संदेश

जून 25, 2019 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

सुषमा भंडारी द्वारा रचित स्वच्छता गीत " दिल्ली नगर निगम" का लोकार्पण

चित्र
नयी दिल्ली - दिल्ली के सिविक सेन्टर में दक्षिणी दिल्ली नगर निगम महापौर सुनीता कांगड़ा ने लेखिका /कवयित्री सुषमा भंडारी द्वारा रचित स्वच्छता गीत " दिल्ली नगर निगम" का लोकार्पण किया तथा इस मौके पर शिक्षा निदेशक शिरिष शर्मा भी मौजूद रहे। इस अवसर पर महापौर सुनीता काँगड़ा और शिरीष शर्मा ने गीत रचयिता सुषमा भंडारी को मंगलकामनाएं दी तथा उनकी रचना और गीत के संगीत की खुलकर तारीफ़ की।  इस गीत को राकेश छाबड़ा एवं शान्तनु चक्रबर्ती ने गाया है । इस गीत की कम्पोजर मधुमिता हैंं । अर्पण मुखर्जी ने म्युजिक अरेंजमेंट किया व एम एफ स्टुडियो ने इस गीत को यू टयूब पर प्रसारित किया।

मस्जिदों के मामले में दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग पश्चिमी दिल्ली का दौरा करेगा

चित्र
नयी दिल्ली - दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग ने पश्चिमी दिल्ली के भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा के उस विवादित दावे की जांच करने के लिए एक तथ्य-खोज समिति का गठन किया है जिसमें उन्होंने दावा किया है कि दिल्ली में 90% मस्जिद व क़ब्रिस्तान अवैध हैं तथा सरकारी ज़मीनों पर बनाए गए हैं । इस मुद्दे पर दिल्ली के मुसलमानों में रोष देखने को मिल रहा है जिसके चलते मुस्लिम एडवाइजरी कमेटी दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के सदस्यों तथा समाजसेवियों, संस्थाओं के पदाधिकारियों ने आयोग चेयरमैन डाॅक्टर ज़फ़र उल इस्लाम ख़ान से सासंद प्रवेश वर्मा के बयान की शिकायत की । दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग ने इस पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए जाने-माने मानवाधिकार कार्यकर्ता ओवैस सुल्तान खान की अध्यक्षता में पाँच सदस्यीय समिति का गठन किया है जिसमें गुरमिंदर सिंह मथारू (सदस्य - SGPC), डॉ डेन्ज़िल फर्नांडीस (सामाजिक वैज्ञानिक, अंकुर ओटो (मानवाधिकार कार्यकर्ता) के साथ और सदस्य के रूप में रईस अहमद (पत्रकार) शामिल हैं । समिति दिल्ली के विभिन्न क्षेत्रों, विशेष रूप से पश्चिमी दिल्ली का दौरा करेगी, और दस कार्य दिवसों के भीतर अपनी रिपोर्ट को पूरा क

फिल्‍म ‘धंधा’ के लिए अभिनेता रूपेश आर बाबू को किया गया साइन

चित्र
बिहार – यूपी में होने वाले अवैध बालू खनन के कारोबार की कहानी को लेकर मिस्‍टर क्रियेटिव वीजन द्वारा एक बेहद महत्‍वपूर्ण फिल्‍म का निर्माण किया जा रहा है, जिसका नाम है – 'धंधा'। इस फिल्‍म की शूटिंग वाल्मिकी नगर, बिहार में होनी है, जिसके लिए कास्टिंग काम शुरू हो गया है। फिल्‍म के लिए बेहद जाने माने अभिनेता रूपेश आर बाबू को साइन किया गया। इस फिल्‍म से नवोदित अभिनेता पी के सुल्‍तान बड़े पर्दे पर डेब्‍यू कर रहे हैं, जो का‍फी प्रतिभाशाली और फास्‍ट लर्नर है। उनकी लगन और कठिन परिश्रम को देखते हुए उन्‍हें फिल्‍म में कास्‍ट किया गया है। यह उनकी पहली फिल्‍म होगी, जिसके लिए उन्‍होंने अभी से ही तैयारियां शुरू कर दी हैं। पी के सुल्‍तान स्‍टार बनने की खूबियां हैं। इनके अलावा फिल्‍म में अविनाश पांडे फतेहपुरी भी नजर आयेंगे, जो फिल्‍म के लेखक भी हैं। वहीं, फिल्‍म 'धंधा' को लेकर रूपेश आर बाबू बेहद एक्‍साइटेड नजर आये। उन्‍होंने बताया कि यह फिल्‍म यूपी – बिहार की कहानी पर आधारित है, जिसकी शूटिंग जल्‍द ही शुरू होने वाली है। फिल्‍म की कहानी बेहद रोमांचक है, जो दर्शकों को खूब इंटरटेन करेगी। र

वाप्कोस ने “हमारी नदी, हमारा भविष्य” और “वृक्ष लगाए, जीवन बचाए” कार्यक्रम आयोजित किए

