दूर से नमस्ते, टेलीविज़न सीरीज़ जो महामारी के बाद सेहतमंद व्यवहार को देगी बढ़ावा

० नूरुद्दीन अंसारी ० 
नई दिल्लीदूरदर्शन की प्रतिबद्धता पर बात करते हुए मयंक अग्रवाल, सीईओ, प्रसार भारती एवं डीजी दूरदर्शन ने कहा, ‘‘दूर से नमस्ते आज के दौर का प्रासंगिक शो है। भारत के सार्वजनिक प्रसारक के रूप में हमें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि इस तरह के शो बड़ी संख्या में आम लोगों तक पहुंचें। यूनिसेफ के साथ साझेदारी करते हुए हमें बेहद खुशी का अनुभव हो रहा है। हमें उम्मीद है कि आने वाले समय में हम सार्वजनिक कल्याण के लिए एक साथ मिलकर काम करते रहेंगे।’’ यूएस एजेन्सी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेन्ट (यूएसएआईडी) और यूनिसेफ ने नई दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान दूरदर्शन और यूट्यूब सीरीज़ दूर से नमस्ते का औपचारिक लॉन्च किया।
दूर से नमस्ते, एक काल्पनिक हिंदी सीरीज़ है जिसे मनोरंजक-शैक्षणिक फोर्मेट में तैयार किया गया है। यह सीरीज़ महामारी के बाद की दुनिया में चुनौतियों पर रोशनी डालती है और सेहतमंद व्यवहार को बढ़ावा देती है। कोविड-19 वैक्सीन को बढ़ावा देने तथा कोविड-19 अनुकूल व्यवहार जारी रखने का संदेश देने वाली इस सीरीज़ में बच्चों एवं युवाओं के मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े मुद्दों पर सुझाव दिए गए हैं। साथ ही यह सीरीज़ बच्चों को भी सेहतमंद व्यवहार के लिए प्रोत्साहित करती है जो महामारी के बाद फिर से स्कूल लौट रहे हैं।
अपर सचिव एवं मिशन डायरेक्टर (राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन), मिस रोली सिंह एवं संयुक्त सचिव, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय मिस नीरजा शेखर उद्घाटन के अवसर पर मौजूद थे। मिस सिंह ने कोविड-19 महामारी के बारे में बात करते हुए महामारी के बाद की दुनिया में जीवन के नए तरीके पर रोशनी डाली। मिस शेखर ने स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मास मीडिया एवं संचार की भूमिका पर विचार प्रस्तुत किए। शैक्षणिक-मनोरंजक सीरीज़ पर अपने विचार व्यक्त करते हुए मिस वीना रेड्डी, मिशन डायरेक्टर, यूएसएआईडी इंडिया ने कहा, ‘‘कोविड-19 की कोई सीमा नहीं है और जब तक हर कोई सुरक्षित नहीं है, तब तक कोई भी सुरक्षित नहीं है। यूएसएआईडी के लिए गर्व की बात है कि इसे दूर से नमस्ते को समर्थन देने का मौका मिला है जो न्यू नॉर्मल के दौर में नई चुनौतियों एवं अच्छी सेहत के तरीकों पर रोशनी डालती है।’’

व्यवहार में बदलाव के लिए मास मीडिया के महत्व पर रोशनी डालते हुए अर्जन डे वाग्ट, युनिसेफ इंडिया के डिप्टी-रिप्रेज़ेन्टेटिव ने कहा, ‘‘भारत में वैज्ञानिक अध्ययनों से साफ हो गया है कि टेलीविज़न लोगों के व्यवहार में बदलाव लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। महामारी के दौरान हमने इसकी क्षमता को देखा है। मुझे खुशी है कि दूर से नमस्ते के लॉन्च के लिए मुझे आपके साथ जुड़ने का मौका मिला है, जो निश्चित रूप से मनोरंजन के साथ-साथ लोगों को जागरुक भी बनाएगी। उन्हें बताएगी कि किस तरह बच्चों को मनौवैज्ञानिक सहयोग दिया जा सकता है, युवाओं को मानसिक रोगों से बचाया जा सकता है और महामारी के बाद फिर से स्कूल लौट रहे बच्चों को कैसे सुरक्षित बनाए रखा जा सकता है।’’

