संदेश

जुलाई 12, 2019 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

खाने वाली गर्भनिरोधक गोलियां की श्रेणी को फिर से शुरू किया जाना चाहिए

चित्र
किसी राष्‍ट्र के विकास के लिए जनसंख्‍या और स्‍वास्‍थ्‍य महत्‍वपूर्ण घटक है। परिवार नियोजन एक महत्‍वपूर्ण निर्धारक है। परिवार नियोजन केवल जनसंख्‍या स्थिरीकरण तक ही सीमित नहीं हैं, बल्कि यह महिलाओं, परिवारों और समुदायों के बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य को भी सुनिश्चित करता है नयी दिल्ली - केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आज विश्व जनसंख्या दिवस, 2019 के अवसर पर जनसंख्‍या एवं विकास पर अंतरराष्‍ट्रीय सम्‍मेलन (आईसीपीडी) से संबंधित राष्‍ट्रीय कार्यशाला  @   25ईयर्स – लिवरेजिंग पार्टनरशिप्‍स  के उद्घाटन के अवसर पर कहा, ''आइए, हम सब रोकथाम की जा सकने वाली बीमारियों से किसी गर्भवती महिला और बच्‍चे की मृत्‍यु न होने दें''। 25 साल पहले 1994 में आज ही के दिन काहिरा में महत्‍वपूर्ण आईसीपीडी का आयोजन हुआ था। डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी जी के  गतिशील और दूरदर्शी नेतृत्‍व में देश 2022 तक न्‍यू इं‍डिया के निर्माण का साक्षी बनेगा जिसमें विकास का सकारात्‍मक निर्णायक तत्‍व-स्‍वास्‍थ्‍य होगा। उन्‍होंने कहा, 'सरकार स्‍वास्‍थ्‍य से जुड़े मसल

सबके हित में मॉडल किराएदारी अधिनियम 2019 मसौदा तैयार

चित्र
वर्तमान किराया नियंत्रण कानून किराए पर मकान की वृद्धि को रोके हुए हैं और मालिकों को इस बात के लिए हत्‍तोसाहित करते हैं कि मकान को किराए पर देने से मकान दूसरे के कब्‍जे में चला जाएगा। नयी दिल्ली -आवास और शहरी कार्य मंत्रालय ने मॉडल किराएदारी अधिनियम, 2019 का मसौदा तैयार किया है। इस प्रारूप में मालिक और किराएदार दोनों के हितों और अधिकारों को संतुलित बनाने तथा परिसरों को अनुशासित और सक्षम तरीके से किराए पर देने में उत्‍तरदायी और पारदर्शी व्‍यवस्‍था बनाने का प्रावधान है। यह अधिनियम समाज के विभिन्‍न आय वर्गों के लिए किराए के मकान का पर्याप्‍त स्‍टॉक बनाने में सहायता देगा। समाज के इन वर्गों में एक स्‍थान से दूसरी जगह पर बसे लोग, औपचारिक तथा अनौपचारिक क्षेत्र के श्रमिक, पेशेवर लोग, विद्या‍र्थी आदि शामिल हैं। इसका उद्देश्‍य गुणवत्‍ता सम्‍पन्‍न किराए के आवास तक पहुंच को बढ़ाना है। यह विधेयक पूरे देश में किराए के मकान के समग्र कानूनी रूपरेखा को नया रूप देने में सहायक होगा। आशा है कि इस विधेयक से देश में रिहायशी मकानों की भारी कमी की समस्‍या से निपटने के लिए किराए के आवास क्षेत्र में निजी क्ष

नकली ब्रांड वाली पानी की बोतलें बेचने के मामले में 1371 लोग गिरफ्तार

चित्र
नकली पीने के पानी की कुल 69294 बोतलें जब्त की गईं  और अपराधियों से जुर्माने के तौर पर  कुल 6,80,855 रूपए वसूल किए गए । गैर कानूनी बिक्री गतिवि‍धियों में शामिल होने के आरोप में 4 पेंट्री कार प्रबंधकों को भी गिरफ्तार किया गया । प्लेटफार्मों पर लगे स्टॉल में भी ऐसे  ब्रांड की पेयजल बोतलें बिकती हुयी पाई गईं , जो रेलवे द्वारा अधिकृत नहीं हैं। नयी दिल्ली - रेलवे परिसर में अनाधिकृत ब्रांड वाली पानी की बोतलें धड़ल्‍ले से बेचे जाने के मामलों पर रोक लगाने के लिए "ऑपरेशन थर्स्ट" नाम से एक देश व्यापी अभियान 08/09 जुलाई को महानिदेशक, रेलवे सुरक्षा बल, रेलवे बोर्ड, नई दिल्ली के निर्देश पर शुरू किया गया । इसके तहत प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्तों को इन अनाधिकृत गतिविधियों पर लगाम लगाने का आदेश दिया गया । अभियान के दौरान भारतीय रेलवे के लगभग सभी प्रमुख स्टेशनों को कवर किया गया । ऑपरेशन थर्स्ट के दौरान 1371 व्यक्तियों को अनाधिकृत ब्रांडों के पानी की बोतलें बेचने के मामले में रेलवे अधिनियम की धारा 144 और 153  के तहत गिरफ्तार किया गया था।  इस दौरान नकली पीने के पानी की कुल 69294 बोतलें जब्त क

फिल्‍म प्रभाग फिल्‍मों का हर पखवाड़े प्रदर्शन करेगा

चित्र
वृत्‍तचित्र फिल्म क्लब 'क्षितिज' का उद्घाटन शहरी विकास राज्‍य मंत्री, महाराष्‍ट्र सरकार योगेश सागर द्वारा विख्‍यात फिल्‍मकार अरुणाराजे पाटिल और मृणाल कुलकर्णी की मौजूदगी में आज 12 जुलाई शाम पांच बजे ऑडिटोरियम-1, न्‍यू म्‍यूजियम बिल्डिंग, फिल्‍म प्रभाग परिसर,मुंबई में किया जाएगा। मुंबई  - सराहनीय वृत्‍तचित्र फिल्‍मों का अब सार्वजनिक प्रदर्शन किया जाएगा और फिल्‍म प्रेमियों को फिल्‍मों को  देखने के साथ ही साथ उनके निदेशकों/निरीक्षकों के साथ बातचीत करने का अवसर भी मिलेगा। ऐसा  फिल्म क्लब 'क्षितिज'  के  शुभारंभ  की बदौलत होने जा रहा है। क्षितिज का शुभारंभ  फिल्म प्रभाग , सूचना और प्रसारण मंत्रालय  द्वारा भारतीय वृत्‍तचित्र निर्माता संघ (आईडीपीए) के सहयोग से   होने जा रहा है। वृत्‍तचित्र फिल्‍मों का  सार्वजनिक प्रदर्शन हर महीने के दूसरे और चौथे शुक्रवार को शाम पांच बजे से साढ़े छह बजे तक फिल्‍म प्रभाग परिसर में किया जाएगा। उसके फौरन बाद वृत्‍तचित्र फिल्‍म के  निदेशकों/निरीक्षकों के साथ संक्षिप्‍त बातचीत होगी। उद्घाटन फिल्‍म के तौर पर बेहद सराही गई अजय एवं विजय बेदी की व