एंजेल ब्रोकिंग ने एक महीने में 1 लाख से ज्यादा नए ग्राहक जोड़े

 नयी दिल्ली : भारत की सबसे बड़ी स्वतंत्र फुल-सर्विस डिजिटल ब्रोकिंग फर्मों में से एक एंजेल ब्रोकिंग ने मार्च 2020 में लॉकडाउन शुरू होने के बाद से एक लाख से अधिक मासिक नए अकाउंट्स के साथ अपना अब तक का उच्चतम स्तर प्राप्त किया है। क्लाइंट बेस में वृद्धि ने हमारे डेली ट्रेडिंग वॉल्युम को और तेजी दे दी है क्योंकि हम अपने प्लेटफॉर्म पर एक दिन में लगभग 2 मिलियन ट्रेड निष्पादित कर रहे हैं। इसने एंजेल के मल्टी-सेग्मेंट मार्केट लीडरशिप को मजबूती दी है।



यह हमारे 2 मिलियन से ज्यादा संतुष्ट ग्राहकों के सुरक्षित, निर्बाध और बेहतर अनुभव को प्रदर्शित करता है। हमारे आईट्रेड प्राइम प्लान के माध्यम से हमारी रणनीति सरलीकृत और सबसे प्रतिस्पर्धी प्राइजिंग स्ट्रक्चर पेश करते हुए नए ग्राहक हासिल करने में इंडस्ट्री की औसत वृद्धि को पीछे छोड़ने की है। यह योजना हमारे ग्राहकों को बुनियादी रिसर्च और एडवायजरी सहित सभी ब्रोकिंग सेवाओं का लाभ उठाने का अवसर प्रदान करती है और वह भी बिल्कुल मुफ्त।


एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड के सीएमओ प्रभाकर तिवारी ने इस उपलब्धि पर कहा, “एंजेल ब्रोकिंग एक डिजिटल-फर्स्ट संगठन है, जो सिंगल माइंडेड उपभोक्ता-केंद्रित होने के साथ ही कार्यों में अग्रणी डिजिटल टूल और प्लेटफॉर्म पर भरोसा करता है। राष्ट्र-व्यापी लॉकडाउन ने हमारी डिजिटल ब्रोकिंग सेवाओं के प्रति लोगों का विश्वास बढ़ाया है और आपदा में भी यह एक राहत बनकर आया। पारंपरिक ब्रोकिंग फर्मों की तुलना में यह एक बेहतर विकल्प के रूप में सामने आया है। अनुसंधान और सलाहकार के संदर्भ में सरलीकृत प्राइसिंग स्ट्रक्चर और अन्य वैल्यू एडेड सेवाओं को देखते हुए ग्राहकों ने हमें विशेष रूप से टियर 2 और टियर 3 शहरों में प्रतिस्पर्धियों के मुकाबले बहुत ज्यादा पसंद किया है। "


इस उपलब्धि पर एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड के सीईओ विनय अग्रवाल ने कहा, “एंजेल ब्रोकिंग ने भारत में रिटेल व्यापार का तरीका बदल दिया है और वित्तीय समाधानों की विस्तृत रेंज पेश करता है। हम डिजाइनिंग, एक्जीक्यूशन और ग्राहक जुटाने के चरणों में अपने प्लेटफॉर्म की क्षमता को बढ़ाने की दिशा में प्रयास करते हैं, जिससे नई पीढ़ी के ट्रेडर्स और निवेशकों के लिए सही साझेदार होने का वादा निभाया जा सके।”