ला पोलो इंडियन पोलो अवार्ड्स का जश्न मनाने के लिए ए नाइट ऑफ स्पोर्टिंग ट्रायम्फ का आयोजन

० योगेश भट्ट ० 
नई दिल्ली : राजस्थान पर्यटन के सहयोग से पोलो द इंडियन पोलो अवार्ड्स (टीपा) के दूसरे संस्करण का आयोजन किया गया। यह खेल, शाही शानो-शौकत और कोचेस, ग्रूमर्स और घोड़ों के सम्मान की रात की थी। इस आयोजन में कोड सिल्वर एंड वेडिंग एशिया का भी सहयोग प्राप्त हुआ। पोलो में सबसे बड़े नाम, जोधपुर-मारवाड़ के हिज हाईनेस महाराजा गज सिंह और बड़ौदा की हर हाइनेस राजमाता शुभांगिनी राजे गायकवाड़ जैसे रजवाड़ों और राजघरानों की दिग्गज हस्तियों ने इस आयोजन में भाग लिया, जिसकी मेजबानी बॉलीवुड अभिनेता पावलीन गुजराल और पोलो कमेंटेटर शरद सक्सेना ने की।

पुरस्कार समारोह की शुरुआत जोधपुर-मारवाड़ के हिज हाईनेस महाराजा गज सिंह ने सुश्री मोनिका सक्सेना को लेडी प्लेयर पुरस्कार प्रदान कर की। भारत में जन्मा पोलो भारतीय राजघरानों और ब्रिटिश सेना ने अपनाया और फिर पूरी दुनिया में फैल गया। यह अब भी जारी है, जैसा सदियों पहले मणिपुर, लेह और द्रास में होता था। द बड़ौदा द ट्रेडिशनल पोलो प्लेयर पुरस्कार हमारी विरासत के संरक्षक, पारंपरिक पोलो खिलाड़ियों को सम्मानित करता है और बड़ौदा की हर हाईनेस राजमाता शुभांगिनी राजे गायकवाड़ और बड़ौदा की राजकुमारी अलौकिका राजे गायकवाड़ ने यह पुरस्कार लद्दाख के अब्दुल मनन को प्रदान किया।

मैदान पर राइडर के लिए स्वस्थ, हाई-परफॉर्मंस वाला घोड़ा बेहद आवश्यक है और उन लोगों को सम्मानित किया गया जिन्होंने पर्दे के पीछे अथक परिश्रम किया है। अलवर इंडियन पोलो एसोसिएशन के उपाध्यक्ष लेफ्टिनेंट जनरल बलबीर सिंह संधू (सेवानिवृत्त) ने नदीम अली (आर्मी) और रिसालदार भवानी सिंह (सिविल) को पोलो ट्रेनर पुरस्कार प्रदान किया गया। यह ट्रॉफी उन लोगों के लिए है जो जंगली पोनी को वश में करने के लिए पर्दे के पीछे काम करते हैं, और बारिश हो या धूप, उनका व्यायाम कराते हैं। सुश्री पारुल राय, सह-संरक्षक, अचीवर्स पोलो टीम और सुश्री शिखा दुर्लभजी, निदेशक, कोड सिल्वर ने हनुमान विनायक को पोलो ग्रूम पुरस्कार प्रदान किया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अतरलाल कोलारे बने नुन्हारिया मेहरा समाज के प्रांतीय अध्यक्ष

दादा लख्मी फ़िल्म देश ही नहीं बल्कि विश्व में हलचल मचा सकती है - हितेश शर्मा

भोजपुरी एल्बम दिल के लुटल चैना 5 दिसंबर को होगा रिलीज

Delhi MCD Election वार्ड 117 से आप उम्मीदवार तिलोत्तमा चौधरी की जीत की राह आसान

दिल्ली मूल ग्रामीणों की 36 बिरादरी अपनी अनदेखी से लामबंद