मार्च 2020 से ब्रोकरेज फर्म ने औसतन एक लाख नए अकाउंट हर महीने जोड़े

भविष्य पर अपनी नजर रखते हुए ब्रोकरेज फर्म ने ‘एम्पलीफायर्स’ नाम से एक यूनिक प्लेटफार्म लॉन्च किया है, जो इंडस्ट्री में गेम-चेंजर साबित हो रहा है। यह भारतीय इनफ्लूएंसर्स को ब्रोकरेज फर्म से सीधे जुड़ने और एंड-कस्टमर को अपने चुने संदेश भेजने में सक्षम बनाता है। एंजेल ब्रोकिंग पॉडकास्ट, वेबिनार, ट्रेनिंग सेशन, आदि के माध्यम से अपने कंटेंट कोलेबोरेटर्स के लिए एक अच्छा लर्निंग एक्सपीरियंस प्रदान करता है।



मुंबई : भारतीय ब्रोकिंग इंडस्ट्री में अपनी बढ़ती पहुंच के आधार पर एंजेल ब्रोकिंग अब एनएसई पर एक्टिव क्लाइंट्स के मामले में देश की चौथी सबसे बड़ी ब्रोकरेज फर्म बन गई है। नए जमाने की ब्रोकरेज फर्म में जिस गति से मिलेनियल कस्टमर जुड़े हैं, उसी की बदौलत यह संभव हो सका है। यह कस्टमर टेक-सैवी हैं और डिजिटली ट्रांजेक्शन करने के लिए डीआईवाय पसंद करते हैं। ब्रोकरेज फर्म ने पिछले एक साल में कई पुरस्कार जीते। मार्च-2020 से यह अपने प्लेटफॉर्म पर हर महीने औसतन 1 लाख ग्राहक जोड़ने में कामयाब रहा है।


एंजेल ब्रोकिंग की तेज वृद्धि फर्म के आक्रामक डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन और इनोवेटिव अप्रौच का परिणाम है। स्टार्टर्स के लिए, एंजेल ब्रोकिंग के साथ अकाउंट खोलना और ट्रेडिंग शुरू (ग्राहकों के लिए केवायसी कम्प्लायंस) करने में 15 मिनट से कम समय लगता है। प्लेटफार्म भी फ्री इक्विटी डिलीवरी ट्रेड्स के साथ सरलीकृत प्राइजिंग और इंट्रा-डे, एफएंडओ ट्रेड्स्, कमोडिटी और करेंसी के लिए 20 रुपए का फ्लैट चार्ज वसूलता है। इसके अलावा, इनोवेटिव मार्केटिंग अप्रौच फर्म के अखिल भारतीय मिलेनियल ऑडियंस बेस के साथ सामने आती है।


एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड के सीएमओ प्रभाकर तिवारी ने कहा, 'एंजेल ब्रोकिंग में हमारा निरंतर फोकस ग्राहकों को यूनिक व मीनिंगफुल एक्सपीरियंस देना है। हमारे शक्तिशाली, इसके बाद भी इस्तेमाल में आसान ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म मिलेनियल कस्टमर्स की अपेक्षाओं के अनुरूप एक सीमलेस, डेटा-ड्रिवन इन्वेस्टमेंट एक्सपीरियंस प्रदान करता है। इसके अलावा, हम इक्विटी निवेश यात्रा को समस्याओं से दूर रखने के लिए निरंतर इनोवेशन मोड में हैं। हमें नई उपलब्धि हासिल करने पर गर्व है और हम अपने सभी ट्रेडर्स/ इन्वेस्टर्स और पार्टनर्स को ब्रांड एंजेल ब्रोकिंग पर भरोसा करने के लिए धन्यवाद देते हैं। ”


एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड के सीईओ विनय अग्रवाल ने इस उपलब्धि पर कहा, “हमने एक पारंपरिक ब्रोकरेज फर्म से शेयर बाजार में प्रवेश के लिए मिलेनियल्स की पहली पसंद के रूप में उभरने तक की यात्रा में लंबी छलांग लगाई है। मार्च-2020 के बाद से हमने हर महीने औसतन एक लाख नए खाते जोड़े हैं और अब हमारा लक्ष्य इस विकास दर को बनाए रखते हुए रिटेल स्टॉक ब्रोकिंग में मार्केट लीडर बनना है।