केन्द्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय में सरल संस्कृत अनुष्ठान समिति बनायी गयी

० योगेश भट्ट ० 
नयी दिल्ली - विश्वविद्यालय अनुदान आयोग(यूजीसी) के नये नियम के आलोक में एक ही साथ दो सत्रों में नामांकन के प्रावधान को भी अंगीकार किया गया है ,ताकि संस्कृत के छात्र छात्राओं को भी अधिक से अधिक उपाधि , ज्ञान प्राप्ति और जीवनवृत्ति के अवसर मिल सके । इस नूतन पाठ्यक्रम के अन्तर्गत कौशल विकास तथा रोज़गार के समुचित उन्नति के लिए तत्काल योग, ज्योतिष,पौरोहित्य एवं कर्मकाण्ड पाठ्यक्रमों को संचालित करने की अनुशंसा की गयी है ।

 केन्द्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय , दिल्ली के 08वें विद्वत् परिषद् में कुलपति श्रीनिवास वरखेड़ी की अध्यक्षता में अनेक महत्त्वपूर्ण निर्णय लिए गये हैं /केन्द्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय शिक्षा नीति - 2020 लागू कर दी गयी है । विद्वत् परिषद् की बैठक में विषय विशेषज्ञों द्वारा आचार्य ( एम ए) तथा शास्त्री (बी ए तथा प्रतिष्ठा) के लिए बनाए गये इसके पाठ्यक्रमों की स्वीकृति के साथ यह भी निर्देश दिया गया है कि शैक्षणिक सलाहकार समिति(AAC) ने इन पाठ्यक्रमों के लिए व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार तथा बेवसाइट पर उपलब्ध कराने की जो सलाह दी गयी है , उसे व्यवहार में लाया जाय ‌।

 विद्वत् परिषद् ने इंडियन इंस्टीट्यूट औफ़ टेक्नोलोजी, जम्मू तथा मीरा इन्स्ट्यूट बार इंडिक नौलेज स्टीज़ , महाराष्ट्र से भी बहुविषयक अध्ययन अध्यापन पर बल देने के लिए शैक्षणिक समझौता का अनुमोदन किया है । 4. इसके अतिरिक्त आयुर्वेद गुरुकुलम्/महाविद्यालय की संबद्धता के लिए भी भारतीय चिकित्सा पद्धति राष्ट्रीय आयोग (NCISM),आयुष मंत्रालय,भारत सरकार के साथ समझौता की भी स्वीकृति दी गयी है ।

 विद्वत् परिषद् के सुझाव पर यह निर्णय लिया गया है कि जिस प्रकार राज भाषा विभाग हिन्दी के लिए तीन तीन मास पर निरीक्षण तथा सुझाव का काम करती है ,उसी प्रकार केन्द्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय में भी सरल संस्कृत अनुष्ठान समिति बनायी गयी है ।इसके अध्यक्ष सीएसयू के कुलपति प्रो श्रीनिवास वरखेड़ी तथा अन्य सदस्य भी होंगे । मुक्त स्वाध्याय पीठम् के निदेशक डा रत्नमोहन झा को इसको देखने का उत्तरदायित्व दिया गया है जो तीन तीन मास की रिपोर्ट संबंधित अधिकारी को देंगे ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अतरलाल कोलारे बने नुन्हारिया मेहरा समाज के प्रांतीय अध्यक्ष

दादा लख्मी फ़िल्म देश ही नहीं बल्कि विश्व में हलचल मचा सकती है - हितेश शर्मा

भोजपुरी एल्बम दिल के लुटल चैना 5 दिसंबर को होगा रिलीज

Delhi MCD Election वार्ड 117 से आप उम्मीदवार तिलोत्तमा चौधरी की जीत की राह आसान

दिल्ली मूल ग्रामीणों की 36 बिरादरी अपनी अनदेखी से लामबंद