उदयपुर की दुर्भाग्यपूर्ण घटना में शामिल आतंकवादी के भाजपा एवं भाजपा नेताओं से सम्बद्धता की जानकारी सामने आई

० संवाददाता द्वारा ० 

जयपुर । भाजपा की केन्द्र सरकार के शासन में पूरे देश में भय का महौल बना हुआ है तथा आमजन सुरक्षा को लेकर आशांकित एवं भयभीत है। उदयपुर की दुर्भाग्यपूर्ण घटना में शामिल आतंकवादी के भाजपा एवं भाजपा नेताओं से सम्बद्धता की जानकारी सामने आई है। इसी प्रकार जम्मू में पकड़ा गया आतंकी भाजपा का पदाधिकारी निकला है। इन घटनाओं की जाँच एनआईए को करनी चाहिए तथा 05 जुलाई को महानिदेशक, राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण दिनकर गुप्ता को जो पत्र लिखकर भाजपा नेताओं एवं आतंकवादियों के संबंधों की वृहद जाँच करने हेतु मांग की है, का संज्ञान लेकर एनआईए को देश के समक्ष सच्चाई लानी चाहिये । 
उक्त विचार राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक गोविन्द सिंह डोटासरा ने प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय, जयपुर पर आयोजित प्रेसवार्ता को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किये। डोटासरा ने कहा कि भाजपा के नेता संवैधानिक संस्थाओं का दुरूपयोग विपक्ष के नेताओं को प्रताड़ित करने के लिये कर रहे हैं, पूरे देश में शंका का माहौल है। उन्होंने कहा कि भाजपा की केन्द्र सरकार लोकतंत्र को मजबूत करने की बजाए कमजोर करने के कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा एवं हाल ही में पकड़े गये आतंकवादियों के आपसी गठजोड़ को लेकर एनआईए को निष्पक्षता से जाँच कर वास्तविक तथ्य जनता के समक्ष रखने चाहिए।

टिप्पणियाँ