चित्र
नयी दिल्ली - केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने कहा कि जल उपलब्धता के मामले में भारत दुनिया के सबसे संवेदनशील देशों में एक है और बढ़ती जनसंख्या ने समस्या को और भी गंभीर बना दिया है। नई दिल्ली में आईटीओ के निकट स्थित छठ घाट पर आयोजित स्वर्ण जयंती समारोह के तहत कार्यक्रम को संबोधित करते हुए शेखावत ने कहा कि पानी की प्रत्येक बूंद को बचाना व संरक्षित करना चाहिए तथा हम सभी को पानी के उचित उपयोग के लिए सम्मिलित प्रयास करना चाहिए।  शेखावत ने कहा कि भारत ने खाद्यान्न निर्यात करने वाले देश की उपलब्धि हासिल की है। पहले हमारा देश में खाद्यान्न की कमी थी। निकट भविष्य में पानी की कमी से स्थिति खराब हो सकती है। आवश्यकता इस बात की है कि पानी के पारम्परिक स्रोतों का पुनरुद्धार किया जाना चाहिए और जल संरक्षण के लिए सशक्त प्रयास किए जाने चाहिए। वाप्कोस की सराहना करते हुए शेखावत ने कहा कि संगठन ने विकास कार्यों के लिए नवीन तरीके अपनाए है तथा चुनौतीपूर्ण सामाजिक समस्याओं के निदान के लिए भी योगदान दिया है। वाप्कोस का उद्देश्य है- विचारों के कार्यान्वयन के लिए रोडमैप तैयार करना और फिर इसे

भारतीय तटरक्षक बल का उत्‍तराखंड में भर्ती केंद्र खुलेगा

चित्र
देहरादून -  उत्‍तराखंड में भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) का भर्ती केंद्र खोला जाएगा। यह देश में भारतीय तटरक्षक बल का पांचवां भर्ती केंद्र होगा। 28 जून को उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत इस भर्ती केंद्र की आधारशिला रखेंगे। भर्ती केंद्र की स्‍थापना कॉनवाला (हरड़वाला), देहरादून में की जाएगी। तटरक्षक बल के महानिदेशक राजेंद्र सिंह ने मुख्‍यमंत्री को भर्ती केंद्र खोलने के संबंध में भारत सरकार के अनुमति पत्र की प्रति सौंप दी। सरकार ने जमीन की खरीद के लिए 17 करोड़ रुपये और केंद्र के भवन के निर्माण के लिए 25 करोड़ रुपये मंजूर किए हैं। नोएडा, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता के बाद उत्तराखंड में भारतीय तटरक्षक बल का यह पांचवां भर्ती केंद्र होगा। यह भर्ती केंद्र उत्तराखंड के युवाओं के साथ-साथ उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और हरियाणा के युवाओं के लिए उपयोगी होगा और लगभग अठारह महीनों में तैयार हो जाएगा।

जल्द ही ‘गीत रामायण’ का हिंदी रूपांतरण आएगा

नयी दिल्ली - प्रकाशन विभाग दत्त प्रसाद जोग के 'गीत रामायण' का हिंदी रूपांतरण लाएगा। यह निर्णय केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने एक बैठक में लिया।  जावड़ेकर ने इस बात की जानकारी पत्रों के माध्यम से आयुष मंत्रालय में राज्य मंत्री श्रीपद नाईक, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस, गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत और गोवा के कला एवं संस्कृति, जनजातीय कल्याण एवं नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता कार्य मंत्री गोविंद एस. गावड़े को भी दी। गीत रामायण के बारे में यह महाकाव्य रामायण की घटनाओं का क्रमवार वर्णन करने वाले 56 मराठी गीतों का संग्रह है। वर्ष 1955-1956 में इसका प्रसारण ऑल इंडिया रेडियो, पुणे द्वारा किया गया था। 'गीत रामायण' को उसके गीत, संगीत और गायन के लिए सराहा गया। जी. डी. मडगुलकर द्वारा लिखित और सुधीर फड़के की संगीत रचना वाले इन गीतों को "मराठी सुगम संगीत का मील का पत्थर" और रामायण का "सबसे लोकप्रिय" मराठी संस्करण माना जाता है।

झारखंड को विश्व बैंक से 147 मिलियन डॉलर का कर्ज मिलेगा

झारखंड  - भारत सरकार, झारखंड सरकार और विश्व बैंक ने झारखंड के लोगों को बुनियादी शहरी सेवाएं मुहैया कराने और राज्य के शहरी स्थानीय निकायों (यूएलबी) की प्रबंधन क्षमता बेहतर करने के लिए 147 मिलियन डॉलर के ऋण समझौते पर हस्ताक्षर किए। झारखंड नगरपालिका विकास परियोजना के तहत बुनियादी शहरी सेवाएं मुहैया कराने के लिए नगरपालिका क्षेत्र (सेक्टर) की क्षमता बेहतर करने पर फोकस किया जाएगा। इसके तहत शहरी वित्त और गवर्नेंस के क्षेत्रों में सुधारों को लागू करने के लिए विभिन्न शहरी सेवाओं जैसे कि जलापूर्ति, सीवरेज, जल निकासी एवं शहर की सड़कों में निवेश किया जाएगा और झारखंड अर्बन इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कंपनी (जेयूआईडीसीओ) के साथ-साथ शहरी  स्थानीय निकायों की भी क्षमता मजबूत की जाएगी। यह तेजी से शहरीकरण की दिशा में अग्रसर इस राज्य की जरूरतों के अनुरूप है, जहां लगभग 31 मिलियन लोग शहरी क्षेत्रों में रहते हैं और झारखंड के 24 जिलों में से 9 जिलों में शहरी आबादी की वृद्धि दर भारत की 2.7 प्रतिशत की समग्र शहरीकरण गति से अधिक है। वित्त मंत्रालय के आर्थिक मामलों के विभाग में अपर सचिव समीर कुमार खरे ने कहा,