कार्यक्रम के दौरान थिएटर फिल्म दूर से नमस्ते की स्क्रीनिंग की गई। इसकी कहानी ने दर्शकों को वैक्सीन लगवाने और कोविड अनुकूल व्यवहार जारी रखने का संदेश दिया। कार्यक्रम के दौरान मुख्य अभिनेताओं अंकित रायज़ादा, डॉली चावला और अतुल पारचुरे ने एक पैनल चर्चा में भी हिस्सा लिया, जिसका संचालन क्रिएटिव टीम से मानव रथ और मनीष सिंह ने किया था।सीरीज़ का प्रोडक्शन राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार विजेता एवं पद्मश्री नील माधव पांडा के प्रोडक्शन हाउस एल्लेआनोरा इमेजेज़ प्रा. लिमिटेड द्वारा किया गया है। एड्युटेनमेन्ट सीरीज़ दूर से नमस्ते का प्रसारण डीडी नेशनल पर प्राइम टाईम स्लॉट में किया जा रहा है। शो का प्रसारण हर रविवार दोपहर 11 से 12 बजे के बीच होता है और शनिवार शाम 6-7 बजे इसका रिपीट टेलीकास्ट होता है। शो दूर से नमस्ते यूट्यूब चैनल पर भी उपलब्ध है।

अभिनेताओं के बारे में
अंकित रायज़ादाः अंकित ने दूर से नमस्ते में मुख्य भुमिका निभाई है। लोकप्रिय टीवी अभिनेता, जो जोधा अकबर और ये रिश्ता क्या कहलाता है जैसे शोज़ में काम कर चुके हैं। अंकित ने सीरीज़ में कोविड हीरो विशु की भूमिका निभाई है, जो अपने पड़ौसियों की समस्याओं को हल करने में मदद करता है। बुजु़र्गो के लिए स्वयंसेवक की भूमिका निभाता और महामारी के चरम के दौरान खुद संक्रमित हो जाता है। डॉली चावलाः डॉली ने शो दूर से नमस्ते में गीत की भूमिका निभाई है, एक मदमस्त, और करियर के प्रति सजग लड़की जो महिलाओं को अपने सपने पूरे करने के लिए प्रेरित करती है। डॉली ने ससुराल सिमर का, जिंदगी न मेरे घर आना, थपकी प्यार की जैसे शोज़ में मुख्य भुमिका निभाई है।

अतुल परचुरेः अतुल जाने-माने भारतीय, फिल्म, टीवी और थिएटर कलाकार हैं। उन्हें मराठी और बॉलीवुड फिल्मों में कॉमेडी रोल्स के लिए जाना जाता है। दो दशकों के करियर में वे लोकप्रिय कपिल शर्मा शो, जागो मोहन जागो, आरके लक्ष्मण की दुनिया में काम कर चुके हैं।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जयपुर में 17 प्रदेशों के प्रतिनिधियो ने प्रभावी शिक्षा प्रणाली तथा नई शिक्षा नीति पर मंथन किया

"मुंशी प्रेमचंद के कथा -साहित्य का नारी -विमर्श"

इंडियन फेडरेशन ऑफ जनरल इंश्योरेंस एजेंट एसोसिएशन का राजस्थान रीजन का वार्षिक अभिकर्ता सम्मेलन

हिंदी के बदलते स्वरूप के साथ खुद को भी बदलने की तरफ जोर

अर्न्तराष्ट्रीय इस्सयोग समाज के साधकों द्वारा अखंड साधना भजन