सर्वाधिक पढ़े जाने वाले 100 लेखकों में 2015 से अब तक लगातार संतोष श्रीवास्तव का नाम शामिल

० संवाददाता द्वारा ० 
भोपाल -देश के वर्तमान में सर्वाधिक पढ़े जाने वाले 100 लेखकों में 2015 से अब तक लगातार संतोष श्रीवास्तव का नाम शामिल..राजस्थान की प्रसिद्ध संस्था राही रैंकिंग में वर्तमान में सर्वाधिक पढ़े जाने वाले लेखकों की सूची जारी की है जिसमें 2015 से अब तक लगातार चर्चित लेखिका संतोष श्रीवास्तव का नाम शामिल है। इस वर्ष वे 34 वें स्थान पर हैं । इस चयन प्रक्रिया में राही रैंकिंग की पूरी टीम देश के विश्वविद्यालयों के हिंदी विभाग , शोधार्थियों प्रकाशकों ,संपादकों, समीक्षकों, पुस्तकालय कर्मियों ,अध्यापकों, पुस्तक विक्रेताओं ,पत्र-पत्रिकाओं, इंटरनेट सर्फर्स तथा सजग पाठकों का सहयोग विभिन्न माध्यमों से लिया है। राही रैंकिंग द्वारा चयनित रचनाकारों के विभिन्न विधाओं के साझा संकलन भी प्रकाशित किए जा रहे हैं।

ज्ञातव्य है कि संतोष श्रीवास्तव की सद्य प्रकाशित आत्मकथा "मेरे घर आना जिंदगी "काफी चर्चित हो रही है ।नागा साधुओं पर लिखा उनका उपन्यास "कैथरीन और नागा साधुओं की रहस्यमई दुनिया" ऑनलाइन चर्चित प्रशंसित हो किताब रूप में भी उपलब्ध है। उनकी पुस्तकों पर विभिन्न विश्वविद्यालयों से शोध कार्य हो रहे हैं तथा आलोचनात्मक ग्रंथ लिखे जा रहे हैं ।संतोष जी की लघु कथाएं ,कहानियां सीबीएसई बोर्ड से लेकर महाविद्यालय एवं स्कूलों में भी पढ़ाई जा रही हैं। कहानियों पर नाट्य मंचन एवं ऑडियो भी तैयार हुए हैं। इन दिनों वे अपने शोध परक उपन्यास जो महाभारत कालीन माधवी पर है काम कर रही हैं।

टिप्पणियाँ

बहुत बहुत आभार कुटुबमेल का

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जयपुर में 17 प्रदेशों के प्रतिनिधियो ने प्रभावी शिक्षा प्रणाली तथा नई शिक्षा नीति पर मंथन किया

"मुंशी प्रेमचंद के कथा -साहित्य का नारी -विमर्श"

इंडियन फेडरेशन ऑफ जनरल इंश्योरेंस एजेंट एसोसिएशन का राजस्थान रीजन का वार्षिक अभिकर्ता सम्मेलन

हिंदी के बदलते स्वरूप के साथ खुद को भी बदलने की तरफ जोर

अर्न्तराष्ट्रीय इस्सयोग समाज के साधकों द्वारा अखंड साधना भजन