स्वयं सहायता समूहों के लिए दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन

० इरफान राही ० 

नयी दिल्ली - दक्षिणी पश्चिमी दिल्ली जिलाधीश कार्यलय, कापसहेड़ा एवं राष्ट्रीय आजीविका मिशन दक्षिण पश्चिम दवारा 2 दिवसीय आजीविका कार्यशाला का आयोजन सभागार, दीनदयाल कॉलेज, द्वारका दिल्ली किया में आयोजित हुआ । इस आजीविका कार्यशाला मे राष्ट्रीय आजीविका मिशन दक्षिण पश्चिम जिले के अंतर्गत 150 स्वयं सहायता समहू के सदस्यों ने हिस्सा लिया और उन्हें राष्ट्रीय आजीविका मिशन की नीतियों और महत्व को बताया गया। कार्यक्रम का शुभआरम्भ एवं दीप प्रजलित जिलाधीश कापसहेड़ा श्री हेमंत कुमार (IAS), शील कांत शर्मा (SMM) , फादर बीजू संथापक बोस्को दिल्ली, DDU कॉलेज के प्रिंसिपल खेमचंद जैन, माधुरी वार्ष्णेय चैयरमेन भास्कराचार्य कॉलेज, मधुरकर वार्ष्णेय समाजसेवी, NCPI विभाग से शिवांग , मंथन आनंद दिल्ली सचिवालय द्वारा किया गया
कार्यक्रम की अध्यक्षता नवीन कोटिया (कम्यूनिटी ऑर्गनाइज NULM), रेनू अग्रवाल एवं सूरज कांत द्वारा करी गयी। विभाग की तरफ से रुक्मिणी CMM- NULM ने सभी अतिथियों का धन्यवाद किया साथ ही उनसे सहयोग की अपेक्षा भी करी गई। कार्यशाला में नवीन कोटिया जी ने सभी स्वयं सहायता समहू के सदस्यों को पांच सूत्रीय नियमो व राष्ट्रीय आजीविका मिशन की नीतियों व योजनाओं से अवगत कराया एवं किस प्रकार समहू से नारी शक्ति को बढ़ाने पर भी पर्यास किया जा रहा है । साथ ही साथ उन्हें स्वयं सहायता समहू से लाभांवित महिलाओ की बारे मे बताया जो समहू के जरिये अपने घर की आजीविका चला रही है।
नवीन कोटिया ने बताया किस प्रकार जिले की सामजिक संस्थाए सरकार के साथ मिलकर इस मिशन मे अपना योगदान दे रही है। कार्यक्रम में अनेकों संस्थाओं को इस कार्यक्रम से जोड़ा गया और उनको जिम्मेदारी दी गई जिसमें श्री रुचि अधिकारी (बोस्को दिल्ली ) द्वारा इस आयोजन को प्रयोजक के रूप सहयोग दिया गया। साथ ही संदीप गुडियाल एवं काशिफ सिराज , मंजू चौहान, सरिता भाटिया, कविता कुमार, भरत भूषण, लवलीन , जितेंद्र , राजमणि , श्रीमती हिमांशु,  रूपा उपध्याय, नेहा , रुमिला , शक्ति शर्मा , अशोक प्रजापति, प्रीत सिंह घुमनहेड़ा , इरफान राही सैफी आदि लोगो ने सहयोग दिया। कार्यशाला में जिले की लगभग 270 महिलाओ ने हिस्सा लिया ।

 विमल गौतम (LDM- SBI ) और रंजना रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया द्वारा बैंको की नीतिया एवं ऑनलाइन हो रहे फ्रोड से बचाव के बारे मे सभी समहू को जानकारी दी ।  राकेश पांडेय (KVIC खादी ग्राम उधोग )द्वारा बताया गया किस प्रकार समहू की महिलाये ट्रेनिंग ले कर खुद को आत्मनिर्भर बना सकती है ।कार्यक्रम के अंत मे फादर बीजू दिल्ली बोस्को एवं रुचि अधिकारी द्वारा समहू के अध्यक्षों को लेखा जोखा रजिस्टर एवं राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन की पुस्तक उपहार स्वरूप भेट की गयी।

टिप्पणियाँ