कॉर्सिका से सरडेग्ना तक बोनिफेसियो चैनल को पार कर पिता-पुत्र की जोड़ी ने बनाया विश्व रिकॉर्ड


० योगेश भट्ट ० 

'नयी दिल्ली - प्रेस क्लब ऑफ इंडिया' ने  बोनिफेसियो चैनल को पार कर विश्व रिकॉर्ड बनाने वाली पिता-पुत्र जोड़ी, संजीव टोकस और अर्जुन टोकस को 'प्रेस क्लब ऑफ इंडिया’ के परिसर में वरिष्ठ पत्रकारों और गणमान्य लोगों की उपस्थिति में सम्मानित किया। भारतीय तैराक संजीव टोकस, एशिया मास्टर्स स्वर्ण पदक विजेता होने के साथ ही देश के लिए कई अन्य पदकों को भी अपने नाम कर चुके हैं। हाल ही में संजीव टोकस ने अपने 16 वर्षीय बेटे तैराक अर्जुन टोकस के साथ मिलकर  तैराकी के क्षेत्र में अपने नाम ऐसा पहला विश्व रिकॉर्ड तैराकी में कायम किया जिसकी चर्चा अब चारों तरफ है।
बता दें कि इस जोड़ी ने चुनौतीपूर्ण मौसम, हवाओं और बाधाओं के खिलाफ केवल पांच घंटे और तीन मिनट में कॉर्सिका, फ्रांस से सरडेग्ना, इटली तक बोनिफेसियो चैनल को सफलतापूर्वक पार किया। ऐसी विश्व विख्यात उपलब्धि हासिल करने वाली यह पूरी दुनिया में पहली पिता-पुत्र तैराक जोड़ी बन गई है।
अपनी इस उपलब्धि पर तैराक संजीव टोकस ने कहा, "यह मेरे लिए एक गर्व का विषय है कि मैंने अपने देश के नाम एक और विश्व रिकॉर्ड जोड़ दिया है। शुरुआती दिनों में इस तरह की तैराकी के बारे में सोचना एक कठिन कार्य था, लेकिन अपनी मेहनत और स्किल्स पर मुझे पूरा विश्वास था। जिसकी वजह से मैं अपने बेटे के साथ कुल 20 किलोमीटर खतरे से भरी इस बोनिफेसियो चैनल को पार कर पाया। इस दौरान खराब मौसम और समुद्र की खतरनाक लहरों के कारण कई बार जान का खतरा भी महसूस हुआ लेकिन देश के नाम कुछ करने के जज्बे को सर्वोपरि रखते हुए हम आगे बढ़ते गए"

पिता के साथ विश्व रिकॉर्ड बनाने के बाद तैराक अर्जुन टोकस ने कहा, " यह मेरे लिए किसी सपने से कम नहीं है। समुद्र में तैराकी करना और स्विमिंग पूल में तैराकी करना बहुत अंतर होता है। काफी खतरा था लेकिन मेरे पिता मेरे साथ थे, इससे बड़ी बात मेरे लिए और कुछ नहीं हो सकती थी। प्रेस क्लब ऑफ इंडिया’ के पूर्व प्रबंधन समिति के सदस्य विजय शंकर चतुर्वेदी ने इस जोड़ी को बधाई दी। साथ ही कहा कि यह दोनों हमारे देश के लिए गर्व हैं और कई पिता-पुत्र के लिए प्रेरणा भी। यह जोड़ी और आगे बढ़े और अर्जुन टोकस आगे चलकर देश के लिए ओलम्पिक में भी पदक जीतें। प्रेस क्लब ऑफ इंडिया’ के अध्यक्ष उमाकांत लखेड़ा ने फ्रांस में बोनाफिसियो चैनल को सफलतापूर्वक पार करने वाली इस पिता-पुत्र की तैराकी जोड़ी को ऐसा अनोखा पहला विश्व रिकॉर्ड स्थापित करने पर बधाई दी l

प्रेस क्लब ऑफ इंडिया' के वरिष्ठ सदस्य मनोज कुमार शर्मा ने देश को गर्वान्वित करने वाली पिता-पुत्र की तैराकी जोड़ी के स्वागत को लेकर खुशी जाहिर की। उनका कहना है कि यह देश के लिए गर्व का दिन है, यह जोड़ी सही मायने में उदाहरण है कि हम भारतीय दुनिया में किसी से भी कम नहीं हैं। नमह, पहलवान ने कहा कि "दिल्ली के मुख्यमंत्री और भारत के खेल मंत्री को ऐसे खिलाड़ियों को अनुदान देकर प्रोत्साहित करना चाहिए, ताकि देश के युवा और प्रतिभाएं भी निखर कर आगे आएं और देश का नाम रोशन करें

‘प्रेस क्लब ऑफ इंडिया’ और यमुना युवक केंद्र द्वारा बोनिफेसियो चैनल को पार कर विश्व रिकॉर्ड बनाने वाली पिता-पुत्र जोड़ी, संजीव और अर्जुन टोकस को ' मेडल , बुके, ट्रॉफी, तथा नमह फाऊंडेशन की ओर से 13, 13हजार रूपए के चैक देकर प्रेस क्लब ऑफ इंडिया’ के अध्यक्ष उमा कांत लखेड़ा और यमुना युवक केंद्र के संचालक अजय यादव ने सम्मानित किया

टिप्पणियाँ