फिल्म प्रचार में नंबर वन है संजय भूषण पटियाला


० आरिफ़ जमाल ० 

संजय भूषण पटना में पत्रकारिता के क्षेत्र में स्ट्रगल कर रहे थे, लेकिन इसके बाद उन्होंने मुंबई जाने का मन बना लिया और चले गए मुंबई। यहां भी उन्होंने बेहद स्ट्रगल किया, जिसका नतीजा आज सबके सामने है कि संजय भूषण सबसे व्यस्त और रिजल्ट डिलीवर करने वाले विश्वनिय पीआरओ हैं। जो आज करोड़ो के मालिक बन गए है और प्राइवेट जेट से यात्रा करते हैं। 

 मुंबई
बॉलीवुड और भोजपुरी सिने उद्योग में फ़िल्म प्रचारक संजय भूषण पटियाला आज के दिनों में नम्बर 1 पीआरओ हैं, जो अपने बेहतर जनसंपर्क स्ट्रेटजी और प्लानिंग से किसी भी फ़िल्म या फिर ब्राण्ड को लोगों तक पहुंचाने में माहिर हैं। रवि किशन हो या मनोज तिवारी, पवन सिंह, निरहुआ, खेसारीलाल यादव,प्रदीप पांडेय चिंटू ,अमरीश सिंह ,प्रिंस सिंह राजपूत ,रवि यादव ,प्रेम सिंह ,अक्षरा सिंह, गुंजन पंत ,रानी चटर्जी काजल राघवनी, पाखी हेगड़े, जैसे दिग्गज कलाकारों के लिए पीआर का काम कर चुके संजय भूषण पटियाला पीआर इंडस्ट्री में आज किसी पहचान के मोहताज नहीं। या यूं कहें कि संजय को फ़िल्म फ़िल्म पीआर के क्षेत्र में सबों की पहली पसंद हैं।

लेकिन क्या यह संजय के लिए आसान था? इस सवाल का जवाब है, बिल्कुल नहीं। क्योंकि संजय एक साधारण माध्यम वर्गी परिवार से आते हैं, जहां से मायानगरी में इस मुकाम के बारे तब कोई जानता भी नहीं था, जब संजय भूषण पटियाला महज 500 रुपये लेकर मुंबई के लिए ट्रेन पटना से पकड़ ली थी। इससे पहले संजय भूषण पटना में पत्रकारिता के क्षेत्र में स्ट्रगल कर रहे थे, लेकिन इसके बाद उन्होंने मुंबई जाने का मन बना लिया और चले गए मुंबई। यहां भी उन्होंने बेहद स्ट्रगल किया, जिसका नतीजा आज सबके सामने है कि संजय भूषण सबसे व्यस्त और रिजल्ट डिलीवर करने वाले विश्वनिय पीआरओ हैं। जो आज करोड़ो के मालिक बन गए है और प्राइवेट जेट से यात्रा करते हैं। भोजपुरी सिने इंडस्ट्री में यह मुकाम आज तक किसी पीआरओ को नहीं मिला है। इसके लिए संजय बारम्बार ईश्वर और माता पिता का आभार प्रकट करते नज़र आ जाते हैं।

 संजय भूषण पटियाला उत्तर प्रदेश के ऐतिहासिक तीर्थ स्थल शहर प्रयागराज ( इलाहाबाद ) के छोटे से गाँव ढेरहन के रहने वाले हैं, जिनके पिता का सपना था कि वो सरकारी महकमे में अच्छे पदों पर अपनी सेवा दे। लेकिन संजय का मन और रुझान कहीं और था, सो उसने पत्रकारिता को चुना। बाद में वो फ़िल्म प्रचारक का काम करने लगे और आज उन्होंने अपने पीआर के हुनर से कई बॉलीवुड और भोजपुरी फ़िल्मी कलाकारों और फिल्मों का मीडिया व जनता से सम्पर्क स्थापित करने में सफलता पाई।

इसका नतीजा यह हुआ कि साल दर साल उनकी डिमांड फिल्म इंडस्ट्री में बढ़ती जा रही है। इतना ही। नहीं, संजय आज के दिनों में भोजपुरी के साथ - साथ बॉलीवुड ,राजस्थानी,मराठी,गुजराती और पंजाबी सिनेमा के लिए भी सराहनीय कार्य किये हैं। उनकी इसी कार्य कुशलता को देख कर सिनेमा के बाहर के लोग भी उनसे पीआर एक्टिविटी के लिए संपर्क करते नज़र आते हैं। तभी अब तक संजय भूषण को कई बेस्ट पीआरओ अवार्ड मिल चुके है जैसे , ग्रीन सिनेमा अवार्ड, भोजपुरी सिनेमा स्क्रीन & स्टेज अवार्ड्स ,दादा साहब फाल्के आइकन अवार्ड, सबरंग अवार्ड औऱ बिफा अवार्ड मिल चुका है। आज के समय में संजय भोजपुरी के सबसे व्यस्त पीआरओ हैं, 

जिनके पास इस साल लंबी फ़िल्मों की कतार है। संजय भूषण पटियाला बॉलीवुड में शाहरुख खान,अक्षय कुमार ,गोविंदा, वीणा मल्लिक ,नवाज़ुद्दीन सिद्दीक ,संजय मिश्रा ,सारा लॉरेन ,कृष्ण अभिषेक ,सुनील पाल, दिलीप सेन ,शक्ति कपूर ,राजा मुराद ,अली खान आदि कलाकारों की फिल्मे और इवेंट कर चके है।

टिप्पणियाँ