Sunday, May 31, 2020

ON LINE पत्रकारिता दिवस पर संगोष्ठी:आज के डिजिटल दौर में पत्रकारिता


नई दिल्ली : हिंदी पत्रकारिता दिवस के उपलक्ष्य में राष्ट्रीय मीडिया महासंघ (एनएमसी) द्वारा एक वेबिनार का आयोजन किया गया। वेबिनार के माध्यम से डिजिटल दौर में पत्रकारिता नामक विषय पर गोष्ठी भी आयोजित की गई। वेबिनार का संचालन राष्ट्रीय मीडिया महासंघ (एनएमसी) के राष्ट्रीय महासचिव शीबू खान ने किया, जिसमें उन्होंने उपस्थित वक्ताओं एवं अन्य का स्वागत करते हुए मीटिंग का एजेंडा बताते कार्यक्रम की शुरुआत की।


इस दौरान गोष्ठी की शुरुआत ओडिशा से सांसद व पूर्व मंत्री प्रोफेसर प्रसन्ना पटसानी ने की। इसके बाद मुख्य वक्ता के तौर पर राष्ट्रीय मीडिया महासंघ (एनएमसी) के वरिष्ठ सह संस्थापक एवं वरिष्ठ पत्रकार सुनील डंग ने उपस्थित पत्रकारों के समक्ष हिंदी पत्रकारिता दिवस पर प्रकाश डालते हुए निष्पक्ष पत्रकारिता की बात कही। इसी क्रम में पूर्व मंत्री प्रोफेसर पटसानी ने भी अपने वक्तव्य में पत्रकार एवं पत्रकारिता जगत की बात भी बखूबी अंदाज़ में रखी, उन्होंने स्पष्ट किया कि किसी भी दशा में पत्रकारिता धर्म से नही भटकना चाहिए। इसी कड़ी में वरिष्ठ पत्रकार बालासाहेब आम्बेकर व नारायनपुरकर ने भी अपनी बातों को रखा। इसके बाद राष्ट्रीय मीडिया महासंघ (एनएमसी) की संस्थापिका एवं वरिष्ठ पत्रकार पुष्पा पांड्या ने आज की पत्रकारिता पर अपने विचार रखें, उन्होंने सरकार से मीडिया को मीडिया पालिका का संवैधानिक दर्जा दिए जाने की भी बात उठाई एवं तमाम अन्य मुद्दों पर भी एकजुट होकर मीडिया को बचाओ आदि का नारा देकर सरकार से अपील की।


इसके बाद मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे वरिष्ठ पत्रकार एवं अखिल भारतीय समाचार पत्र एसोसिएशन के अध्यक्ष अखिलेश शुक्ला ने हिंदी पत्रकारिता दिवस पर आज की और आज से पहले के दशकों की स्थिति पर जमकर चर्चा की एवं उपस्थित रहे पत्रकारों से निष्पक्ष पत्रकारिता करने का संकल्प लेने की बात कही। इसके बाद वेबिनार आयोजक एवं एनएमसी के राष्ट्रीय महासचिव शीबू खान ने उपस्थित पत्रकारों खासकर युवा पत्रकारों में जोश भरने का काम किया व पत्रकार एवं पत्रकारिता जगत की गरिमा को बनाये रखने की बात कही। इसी कड़ी में एनएमसी के उत्तर प्रदेश इकाई के प्रदेश अध्यक्ष इश्तियाक अहमद, प्रयागराज मण्डल के अध्यक्ष मोहम्मद आबिद, कौशाम्बी जिलाध्यक्ष दिनेश कुमार, प्रयागराज जिलाध्यक्ष हसनैन रिज़वी सहित कौशाम्बी जिला अनुशासन समिति के चेयरमैन ने अपनी बात रखते हुए पत्रकारिता जगत को सम्मान के साथ बढ़ाने की बात कही।


अंत मे उपस्थित अतिथियों का आभार एनएमसी उत्तर प्रदेश इकाई के राज्य सलाहकार समिति के चेयरमैन कमाल अहमद खान द्वारा किया गया। इस दौरान दर्जनों की तादाद में पत्रकार उपस्थित रहें। कार्यक्रम को सहयोगी संचालन के रूप में युवा प्रशिक्षु पत्रकार ज्योति जायसवाल ने संचालित किया।

आज के डिजिटल दौर में पत्रकारिता


Labels: