संदेश

जुलाई 9, 2019 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

नशीली दवाओं की तस्‍करी के ख़िलाफ़ कार्रवाई करने के लिए म्‍यांमार के बीच महानिदेशक स्‍तर की बातचीत

चित्र
भारत-म्यांमार सीमा पर एफेड्रिन/ श्‍यूडो-इफेड्रिन की तस्‍करी और म्यांमार से भारत में मेटमफ़ैटेमिन की तस्करी, नशीली दवाओं की तस्करी के मार्गों के बारे में जानकारी, नियंत्रित वितरण संचालन और सर्वोत्तम प्रथाओं और प्रशिक्षण की जरूरतों जैसे मुद्दों के बारे में बातचीत की गई। दोनों पक्षों ने उचित समय पर जानकारी/खुफिया जानकारी साझा करने के लिए परिचालन स्तर के संपर्कों का आदान-प्रदान किया नयी दिल्ली - नशीली दवाओं की तस्‍करी और इससे संबंधित मुद्दों के बारे में भारत के स्‍वापक नियंत्रण ब्‍यूरो (एनसीबी) और म्‍यांमार में नशीली दवाओं के दुरुपयोग नियंत्रण के लिए केन्‍द्रीय समिति के बीच आज चौथी महानिदेशक स्‍तर की वार्ता का आयोजन किया गया। भारतीय शिष्‍टमंडल का नेतृत्‍व स्‍वापक नियंत्रण ब्‍यूरो के महानिदेशक अभय तथा म्‍यांमार के शिष्‍टमंडल का नेतृत्‍व ड्रग इंफोर्समेंट डिविजन के कमांडर ब्रिगेडियर जनरल, विन नेंग, संयुक्‍त सचिव सीसीडीएसी म्‍यांमार ने किया। 9 से 10 जुलाई तक चलने वाली इस दो दिवसीय द्विपक्षीय बैठक का आयोजन दोनों देशों के बीच नशीली दवाओं की तस्‍करी के खिलाफ समन्वित और ठोस कार्रवाई करने के ल

दस भारतीय भाषाओं में लिखी पुस्‍तक ‘विवेकदीपनी’ का विमोचन हुआ

चित्र
       अंग्रेजी और भारत की नौ भाषाओं में लिखी गई, भारतीय ज्ञान शास्‍त्र पर आधारित पुस्तक–विवेकदीपिनी का विमोचन करने के अवसर पर उपराष्ट्रपति ने कहा कि यह भारतीयों का सौभाग्य है कि शंकराचार्य और स्वामी विवेकानंद जैसे आध्यात्मिक गुरूओं ने हमारे देश के नैतिक मूल्‍यों की नींव रखी। नयी दिल्ली - भारत के उपराष्ट्रपति, एम वेंकैया नायडू ने कहा है कि भारतीय दर्शन के उत्‍कृष्‍ट विचारों को आम जन तक पहुंचाने के लिए देश में सांस्कृतिक पुनर्जागरण के साथ ही जागरूकता और ज्ञान-साझा करने के लिए व्‍यापक स्‍तर पर अभियान चलाने की आवश्‍यकता है।       उन्‍होंने "शेयर और केयर" को भारतीय दर्शन का मूल बताते हुए एक ऐसे समाज के निर्माण की आवश्‍यकता पर बल दिया जो वास्‍तव में भारतीय दर्शन को परिलक्षित करता हो।       अंग्रेजी और भारत की नौ भाषाओं में लिखी गई, भारतीय ज्ञान शास्‍त्र पर आधारित पुस्तक–विवेकदीपिनी का विमोचन करने के अवसर पर उपराष्ट्रपति ने कहा कि यह भारतीयों का सौभाग्य है कि शंकराचार्य और स्वामी विवेकानंद जैसे आध्यात्मिक गुरूओं ने हमारे देश के नैतिक मूल्‍यों की नींव रखी।        नायडू ने कह

यूएनडब्‍ल्‍यूएफपी के साथ 50 वर्षों की भागीदारी पूरी होने के अवसर पर कॉफी टेबल बुक का विमोचन

चित्र
भारत में विश्‍व खाद्य कार्यक्रम का सफर बहुत लंबा और कामयाब रहा। भारत में खाद्य और पोषण सुरक्षा के मद्देनजर महत्‍वपूर्ण सकारात्‍मक बदलाव आये है और सरकार ने कुपोषण की समस्‍या हल करने के लिए महत्‍वपूर्ण प्रयास किये हैं। उन्‍होंने कहा कि इस सफलता का बड़ा कारण भारत सरकार और विश्‍व खाद्य कार्यक्रम के बीच मजबूत संबंध है, जिसके लिए भारत सरकार प्रतिबद्ध रही है, ताकि देश का भविष्‍य बेहतर और उज्‍ज्वल हो सके। नयी दिल्ली - कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्री  नरेन्‍द्र सिंह तोमर तथा भारत में संयुक्‍त विश्‍व खाद्य कार्यक्रम (यूएनडब्‍ल्‍यूएफपी) के प्रतिनिधि एवं निदेशक डॉ. हमीद नूरू  ने आज नई दिल्‍ली में भारत में  खाद्य और पोषण सुरक्षा के लिए यूएनडब्‍ल्‍यूएफपी के साथ 50 वर्षों की भागीदारी पूरी होने के अवसर पर कॉफी टेबल बुक का विमोचन किया। इस अवसर पर तोमर ने कहा कि ग्रामीण भारत को महत्‍व देने और कृषि को सतत विकास लक्ष्‍य-2 के मद्देनजर कृषि और किसान कल्‍याण मंत्रालय भूख की स्थिति को समाप्‍त करने, खाद्य संरक्षण प्राप्‍त करने, पोषण में सुधार करने तथा बेहतर कृषि को प्रोत्‍साहन देने के सामूहिक लक्ष्‍य को प्रा

पांच दिवसीय स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन -2019 के ग्रैंड फिनाले का उद्घाटन

स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन (एसआईएच) -2019 एक सही मंच है, जहां छात्रों के इनोवेटर्स दिन-प्रतिदिन की समस्याओं के समाधान के लिए स्मार्ट समाधान विकसित कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि अनुसंधान, नवाचार और प्रौद्योगिकी के उचित उपयोग के माध्यम से हम अत्यधिक उन्नत,विकसित और समृद्ध राष्ट्र बन सकते हैं। नयी दिल्ली - मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने नई दिल्‍ली में पांच दिवसीय स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन (एसआईएच) -2019 (हार्डवेयर संस्करण) के ग्रैंड फिनाले का उद्घाटन किया। स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन -2019 के दूसरे भाग, हार्डवेयर संस्करण के ग्रैंड फिनाले का आयोजन 8 से 12 जुलाई तक देश भर में किया जा रहा है। इस अवसर पर मानव संसाधन विकास राज्‍य मंत्री संजय धोत्रे भी उपस्थित थे।  मानव संसाधन विकास मंत्री ने एसआईएच -2019 हार्डवेयर संस्करण में भाग लेने वाले छात्रों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत की। इस अवसर पर उन्‍होंने कहा कि स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन (एसआईएच) -2019 एक सही मंच है, जहां छात्रों के इनोवेटर्स दिन-प्रतिदिन की समस्याओं के समाधान के लिए स्मार्ट समाधान विकसित कर सकते है

Video : Jhansi जहां हर धर्म के लोगों की श्रद्धा है // Exclusive Report By Kishor Srivastava

Jhansi जहां हर धर्म के लोगों की श्रद्धा है // Exclusive Report By Kishor Srivastava https://www.youtube.com/watch?v=vCJXNDF2XhU