उमा शंकर शाह और सीमा शर्मा शाह की पेंटिंग प्रदर्शनी

० योगेश भट्ट ० 
मुंबई-'हिम ऑफ द रिवर सिटीज' शीर्षक से दो नेपाली कलाकार - उमा शंकर शाह और सीमा शर्मा शाह के द्वारा प्रिंट और तेल चित्रों में बनाई गई पेंटिंग प्रदर्शनी का आयोजन हिरजी जहांगीर आर्ट गैलरी मुम्बई में दिनांक 26 सितंबर से 2 अक्टूबर तक किया जा रहा है इस अवसर पर कलाकारों ने बताया कि इस प्रदर्शनी में हिंदू और बौद्ध पौराणिक कथाओं, हिंदू मंदिरों, बौद्ध स्तूपों और शिवालयों के आसपास की कलाकृतियों को अपनी कल्पना और रंगों के माध्यम से कैनवास पर उकेरा है

नेपाल के सुप्रसिद्ध कलाकार, उमा शंकर शाह की कलाकृतियां नेपाली धार्मिक, लोक कलाओं के रूपों और सामग्रियों की आधुनिकतावादी प्रस्तुतियाँ हैं शाह हमेशा काठमांडू से मोहित रहे हैं, एक ऐसा शहर जो अनिवार्य रूप से मध्ययुगीन आभा को बरकरार रखता है लेकिन कंक्रीट के बक्से से लगभग अछूता रहा है, जिससे इसकी मूल विशेषता को पहचानना असंभव हो गया है। शाह ने रंग और आत्मविश्वासपूर्ण दृष्टिकोण का उपयोग करके उस पुराने आकर्षण और रहस्यवाद को फिर से बनाया है, उनकी सह-प्रदर्शक और दक्षिण एशिया में समकालीन प्रिंट निर्माताओं में से एक, डॉ सीमा शर्मा शाह का जन्म 1966 में हुआ, अपनी पीएच.डी. बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से प्रिंटमेकिंग में की, सीमा बनारस के घाटो से शुरू से ही बहुत प्रभावित रही है ,घाट सिरीज को मुंबई में पहली बार लॉन्च कर रही है,

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जयपुर में 17 प्रदेशों के प्रतिनिधियो ने प्रभावी शिक्षा प्रणाली तथा नई शिक्षा नीति पर मंथन किया

"मुंशी प्रेमचंद के कथा -साहित्य का नारी -विमर्श"

इंडियन फेडरेशन ऑफ जनरल इंश्योरेंस एजेंट एसोसिएशन का राजस्थान रीजन का वार्षिक अभिकर्ता सम्मेलन

हिंदी के बदलते स्वरूप के साथ खुद को भी बदलने की तरफ जोर

अर्न्तराष्ट्रीय इस्सयोग समाज के साधकों द्वारा अखंड साधना भजन