भारत और विदेशों के चैंपियन गोल्फर्स 400,000 डॉलर की पुरस्कार राशि के लिए करेंगे मुकाबला

० योगेश भट्ट ० 
नई दिल्ली : पिछले चैंपियंस और लेडीज यूरोपियन टूर (एलईटी) के मौजूदा विजेता हीरो विमेंस इंडियन ओपन 2022 में हिस्सा लेने के लिए तैयार हैं। यह इवेंट 2019 के बाद पहली बार एक्शन में लौटेगा। इस साल इस इवेंट के लिए 400,000 अमेरिकी डालर की पुरस्कार राशि रखी गई है। यह इवेंट 20-23 अक्टूबर, 2022 के बीच गुरुग्राम के डीएलएफ गोल्फ एंड कंट्री क्लब में आयोजित किया जाएगा।  इस साल कई बड़े सितारों ने इसमें भाग लेने की पुष्टि कर दी है।  पांच चैंपियन पहले ही अपनी एंट्रीज भेज चुके हैं और इसके अलावा कई अन्य के आने की संभावना है। इसके अतिरिक्त, 2022 और 2021 सीजन में कई विजेताओं ने इस इवेंट में हिस्सा लेना सुनिश्चित किया है। कुल मिलाकर इस इवेंट में दुनिया भर के 20 देशों के 114 गोल्फर भाग लेंगी।
इसमें हिस्सा लेने वाली खिलाड़ियों में भारत की पहली और एकमात्र हीरो महिला इंडियन ओपन विजेता अदिति अशोक भी शामिल हैं, जो अब एलपीजीए में प्रोमोट हो चुकी हैं। अदिति ने साल 2021 में 2020 टोक्यो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व किया, जहां वह एक स्ट्रोक के कारण पदक से चूक गईं थीं। वह अभी भी हीरो विमेंस इंडियन ओपन को ख़ास मानती हैं, क्योंकि यह एक ऐसा आयोजन है जो उसने अपने शुरुवाती दिनों से खेला है।  इस साल इस इवेंट के लिए 400,000 डॉलर की पुरस्कार राशि रखी गई है। साथ ही यह इवेंट कई खिलाड़ियों को 2023 के लिए अपनी स्थिति सुरक्षित करने या अगले सीजन से पहले अपनी रैंकिंग में सुधार करने का अवसर प्रदान करता है।

अदिति के नेतृत्व में सभी शीर्ष भारतीयों ने अपनी भागीदारी की पुष्टि की है। लाइन-अप में त्वेसा मलिक शामिल हैं, जो पिछले सीजन में लेडीज यूरोपियन टूर ऑर्डर ऑफ मेरिट में 19वें स्थान पर थीं। 2019 साउथ अफ्रीकन ओपन चैंपियन दीक्षा डागर और 2022 डीफलिंपिक गोल्ड मेडलिस्ट अमनदीप द्राल और वाणी कपूर भी यहां शिरकत करती नजर आएंगी। इस इवेंट में इन सबके अलावा रिद्धिमा दिलावरी, गौरिका बिश्नोई और नेहा त्रिपाठी हैं भी हिस्सा लेती नजर आएंगी।

हीरो मोटोकॉर्प के चेयरमैन और सीईओ डॉ. पवन मुंजाल ने कहा, "हीरो विमेंस इंडियन ओपन एशिया में एक प्रमुख इवेंट है और इस क्षेत्र में सबसे बड़े और सबसे लोकप्रिय गोल्फ टूर्नामेंटों में से एक है। हमें वापस आकर खुशी हो रही है, और मुझे यह देखकर खुशी हो रही है कि टूर के तहत कुछ सबसे प्रतिभाशाली नाम भारत में होंगे। हमारी भारतीय महिला गोल्फर भी अंतरराष्ट्रीय दौरों में कुछ शानदार प्रदर्शन के साथ तेजी से आगे बढ़ रही हैं, और यह हीरो विमेंस इंडियन ओपन के सबसे रोमांचक संस्करणों में से एक होने का दावा करता है। मैं लेडीज यूरोपियन टूर और विमेंस गोल्फ एसोसिएशन ऑफ इंडिया को भी इस इवेंट को लेकर निरंतर समर्थन के लिए धन्यवाद देता हूं।”

जिन पूर्व चैंपियनों ने अपनी प्रविष्टियां भेजी हैं, उनमें 2019 की चैंपियन क्रिस्टीन वुल्फ भी शामिल हैं। साथ ही 2018 विजेता बैकी मोर्गन; 2017 विजेता केमिली शेवेलियर; 2016 की चैंपियन अदिति अशोक और 2011 की विजेता कैरोलिन हेडवाल का भी नाम इसमें शामिल है।  इवेंट 2022 सीजन के कई विजेताओं से भरा हुआ है, जिसमें इस सीजन की सबसे सफल सितारों में से एकलिन ग्रांट का नाम प्रमुख है, जिन्होंने लेडीज यूरोपियन टूर पर चार बार और दक्षिण अफ्रीका में सनशाइन टूर खिताब पर तीन बार कब्जा किया है।
2022 के अन्य विजेताओं में ऐनी चार्लोट मोरा (आलैंड 100 लेडीज़ ओपन 2022), टिया कोविस्टो (जबरा लेडीज ओपन), एना पेलेज (मैड्रिड लेडीज ओपन) और मेघन मैकलारेन (ऑस्ट्रेलियन लेडीज क्लासिक - बोनविले) शामिल हैं।

