जल संरक्षण पर उत्कृष्ट कार्य करने वाली दो दर्जन से अधिक संस्थाओं और व्यक्तियों को सजग जल प्रहरी सम्मान से सम्मानित किया गया


नयी दिल्ली। यहां कॉस्टिट्यूशन क्लब में देश की अग्रणी सामाजिक संस्था नव प्रभात जन सेवा संस्थान द्वारा जल संरक्षण पर जल संसद कार्यक्रम का अनूठा आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पर्यावरणविद ज्ञानेंद्र रावत थे एवं विशिष्ट अतिथियों में सर्वश्री सुरेश भाई (अध्यक्ष, हिमालय बचाओ अभियान), डॉ. जगदीश चौधरी (अध्यक्ष, ग्रीन इंडिया फाउंडेशन ट्रस्ट), शैलेन्द्र ठाकुर (ह्यूमन राइट एक्टिविस्ट), प्रो. प्रभा कुमार लक्ष्मणन (दिल्ली विश्वविद्यालय) एवम रमेश भाई (गांधी वादी, साहित्यकार) शामिल रहे।



कार्यक्रम के प्रारंभ में संस्था के पदाधिकारी और कलाकर्मी किशोर श्रीवास्तव ने संस्था का परिचय देते हुए संस्थान के उद्देश्यों एवं गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए जल संसद कार्यक्रम की आवश्यकता को रेखांकित किया तत्पश्चात अतितिथियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलन के पश्चात संस्थान के स्तंभ एवं पूर्व दूरदर्शन अधिकारी व वरिष्ठ साहित्यकार डॉ अमर नाथ अमर ने अतिथियों का परिचय दिया और अतिथियों के सम्मान के साथ ही उनके बेहतरीन संचालन और अनेक महत्वपूर्ण जानकारियों के साथ जल संसद कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ।


इस अवसर पर बोलते हुए मुख्य अतिथि ज्ञानेंद्र रावत ने जल के महत्व और जल संरक्षण पर अपने प्रयोगों पर चर्चा करते हुए एक डाक्यूमेंट्री फ़िल्म के मध्यम से चंडीगढ़ में सुखना नदी को सूखने से बचाने के अपने अभियान को भी सबके साथ साझा किया।  सुरेश भाई ने एक गीत के माध्यम से नदी बचाने की सुंदर कवायद की। अन्य सभी वक्ताओं ने भी जल संरक्षण की महती आवश्यकता और छोटे छोटे प्रयोगों के माध्यम से जल बचाने के तरीकों पर विचार विमर्श करते हुए अपने अनुभव साझा किए।


कार्यक्रम के अगले चरण में अनमोल चावला के संचालन में पैनल डिस्कशन के दौरान पेट्रोल, डीजल की तरह जल के प्रयोग को महंगा किये जाने के सुझाव पर अतिथि प्रतिभागियों के साथ चर्चा हुई। चर्चा के दौरान अधिकांश वक्ताओं ने जल को महंगा करने के स्थान पर उसके किफायती प्रयोग/अपव्यय को रोकने के लिए जन जागरूकता की आवश्यकता पर बल दिया।


कार्यक्रम के अंत में जल संरक्षण पर उत्कृष्ट कार्य करने वाली देश भर से चयनित दो दर्जन से भी अधिक संस्थाओं और व्यक्तियों को सजग जल प्रहरी के सम्मान से अलंकृत किया गया। अंत में संस्था के सचिव राज कुमार दुबे/अध्यक्ष,श्रीमती सुमन द्विवेदी ने सभी के प्रति अपना आभार व्यक्त किया।