तिहाई आवेदन स्मार्ट सिटीज़, स्मार्ट वीडियो, कनेक्टेड होम्स एवं परिवहन से संबंधित थे। डेटा इनोवेशन बाजार को इस साल शानदार प्रतिक्रिया मिली और आवेदकों की संख्या में हमें 85 प्रतिशत वृद्धि देखने को मिली। हम इंजीनियरिंग के विचारों को बढ़ावा देने और भारत के स्टार्टअप के परिवेश को प्रोत्साहित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।’’


डेटा इनोवेशन बाजार के 2020 संस्करण को कुल 963 आवेदन मिले और इसमें विभिन्न उद्योगों से प्रविष्टियां प्राप्त हुईं। वेस्टर्न डिजिटल ने अपने पार्टनर्स के साथ एक एक्सक्लुसिव प्लेटफॉर्म तैयार किया है, जो विद्यार्थियों एवं उभरते हुए उद्यमियों को स्टार्टअप ईकोसिस्टम में मुख्य स्टेकहोल्डर्स की सीधी पहुंच प्रदान करता है। डेटा इनोवेशन बाजार डेटा संचालित अभिनवता में आदर्श परिवर्तन को प्रेरित करने के लिए प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करने का एक मंच है।