इंडियन ओपन गोल्फ, जो पिछले कुछ वर्षों में तेजी से बढ़ रही है, में प्रणवी उर्स जैसे युवा सितारों का उदय हुआ है, जिन्होंने 12 घरेलू इवेंट्स में पांच बार जीत हासिल की है। इससे उभरने वाली अन्य खिलाड़ियों में हिताशी बख्शी, जाह्नवी बख्शी, सेहर अटवाल और स्नेहा सिंह भी शामिल हैं, जो घरेरू फैंस को मंत्रमुग्ध करने की क्षमता रखती हैं। इंडियन विमेंस गोल्फ एसोसिएशन की प्रमुख कविता सिंह ने कहा, "यह वास्तव में खुशी की बात है कि हम आज हीरो विमेंस इंडियन ओपन के एक और संस्करण के आयोजन की दहलीज पर खड़े हैं। पिछले ढाई वर्षों में दुनिया ने जिन चुनौतियों का सामना किया है, उनके साथ यह देखना वास्तव में राहत की बात है कि खराब समय अब बीत गया है। WGAI एक बार फिर LET के खिलाड़ियों और अधिकारियों का स्वागत करने के लिए उत्सुक है। आज की दुनिया 2019 से अलग है, जब क्रिस्टीन वुल्फ ने ट्रॉफी अपने नाम की थी, और इस बीच की अवधि के दौरान भारतीय महिला पेशेवर गोल्फ की ताकत में तेजी से वृद्धि हुई है। 

मुझे यकीन है कि हमारे भारतीय खिलाड़ी टूर्नामेंट में मजबूत दावेदार बनने जा रहे हैं और हम प्रतियोगिता को देखने के लिए अब और इंतजार नहीं कर सकते। इस कठिन समय में हमारे साथ खड़े रहने के लिए डब्ल्यूजीएआई की ओर से हीरो मोटोकॉर्प और डॉ. पवन मुंजाल को बहुत-बहुत धन्यवाद।”  लेडीज यूरोपियन टूर की सीईओ एलेक्जेंड्रा अरमास ने कहा, “एलईटी हीरो विमेंस इंडियन ओपन का एक सम्मानित भागीदार है और हमारे खिलाड़ी 2019 के बाद पहली बार शानदार डीएलएफ गोल्फ एंड कंट्री क्लब में इवेंट में खेलने के लिए लौट रहे हैं। इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट को फिर से चलाना हमारे लिए बेहद महत्वपूर्ण है। सभी अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के लिए प्रथम श्रेणी का प्रतिस्पर्धी अवसर प्रदान करने के साथ-साथ, यह भारतीय खिलाड़ियों को टूर पर सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के खिलाफ खुद को परखने में सक्षम बनाता है और अगली पीढ़ी को अपने जुनून को विकसित करने के लिए प्रेरित करने में मदद करता है। मैं डॉ. पवन मुंजाल, श्रीमती कविता सिंह और श्रीमती चंपिका सयाल और साथ ही साथ श्री करण बिंद्रा और डीएलएफ के पूरे स्टाफ को उनके निरंतर समर्थन के लिए धन्यवाद देना चाहती हूं।”

राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली से सटे गुरुग्राम में स्थित डीएलएफ गोल्फ एंड कंट्री क्लब, जिसे अक्सर 'भारतीय महिला गोल्फ का घर' कहा जाता है, एक बार फिर इस इवेंट की मेजबानी को तैयार है। हाल ही में इस सप्ताह की शुरुआत में घरेलू डब्ल्यूजीएआई कार्यक्रम में यहां खेलने वाले गोल्फरों के अनुसार यह कोर्स शानदार स्वरूप में है और यह बात हीरो विमेंस इंडियन ओपन के लिए एक रोमांचक चुनौती साबित होगी। हीरो विमेंस इंडियन ओपन का पहली बार 2007 में आयोजन किया गया था। 2010 से यह लेडीज यूरोपियन टूर का हिस्सा रहा है और साथ ही हीरो मोटोकॉर्प द्वारा स्पांसर्ड है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जयपुर में 17 प्रदेशों के प्रतिनिधियो ने प्रभावी शिक्षा प्रणाली तथा नई शिक्षा नीति पर मंथन किया

"मुंशी प्रेमचंद के कथा -साहित्य का नारी -विमर्श"

इंडियन फेडरेशन ऑफ जनरल इंश्योरेंस एजेंट एसोसिएशन का राजस्थान रीजन का वार्षिक अभिकर्ता सम्मेलन

हिंदी के बदलते स्वरूप के साथ खुद को भी बदलने की तरफ जोर

अर्न्तराष्ट्रीय इस्सयोग समाज के साधकों द्वारा अखंड साधना भजन