संदेश

मार्च 21, 2020 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

बच्चों को दे कोरोना वायरस से बचने की टिप्स

चित्र
  नई दिल्ली : आज कल पूरा देश ख़तरनाक कोरोना वायरस से लड़ रहा है, हर कोई अपने चेहरे पर मास्क लगाकर घूम रहा है। अधिकतर कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को घर से काम करने अनुमति दी, बाजार बंद कर दिए गए, सिनेमाघर बंद हैं, साप्ताहिक बाजार बंद हैं, स्कूल और कॉलेज बंद हैं, लोग थोक में किराने का सामान खरीद रहे हैं, यहाँ तक ​​कि संसद भी कोरोना वायरस के डर से 31 मार्च, 2020 तक बंद है। भारत में कोरोना वायरस के कुल 194 मामले पाए गए हैं और इस ख़तरनाक वायरस के कारण 3 लोगों की मौत हुई है। कोरोना को फैलने से रोकने के लिए सरकार सख्त कदम उठा रही है। प्रत्येक नागरिक को कोरोना वायरस के बारे में बताया जाता है क्योंकि सरकार ने घोषणा की है कि अगर ये उपाय काम नहीं करते हैं, तो देश को लॉक डाउन स्थिति का सामना करना पड़ेगा। वायरस के खतरे से बचने लिए बड़े तथा समझदार लोग तो उससे बचने के लिए सावधानी बरतेंगे लेकिन  उन बच्चों के बारे में क्या जिन्हे ये तक नहीं पता की  वायरस से उन्हें कितना खतरा है। माँ बाप अपने बच्चो को समझानें  पहले अध्यापक होते है लेकिन क्योकि बच्चे अपना ज़्यादातर समय स्कूल में बिताते है तो स्कूल अध्

कोरोना वायरस के कारण अपने बिज़नेस में कोई प्रभाव देखने को नहीं मिला है-विनीत अग्रवाल

चित्र
सात सत्रों तक लगातार गिरने के बाद पिछले दो दिनों में शेयर बाजार ने थोड़ा ठहराव देखने को मिला है। लेकिन इस संक्रमण के विस्तार के कारण बाजार में अस्थिरता देखने को मिली है एंजेल   ब्रोकिंग   में   चीफ   फाइनेंशियल   ऑफिसर   विनीत   अग्रवाल   ने   कोरोना   वायरस   के   प्रकोप   के   कारण   उनके   बिज़नेस   पर   होने   वाले   असर   और   कंपनी   के   ग्रोथ   की   संभावनाओं   पर   चर्चा   की एंजेल ब्रोकिंग एक मुंबई हेडक्वार्टर आधारित ब्रोकरेज है, जो ब्रोकिंग व एडवाइजरी सर्विसेस, मार्जिन फंडिंग, और शेयर के बदले ऋण मुहैया कराती है। प्रश्न : कोरोना वायरस के विस्तार का आपके बिज़नेस पर क्या असर पड़ेगा? बाजार में काफी बिकवली देखने को मिली है... विनीत   अग्रवाल :  हमें अभी तक कोरोना वायरस के कारण अपने बिज़नेस में कोई प्रभाव देखने को नहीं मिला है। मार्केट निराशाजनक रहा है और इसके कारण अस्थिरता बढ़ी है, लेकिन हमारे लिए अब तक चिंता की कोई बात नहीं है। हमारे वॉल्यूम महीने दर महीने लगातार बढ़ रहे हैं। हालांकि हाल ही में चिंता के कारण बिकवली जरूर देखने को मिली है, लेकिन जल्द ही मार्केट इससे उबर जाएगा। कुल मि

7 करोड़ व्यापारी अपना कारोबार बंद रख जनता कर्फ्यू में शामिल होंगे

चित्र
दिल्ली के लगभग 15 लाख छोटे बड़े व्यापारी जनता कर्फ्यू के आव्हान में शामिल होकर अपने व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रखेंगे ! यह घोषणा कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने करते हुए कहा की कोरोना वायरस के संभावित कम्युनिटी ट्रांसमिशन बढ़ते को रोकने के लिए प्रधानमंत्री द्वारा उठाया गया यह बहुत ही प्रभावी और सकारात्मक कदम है और दिल्ली के व्यापारी इस घोषणा का पूरी तरह समर्थन करते हैं ! दिल्ली में थोक बाजार रविवार को बंद रहते हैं लेकिन अधिकांश रिटेल बाजार रविवार को खुलते हैं लेकिन इस रविवार को दिल्ली के सभी थोक एवं रिटेल बाजार पूरी तरह बंद रहेंगे और जनता कर्फ्यू में शामिल होंगे ! नयी दिल्ली - देश भर में जनता कर्फ्यू के आगवन को अपना समर्थन देते हुए व्यापारियों के शीर्ष संगठन कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने घोषणा करते हुए कहा की देश के 7 करोड़ व्यापारी अपने व्यापारिक प्रतिष्ठान पूर्ण रूप से बंद रख कर जनता कर्फ्यू में शामिल होंगे और 22 मार्च को देश भर में कोई कारोबार नहीं होगा ! व्यापारियों के 40 करोड़ के लगभग कर्मचारी भी उस दिन घर में रहेंगे ! देश भर में लगभग 40 हजार से ज्यादा