उपराष्ट्रपति राष्‍ट्रीय नाट्य विद्यालय के दीक्षांत समारोह में छात्रों को डिप्‍लोमा की डिग्री प्रदान करेंगे


राष्‍ट्रीय नाट्य विद्यालय के 237 छात्रों को डिप्‍लोमा की डिग्री दी जाएगी। एनएसडी विश्‍व स्‍तर पर नाट्य प्रशिक्षण की अग्रणी संस्‍थाओं में एक है। अमरीका की सीईओवर्ल्‍ड पत्रिका ने एनएसडी को सर्वोत्‍तम फिल्‍म विद्यालय श्रेणी में 14वां स्‍थान दिया है।


नयी दिल्ली - उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू को अभिमंच ऑडिटोरियम में आयोजित होने वाले राष्‍ट्रीय नाट्य विद्यालय (एनएसडी) के दीक्षांत समारोह में शामिल होंगे। उपराष्‍ट्रपति राष्‍ट्रीय नाट्य विद्यालय के दीक्षांत समारोह में 200 से अधिक छात्रों को डिप्‍लोमा की डिग्री प्रदान करेंगे, जो 2010 से 2019 के बीच त्रिवर्षीय पाठ्यक्रम में सफल रहे हैं।



उपराष्‍ट्रपति दीक्षांत समारोह के मुख्‍य अतिथि होंगे, जबकि केंद्रीय संस्‍कृति एवं पर्यटन राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) प्रहलाद सिंह पटेल विशिष्‍ट अतिथि होंगे। समारोह में संस्‍कृति मंत्रालय के सचिव अरुण गोयल, राष्‍ट्रीय नाट्य विद्यालय के पूर्व चेयरमैन चंद्रशेखर काम्‍बरा, एनएसडी के पूर्व निदेशक रतन थिएम, एनएसडी सोसायटी के कार्यकारी चेयरमैन डॉ.अर्जुनदेव चरन, एनएसडी के कार्यवाहक निदेशक सुरेश शर्मा तथा नाट्य कला की प्रसिद्ध हस्तियां शामिल होंगी।


    एनएसडी की स्‍थापना 1959 में की गई थी। भारत में यह अपने तरह का एकमात्र विद्यालय है। यह एक स्‍वायत्‍त संगठन है, जिसका वित्‍त पोषण संस्‍कृति मंत्रालय करता है। संगीत नाटक अकादमी के तत्‍वावधान में एनएसडी की स्‍थापना की गई थी। 1975 में एनएसडी एक स्‍वतंत्र इकाई बन गई। विद्यालय थिएटर के सभी आयामों में 3 वर्षीय पाठ्यक्रम उपलब्‍ध कराता है।