संदेश

अक्तूबर 5, 2019 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

नांगलोई में जलसा ए अज़मत ए क़ुरआन शरीफ़ का आयोजन 

चित्र
नई दिल्ली , यहाँ  नांगलोई कैम्प नं 2, के अम्बेडकर भवन में एक अजीमुशशान जलसा अजमत ए क़ुरआन दुआईया प्रोग्राम का एहतमाम किया गया जिसमें मदरसा इल्मुल क़ुरआन सेंटर के तलबा व तालबात ने मुख्तलिफ अंदाज़ में प्रोग्राम पेश किए. इस प्रोग्राम के सरपरस्त रहे हज़रत मौलाना डाक्टर सईददीन क़ासमी ,और मेहमान खुसूसी रहे हज़रत मौलाना मुमताज़ अहमद क़ासमी मोहतमिम मदरसा दारूल क़ुरआन मादीपुर, हज़रत मौलाना नसीम अहमद क़ासमी ईमाम व खतीब जामा मसजिद मुहम्मदी नांगलोई शायर ए इस्लाम जनाब कारी फखरुददीन अशरफ नहाल विहार दिल्ली ने अपनी शायरी से प्रोग्राम को रोनक बख्शी इस प्रोग्राम को कामयाब बनाने में साथियों ने ज़बरदस्त मेहनत की और बराबर शरीक रहें। प्रोग्राम के निजामत फरमा रहे मोहम्मद रफीक ने सामेइन का शुक्रिया अदा किया आखिर में हाफ़िज़ नसीम अख्तर के गुजारिश पर मौलाना मुमताज़ अहमद क़ासमी ने दुआ कराई ,बाहर से आए मेहमनों और काओम के मुअज्जज हस्तियों के हाथों बच्चों को इनामात तक्सीम किये इस प्रोग्राम को सफ़ल बनाने में  मोहम्मद इकबाल, मोहम्मद सलीम, फजलुर्रहमान, अब्दुशकोर , इस्लामुद्दीन, मुश्ताक, अब्दुर्रशिद, व अन्य समस्त न

दिल्ली वाले केजरीवाल सरकार के काम से खुश हैं AAP MLA महेंद्र यादव

चित्र

10 अक्टूबर से हज 2020 के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू

चित्र
नयी दिल्ली - हज 2020 के लिए देश भर के 22 स्थानों से भारतीय मुसलमान हज यात्रा पर जायेंगे, इस वर्ष हज यात्रियों को सभी प्रकार की जानकारी मुहैया कराने एवं पूरी हज प्रक्रिया में मदद करने के लिए 100 लाइन का सूचना केंद्र हज हाउस, मुंबई में स्थापित किया जाएगा। केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने यहाँ हज 2020 की घोषणा करते हुए कहा कि 10 अक्टूबर से हज के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी जो  10 नवम्बर,  2019 तक चलेगी।  नकवी ने नई दिल्ली में हज 2019 के पूरा होने एवं अगले हज की तैयारियों के लिए समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। नकवी ने कहा कि इस बार हज प्रक्रिया शत प्रतिशत ऑनलाइन/डिजिटल होगी। सभी हज यात्रियों को ई-वीजा की सुविधा दी गयी है। मोबाइल ऐप के जरिये भी हज के लिए आवेदन किया जा सकता है। समीक्षा बैठक में अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय के सचिव शैलेश, अतिरिक्त सचिव एस.के. देव बर्मन, संयुक्त सचिव-हज जान-ए-आलम, सऊदी अरब में भारत के राजदूत औसफ सईद, हज कमिटी ऑफ़ इंडिया के अध्यक्ष शेख जिन्ना नबी, हज कमिटी के सीईओ एम.ए. खान, जेद्दाह में भारत के कौंसल जनरल मोहम्मद नूर

सेहत के लिए खतरनाक है प्लास्टिक

चित्र
  लेखक>लाल बिहारी लाल   नई दिल्ली ।  प्लास्टिक मनुष्य के रीढ की हड्डी की तरह  सामाजिक  हिस्सा बन चुकी है। ये जीवन के हर मोड़ पर सस्ता एंव सुगम होने के कारण  इसका प्रयोग लोग बहुतायत रुप से करते हैं। मानव इसका प्रयोग करने के बाद इसका निपटान भी सही से नहीं कर पाता है । यह पर्यावरण में  नही घुलता है यानी कि यह नन बायोडिग्रेडेबल है। इसे  पर्यावरण में  घूलने में 200 से 500 साल तक औऱ बोतल के ढक्कण को तो लगभग 1000 वर्ष घुलने में  लग जाते है । इस बीच जमीन पर परे रहते है जिससे भूमि की उर्वरा शक्ति नष्ट होने लगती है। नाली जाम हो जाते है जिससे सड़न फैलने लगती है औऱ लोगों के सेहत पर असर पड़ता है।  इधर उधऱ फेकने के कारण नदियों के रास्ते सागर तक पहुँच जाते है और जलीय जीव को नुकसान पहुंचाते हैं। डाल्फिन सहित पूरी दुनिया में लगभग 1 लाख से ज्यादा जलीय जीव समय से पहले काल के गाल में समा जाते है। इसके जलाने  से जहरीली  गैसें निकलती है   जो वातावरण(वायु) को दूषित करती है।  अर्थात  इसके कारण जल, थल एवं नभ  तीनों दूषित  हो रहे है।   इसी को ध्यान में रखकर दुनिया के 128 देश पहले ही प्लास्टिक थैलियों पर

Yulu Battery Bicycle बच्चों की पसंद की सवारी

चित्र

पटना बाढ़ से जनजीवन प्रभावित

चित्र

Amitabh Bachchon को दादा साहेब फाल्के Award का विरोध क्यों

चित्र

महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती पर विशेष Mahatma Gandhi

चित्र

DURGA POOJA की तैयारी LODHI COLONY,NEW DELHI

चित्र

Pori Garwal पर्यटन और कुदरत की सुंदरता के लिए

चित्र