आईएचजीएफ-दिल्ली मेला ऑटम'-2022 14 से 18 अक्टूबर तक ग्रेटर नोएडा के इंडिया एक्सपो सेंटर एंड मार्ट में

० योगेश भट्ट ०
नई दिल्ली- दुनिया के सबसे बड़े हस्तशिल्प मेलों में से एक आईएचजीएफ-दिल्ली मेला का 54 वां संस्करण यानी आईएचजीएफ-दिल्ली मेला ऑटम'2022 इस बार 14-18 अक्टूबर'2022 तक आयोजित किया जाएगा। अपने व्यवसाय को विस्तार देने के लिए मेले से जुड़े सभी हितधारक - प्रतिभागी और आगंतुक इस मेगा सोर्सिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। यह मेला 14 से 18 अक्टूबर 2022 तक ग्रेटर नोएडा के इंडिया एक्सपो सेंटर एंड मार्ट में आयोजित होगा। यह मेला विदेशी खरीदारों और सोर्सिंग पेशेवरों के साथ-साथ बड़े घरेलू वॉल्यूम खुदरा खरीदारों के लिए एक बड़े अवसर के तौर पर आयोजित होगा।

आईएचजीएफ मेला समिति-हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद (ईपीसीएच) ने अपनी बैठक में अवधेश अग्रवाल को आईएचजीएफ दिल्ली मेला ऑटम स्वागत समिति'2022 का अध्यक्ष नामित किया है। अवधेश अग्रवाल, मुरादाबाद, उत्तर प्रदेश के एक प्रमुख हस्तशिल्प निर्यातक हैं। वे पिछले 25 वर्षों से इस व्यवसाय का प्रमुख नाम हैं। वह श्री साई डी आर्ट का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं और ईपीसीएच की प्रशासन समिति के सह-चयनित सदस्यों में से एक होने के साथ ही मुरादाबाद हस्तशिल्प निर्यातक संघ के महासचिव भी हैं। अग्रवाल लड़कियों की शिक्षा के लिए सामाजिक कार्यों में सक्रिय रूप से लगे हुए हैं और मुरादाबाद, यूपी में कारीगरों की शिक्षा और स्वास्थ्य के लिए काम कर रहे हैं।

 इस अवसर पर अवधेश अग्रवाल ने बताया कि पांच दिवसीय मेले में देश भर के हस्तशिल्प निर्यातकों के स्थायी मार्ट सहित 3000 लोगों को एक छत के नीचे घर, जीवन शैली, फैशन, वस्त्र और फर्नीचर उत्पादों को लाया जाता है। श्री अग्रवाल ने अपनी बात को विस्तार देते हुए बताया कि मेला अपनी तरह का एक अनूठा आयोजन है इस बार के संस्करण में 2000 से अधिक नए उत्पादों और 300 से ज्यादा डिज़ाइन अभिव्यक्तियों का विस्तृत प्रदर्शन किया जाएगा। ये उत्पाद और डिजाइन 14 उत्पाद श्रेणियों जैसे हाउसवेयर, होम फर्निशिंग, फर्नीचर, उपहार और सजावट, लैंप और लाइटिंग, क्रिसमस और फेस्टिव डेकोर, फैशन ज्वैलरी और एक्सेसरीज, 

स्पा और वेलनेस, कार्पेट और रग्स, बाथरूम एक्सेसरीज, गार्डन एक्सेसरीज, एजुकेशनल टॉय एंड गेम्स, हैंडमेड पेपर प्रोडक्ट्स और स्टेशनरी और लेदर बैग में विस्तारित हैं। प्रदर्शनी में इंडिया एक्सपो सेंटर हॉल और मार्ट क्षेत्र में शिल्प निर्माण केंद्रों और समूहों का जोरदार प्रतिनिधित्व होगा। इससे यह आयोजन यह एक व्यापक सोर्सिंग गंतव्य बन जाएगा।ईपीसीएच के अध्यक्ष श्री राज कुमार मल्होत्रा ने बताया कि मार्च/अप्रैल 2022 में भौतिक मोड में संपन्न आईएचजीएफ दिल्ली मेले के 53वें संस्करण की शानदार सफलता के बाद, आईएचजीएफ के 54वें संस्करण को विदेशी आगंतुकों से प्राप्त फीडबैक के अनुसार अच्छी प्रतिक्रिया मिलने की संभावना है।

ईपीसीएच के महानिदेशक राकेश कुमार ने कहा कि अवधेश अग्रवाल अपने व्यापक अनुभव और ज्ञान के साथ अपने बहुमूल्य इनपुट से इस विश्व प्रसिद्ध आईएचजीएफ दिल्ली मेले को मजबूत करेंगे और इसके परिणामस्वरूप मेले के 54वें संस्करण का सफल आयोजन होगा।ईपीसीएच दुनिया भर के विभिन्न देशों में भारतीय हस्तशिल्प निर्यात को बढ़ावा देने और उच्च गुणवत्ता वाले हस्तशिल्प उत्पादों और सेवाओं के एक विश्वस�

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जयपुर में 17 प्रदेशों के प्रतिनिधियो ने प्रभावी शिक्षा प्रणाली तथा नई शिक्षा नीति पर मंथन किया

"मुंशी प्रेमचंद के कथा -साहित्य का नारी -विमर्श"

इंडियन फेडरेशन ऑफ जनरल इंश्योरेंस एजेंट एसोसिएशन का राजस्थान रीजन का वार्षिक अभिकर्ता सम्मेलन

हिंदी के बदलते स्वरूप के साथ खुद को भी बदलने की तरफ जोर

अर्न्तराष्ट्रीय इस्सयोग समाज के साधकों द्वारा अखंड साधना भजन