संदेश

सितंबर 26, 2019 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

बौद्धाचार्य/श्रामणेर प्रशिक्षण शिविर तथा विशाल धम्म दीक्षा समारोह 6 अक्टूबर तक

चित्र
नयी दिल्ली - डा.अम्बेडकर भवन(अनोमा बुद्ध विहार),राजनगर।।,पालम कालोनी में, भारतीय बौद्ध महासभा दिल्ली (पंजी.) दिल्ली प्रदेश की मीटिंग का आयोजन किया गया। जिसमें  एम.एल.अम्भौरे अध्यक्ष:भारतीय बौद्ध महासभा दिल्ली प्रदेश। भीम सिंह बौद्ध  राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष: भारतीय बौद्ध महासभा राष्ट्रीय।   जी.सी.भारती सहसचिव:भारतीय बौद्ध महासभा दिल्ली प्रदेश। आर.के.बौद्ध सचिव:भारतीय बौद्ध महासभा दिल्ली प्रदेश। वी.पी.सिंह अध्यक्ष:कबीर आश्रम जन कल्याण परिषद,राजनगर।।,पालम कालोनी, नयी दिल्ली। समय सिंह बौद्ध महासचिव:डा.अम्बेडकर समाज संघ(अनोमा बुद्ध विहार),राजनगर।।,पालम कालोनी, नयी दिल्ली। सभी ने अपने-2 विचारों से उपस्थित रहे सभी उपासकों को अवगत कराया। अशोक विजय दशमी के पावन अवसर पर केन्द्रीय शिक्षक/बौद्धाचार्य/श्रामणेर प्रशिक्षण शिविर तथा विशाल धम्म दीक्षा समारोह एवं प्रान्तीय बुद्ध धम्म सम्मेलन,इस शिविर का आयोजन दिनाँक 26-9-2019,दिन वीरवार से दिनाँक 05-10-2019,दिन शनिवार तक रहेगा। शिविर का समापन एवं धम्म दीक्षा,सम्मेलन समारोह दिनाँक 06-10-2019,दिन रविवार को प्रातः09:00 बजे से अपराह्न 3:00 बजे तक रहेगा। 

B Sc.(H) नर्सिंग कॉलेज,आर्मी हॉस्पिटल (R&R) दिल्ली कैंट के द्वितीय बैच का कमीशन समारोह

चित्र
नयी दिल्ली - लेफ्टिनेंट पारुल और लेफ्टिनेंट अंकिता मित्रा को उनके बैच में क्रमशः प्रथम और द्वितीय स्थान प्राप्त करने के लिए कमांडेंट सिल्वर मेडल से सम्मानित किया गया। लेफ्टिनेंट सुकृति चौहान को सर्वश्रेष्ठ ऑल राउंड स्टूडेंट ट्रॉफी प्रदान की गई। लेफ्टिनेंट चिंगनीहाट ज़ोउ और लेफ्टिनेंट पारुल को क्रमशः सर्वश्रेष्ठ छात्र नैदानिक ​​नर्स और पुष्पनरंजन पुरस्कार मिला। 27 युवा नर्सिंग विद्यार्थियों को नई दिल्ली में कॉलेज ऑफ नर्सिंग, आर्मी हॉस्पिटल (रिसर्च एंड रेफरल) में एक शानदार समारोह में लेफ्टिनेंट के रूप में सैन्य नर्सिंग सेवा (एमएनएस) में कमीशन किया गया। इस कॉलेज की स्नातक नर्सों का दूसरा बैच, जो सैन्य नर्सिंग सेवा में कमीशन किया गया था, विभिन्न सशस्त्र बलों के अस्पतालों में पदस्थापित किया जाएगा। कमांडेंट, आर्मी हॉस्पिटल (आरएंडआर) लेफ्टिनेंट जनरल रजत दत्ता समारोह के मुख्य अतिथि थे। जनरल ऑफिसर ने नए कमीशन प्राप्त नर्सिंग अधिकारियों और उनके अभिभावकों को बधाई दी। उन्होंने युवा और उत्साही नर्सिंग अधिकारियों से सेवा की नैतिकता का पोषण करने और संगठन को अधिक ऊंचाइयों तक ले जाने का आग्रह किया।

PM MODI ‘ग्लोबल गोल कीपर अवार्ड’ से सम्मानित

चित्र
सम्मान प्राप्त करने के बाद प्रधानमंत्री ने कहा, “स्वच्छ भारत मिशन की कामयाबी भारत की जनता की बदौलत है। उन्होंने इसे अपना आंदोलन बना लिया और वांछित परिणामों की प्राप्ति सुनिश्चित की।” न्यूयॉर्क - प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को स्वच्छ भारत अभियान के लिए बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन द्वारा 'ग्लोबल गोल कीपर अवार्ड' से सम्मानित किया गया। प्रधानमंत्री ने यह सम्मान स्वच्छ भारत अभियान को जनांदोलन में परिवर्तित करने वाले और इसे अपने दैनिक जीवन का अंग बनाने वाले भारतीयों को समर्पित किया। सम्मान प्राप्त करने के बाद प्रधानमंत्री ने कहा, “स्वच्छ भारत मिशन की कामयाबी भारत की जनता की बदौलत है। उन्होंने इसे अपना आंदोलन बना लिया और वांछित परिणामों की प्राप्ति सुनिश्चित की।”  महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर इस सम्मान को प्राप्त करने को निजी स्तर पर महत्वपूर्ण क्षण करार देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान इस बात का प्रमाण है कि जब 130 करोड़ भारतीय कोई शपथ लेते हैं तो किसी भी चुनौती पर विजय प्राप्त की जा सकती है। उन्होंने कहा कि भारत महात्मा गांधी के स्वच्छ भारत के स

BPR&D ड्रोन टेक्नालॉजी पर राष्ट्रीय सेमिनार और प्रदर्शनी आयोजित करेगा

चित्र
नयी दिल्ली - सभी राज्यों, केन्द्रशासित प्रदेशों के पुलिस अधिकारियों, सीएपीएफ, सीपीओ को ड्रोन-रोधी प्रौद्योगिकी के बारे में नवीनतम जानकारी प्रदान करना और छद्म ड्रोनों के नियंत्रण के लिए व्यापक और समुचित समाधान के बारे में बताना, इस सेमिनार और प्रदर्शनी के आयोजन का उद्देश्य है। गृह मंत्रालय का पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो (बीपीआरएंडडी) 26 सितंबर को नई दिल्ली मुख्यालय में ड्रोन-रोधी प्रौद्योगिकी पर आधारित एक राष्ट्रीय सेमिनार और प्रदर्शनी आयोजित करेगा और हरियाणा के भोंडसी में सीमा सुरक्षा बल परिसर में 27 सितंबर को ड्रोन-रोधी प्रौद्योगिकी को प्रदर्शित करेगा। इस सेमिनार में ' चुनौतीपूर्ण परिदृश्य – सीमा – तेल/गैस – महत्वपूर्ण अवसंरचना – नागर विमानन – आतंकवाद – कानून प्रवर्तन '  विषय पर छद्म ड्रोनों के खतरे के बारे में राज्यों की पुलिस, सीएपीएफ, भारतीय वायुसेना, उद्योगजगत और तेल एवं प्राकृतिक गैस आयोग (ओएनजीसी) के विशिष्ट पैनलिस्टों पर चर्चा की जाएगी। 'ड्रोन-रोधी का पता लगाने के कार्य को समझना, पहचान करना, ट्रैकिंग करना, छद्म ड्रोनों को निष्क्रिय करना'  विषय पर नवीन