गढ़वाली मूल के 160 छात्र -छात्राओं जिन्होंने 90% से अधिक अंक प्राप्त सम्मानित

० योगेश भट्ट ० 
नयी दिल्ली - गढ़वाल हितैषिणी सभा दिल्ली द्वारा गढ़वाल भवन में अपने शताब्दी वर्ष आयोजनों के क्रम में "वीरचन्द्रसिंह गढ़वाली मेधावी छात्र सम्मान का आयोजन किया । जिसमें दिल्ली एन सी आर में रह रहे गढ़वाली मूल के 160 छात्र -छात्राओं जिन्होंने 90%से अधिक अंक प्राप्त किये को सम्मानित किया गया ,सम्मान स्वरूप उन्हें शताब्दी वर्ष शुभंकर के स्मृति चिन्ह,प्रशस्ति पत्र एवं नकद राशि प्रदान की गई ।
कार्यक्रम का शुभारम्भ वर्तमान अध्यक्ष अजयसिंह बिष्ट एवं कार्यकारिणी द्वारा गढ़वाली के चित्र पर पुष्पांजली से किया गया साथ ही मुख्य अतिथी धनसिंह रावत शिक्षा एवं स्वास्थ्य मंत्री उत्तराखण्ड वीरसिंह पंवार पूर्व तेयरमैंन स्थायी समिती ई॰डी॰एम॰सी , जीतराम भट्ट एवं गणमान्यों द्वारा दीप प्रज्वलन कर किया गया ।
भव्य कार्यक्रम में गढ़वाल हितैषिणी सभा कार्यकारिणी के साथ साथ सलाहकार मण्डल समाज के गणमान्य लोगों समाजसेवियों व पत्रकारों ने भी प्रतिभाग किया , कार्यक्रम के बीच में वीरचन्द्र सिंह गढ़वाली के जीवन पर अजयसिंह बिष्ट द्वारा ,यू एफ एन आई हेतु बनायी डाक्यूमेंट्री भी गढ़वाल भवन के खचाखच भरे भागीरथी हाल व प्रांगण में उपस्थित सैकड़ों छात्र -छात्राओं व उनके को साथ आये अभिभावकों को दिखायी गयी ।दूसरी पाली में मुख्य अतिथी मंगेश घिल्डियाल आई.ए.एस द्वारा 12वीं कक्षा के छात्रों को पुरूष्कृत किया व अपने सम्बोधन में सभी से अपने पैतृक गांव से किसी न किसी प्रकार से जुड़ने का आह्वान किया साथ ही गांव की विषम प्रस्थिती में रह रहे होनहार बच्चों को सहयोग करने की भी अपील की ।
कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथी के रूप में दिल्ली सरकार के अवर सचिव कुलानन्द जोशी ,एडवोकेट एवं समाज सेवी संजय दरमोड़ा, ले॰जनरल अरविंदसिंह रावत (पूर्व), सुभाष भडाना पूर्व डिप्टी मेयर एस॰डी॰एम॰सी जीतराम भट्ट सचिव गढ़वाली कुमाॅऊनी जौनसारी अकादमी दिल्ली सरकार, सतीश उपाध्याय वायस चेयरमैन एन॰डी॰एम॰सी, डा॰ कुलदीप भन्डारी उपाध्यक्ष गढ़वाली कुमाऊॅनी जौनसारी अकादमी दिल्ली सरकार , ए.सी.पी हरीश कुकरेती, ललितमोहन ढौंडियाल पूर्व फैकल्टी टेलिकाॅम टेक्नोलोजी की गरिमामयी उपस्थिति ने कार्यक्रम को सार्थक एवं भव्यतम बनाया ।गढ़वाल हितैषिणी सभा अपने नौनिहालों के सफल भविष्य की कामना करती है साथ ही भविष्य में सामाजिक दायित्वों के निर्वाहन हेतु आग्रह करती है ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जयपुर में 17 प्रदेशों के प्रतिनिधियो ने प्रभावी शिक्षा प्रणाली तथा नई शिक्षा नीति पर मंथन किया

"मुंशी प्रेमचंद के कथा -साहित्य का नारी -विमर्श"

इंडियन फेडरेशन ऑफ जनरल इंश्योरेंस एजेंट एसोसिएशन का राजस्थान रीजन का वार्षिक अभिकर्ता सम्मेलन

हिंदी के बदलते स्वरूप के साथ खुद को भी बदलने की तरफ जोर

अर्न्तराष्ट्रीय इस्सयोग समाज के साधकों द्वारा अखंड साधना भजन