संदेश

फ़रवरी 27, 2020 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

फिल्म "पंगेबाज" दर्शकों का भरपूर मनोरंजन के साथ

चित्र
पटना - भोजपुरी फिल्म पंगेबाज 28 फरवरी को बिहार,झारखंड के सिनेमाघरों में रिलीज़ हो रही है। राउडी हीरो प्रेम सिंह से इस फिल्म को लेकर खास बातचीत हुई , उन्होंने कहा दर्शकों का प्रेम दुलार समय समय से मिला है।  यह भरसक प्रयास रहता है फिल्म लगन और मेहनत से करता हूं  मनोरंजन से भरपूर फिल्म में एक्ट्रेस ऋतु सिंह ने भी दमदार अभिनय किया है। निर्माता हिमांशु शेखर चौधरी व सुनील सिंह है। इस फिल्म के निर्देशक राम जे पटेल है। ये फिल्म पी.एच,एस फिल्म्स के बैनर तले और निर्देशक “राम पटेल” के निर्देशन में बनी है ! जिसके मुख्य भुमिका में रावडी हीरो “प्रेम सिंह” और अभिनेत्री “तनुश्री” नजर आएंगी साथ ही अहम किरदारो में अभिनेत्री “अम्रपाली दूबे”,आइटम क्वीन “ग्लोरी महंतो”,उमेश सिंह,धर्मेन्द्र सिंह,जे.पी सिंह,शाहेब लाल धारी,महेश आचार्य आदि कलाकार इस फिल्म में काम किए है l इस फिल्म की कहानी एक “लव स्टोरी  हैl जो दर्शकों को खूब पसंद आएगी संगीतकार “छोटे बाबा” फिल्म के लीड एक्टर प्रेम सिंह का मानना है की ये फिल्म भोजपुरी जगत के लिए नवीन है जिससे दर्शक सिनेमाघर मे बोर नहीं होंगे फिल्म के सभी गाने दर्शकों को मनोर

आईडीबीआई फेडरल लाइफ़ इंश्योरेंस ने ‘गारंटीड लाइफ़टाइम इनकम प्लान’ को लॉन्च किया

चित्र
नयी दिल्ली : जीवन बीमा के क्षेत्र की निजी कंपनियों में अग्रणी, आईडीबीआई फेडरल लाइफ़ इंश्योरेंस ने एकल प्रीमियम वाले नॉन-पार्टिसिपेटिंग एवं नॉन-लिंक्ड प्लान,यानि आईडीबीआई फेडरल लाइफ़ इंश्योरेंस गारंटीड लाइफ़टाइम इनकम प्लान के शुभारंभ की घोषणा की, जो नियमित आमदनी प्रदान करने वाली सामान्य योजना है। इस योजना के तहत, रिटायरमेंट के बाद के चरण में खर्चों को पूरा करने में मदद करने के लिए पॉलिसीधारक को जीवनभर गारंटीकृत आय उपलब्ध कराई जाएगी। गारंटी के साथ प्राप्त होने वाली यह आय दरअसल वेतन प्राप्त करने के सामान होगी, जिसे पहले से निर्धारित अवधि–यानि कि मासिक, त्रैमासिक, अर्ध-वार्षिक या वार्षिक आधार पर प्राप्त किया जा सकता है।   आईडीबीआई फेडरल लाइफ़ इंश्योरेंस गारंटीड लाइफ़टाइम इनकम प्लान रिटायरमेंट के बाद पॉलिसीधारकों की मदद करने के लिए तीन विकल्प देता है– इमीडिएट लाइफ़ एन्यूइटी, खरीद मूल्य की वापसी के साथ इमीडिएट लाइफ़ एन्यूइटी, तथा खरीद मूल्य की वापसी के साथ डिफर्ड लाइफ़ एन्यूइटी, जिससे रिटायरमेंट के बाद की अवधि में उनकी आर्थिक स्वतंत्रता बरकरार रहे। पहले के दो इमीडिएट एन्यूइटी विकल्पों में