सबसे बड़ी अखिल भारतीय प्रवेश और स्काॅलरशिप परीक्षा

नयी दिल्ली ; विभिन्न प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के प्रमुख संस्थानों में एक विद्यामंदिर क्लासेस ने  विद्यामंदिर इंटलेक्ट क्वेस्ट (टप्फ) के सहर्ष शुभारंभ करने की घोषणा की है। यह आईआईटीजेईई और नीट के 1 लाख से अधिक़ उम्मीदवारों के लिए इस वर्ष सबसे बड़ी प्रवेश और स्काॅलरशिप परीक्षा होगी।



आईआईटीजेईई और नीट प्रवेश परीक्षा तैयारी के अग्रणी संस्थान वीएमएस का इसके माध्यम से दोनों परीक्षाओं के उम्मीदवारों के उच्च अंक प्राप्त करने मार्ग प्रशस्त करना है। यह परीक्षा 24 अक्टूबर और 1 नवंबर 2020 को आॅनलाइन होगी। इसके माध्यम से अप्रैल 2021 से शुरू होने वाले क्लासरूम और आॅनलाइन प्रोग्राम में दाखिले होंगे। उम्मीदवार इन दो में परीक्षा की कोई तिथि चुन सकते हैं। इस तरह परीक्षा के समय त्योहारों के बावजूद उन्हें अपनी पसंद से तिथि चुनने की सुविधा होगी। महामारी के मद्देनजर पिछले साल की तुलना में शुल्क नहीं बढ़ाने का विद्यामंदिर प्रबंधन ने निर्णय लिया है यानी विद्यार्थी पुराने शुल्क पर तैयार करने का लाभ लेंगे। परीक्षा में योग्य होने पर उन्हें केवल 9,999 रुपये का भुगतान कर कोर्स में पंजीकरण कराना है और शेष राशि वे अप्रैल 2021 तक दे सकते हैं।


उम्मीदवारों के लिए यह बहुत बड़ा अवसर है क्योंकि वे परीक्षा में योग्यता दर्ज कर चुने हुए क्लासरूम प्रोग्राम पर कम से कम 50,000 रु. की बचत करेंगे और उनकी प्रतिभा और परीक्षा के स्कोर के आधार पर 100 प्रतिशत तक स्काॅलरशिपा प्राप्त कर सकते हैं। साथ ही, वीएमसी की विशिष्ट शिक्षा पद्धति का हिस्सा बनने का मौका होगा जिसने चार राज्यों - दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, बिहार और जम्मू एवं कश्मीर से छह टॉपर्स के साथ जेईई मेन 2020 में शानदार प्रदर्शन किया है। यह परीक्षा खास कर आईआईटी / जेईई और एनईईटी उम्मीदवारों के लिए है जो सर्वश्रेष्ठ इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश और मनपसंद विषय पढ़ना चाहते हैं। उम्मीदवारों को मार्च 2021 तक निःशुल्क 120 घंटे का लाइव क्लास का भी लाभ होगा। यह परीक्षा उनकी वर्तमान क्षमता और वीआईक्यू के अंकों के आधार पर उनकी शैक्षिक बुद्धि क्षमता समझने का तरीका होगा। वीआईक्यू के साथ विद्यामंदिर ने प्राॅडिजी प्रोग्राम भी शुरू किया है जो आगामी अप्रैल में कक्षा 6 से 8  में प्रवेश लेने वाले प्री-फाउंडेशन स्टेज के विद्यार्थियों के लिए है।


इस अवसर पर वीएमसी के सह-संस्थापक ब्रिज मोहन ने कहा, ‘‘वीआईक्यू शुरू कर आईआईटीजेईई और नीट के उम्मीदवारों को प्रवेश और स्काॅलरशिप का सबसे बड़ा अवसर देते हुए हम बहुत खुश हंै। यह आईआईटी, आईआईआईटी और अन्य प्रमुख कॉलेजों में प्रवेश के उम्मीदवारों के लिए तैयारी क्षेत्र के आइकन और शानदार शिक्षकों से सटीक मार्गदर्शन लेने का शानदार अवसर है। वीएमसी की मदद से इन दो महत्वपूर्ण परीक्षाओं में उम्मीदवारों ने उच्च ग्रेड प्राप्त किए हैं। इससे उनके करियर का रास्ता बन गया है। हमारी विशिष्ट अध्ययन सामग्री विद्यार्थियों की शैक्षिक उत्कृष्टता को उभारती है और उन्हें प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं में उच्च अंक लाने का आत्मविश्वास देती है। सबसे बड़ी बात यह कि वीआईक्यू में भाग लेने वाले विद्यार्थी राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता की ओर एक कदम आगे बढ़ जाते हैं। लॉकडाउन के दौरान परीक्षा के लिए पंजीकरण शुल्क संशोधित कर 99रु. कर दिया गया।