टीसीएस आईओएन इंटेलिजेम पांचवी से नौवीं कक्षाओं के छात्रों के लिए राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता

तीन चरणों की इस प्रतियोगिता में क्वालिफाइंग राउंड शामिल है, घर से ही ऑनलाइन असेस्मेंट्स के जरिए इस राउंड को पूरा किया जा सकता है। उसके बाद फिजिटल मोड में और आखिर में राष्ट्रीय स्तर पर महाअंतिम प्रतियोगिता होगी।  टीसीएस आईओएन इंटेलिजेम के विजेताओं और अंतिम चरण में पहुंचने वालों को आकर्षक नकद पुरस्कार, आधुनिक खिलौने, ट्रॉफियां, पदक और प्रमाण पत्र, पुस्तकें और सदस्यता जीतने के साथ-साथ लीडरशिप ट्रेनिंग जीतने का भी मौका है। सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले स्कूलों को स्कूल एक्सीलेंस अवॉर्ड्स से सम्मानित किया जाएगा, साथ ही उन्हें राष्ट्रीय पहचान मिलेगी।



नयी दिल्ली : आईटी सेवा, परामर्श और व्यवसाय समाधान प्रदान करने वाले अग्रणी वैश्विक संगठन टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस (टीसीएस) (बीएसई: 532540, एनएसई: टीसीएस) ने टीसीएस आईओएन इंटेलिजेम के तीसरे एडिशन के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू होने की घोषणा की  है। टीसीएस आईओएन इंटेलिजेम पांचवी से नौवीं कक्षाओं के छात्रों के लिए आयोजित की जाने वाली राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता है। टीसीएस आईओएन इंटेलिजेम पहले से डिज़ाइन किया गया, पद्धतिबद्ध परिक्षण है जो युवा शिक्षार्थियों को पांच प्रमुख क्षेत्रों में प्रासंगिक, आवश्यक कौशल विकसित करने में मदद करता है - रचनात्मकता और नवाचार, संचार, वित्तीय साक्षरता, सार्वभौमिक मूल्य और वैश्विक नागरिकता।


वर्तमान कोविड-19 दुनिया में, शिक्षा क्षेत्र तेजी से बदल रहा है। इस अनिश्चित, जटिल, वैश्विक और लगातार विकसित हो रही डिजिटल दुनिया में, छात्रों को अधिक कौशल, अधिक क्षमताओं के जरिए अपने आप को साबित करना पड़ता है और प्रतिस्पर्धा का सामना करना भी उनके लिए अनिवार्य बन चूका है। देश भर के स्कूलों और छात्रों को भविष्य की चुनौतियों के लिए तैयार रहने में मदद करने के लिए, टीसीएस आईओएन ने इंटेलिजेम यह प्रतियोगिता तैयार की। एक अद्वितीय प्रतियोगिता मोड में यह अपनी तरह का पहला मेटा-ऐकडेमिक मंच  है। युवाओं में नेतृत्व कौशल विकसित करना और उन्हें  कोविड-19 के बाद दुनिया में आगे बढ़ पाने के लिए जीवन के हर क्षेत्र में आवश्यक कौशल के साथ सुसज्जित करना प्रतियोगिता का उद्देश्य है।


टीसीएस आईओएन के ग्लोबल हेड वेंगुस्वामी रामास्वामी ने कहा, “हाल ही में घोषित की गयी राष्ट्रीय शिक्षा नीति में शिक्षा क्षेत्र में कार्यरत संगठनों और लोगों के साथ-साथ छात्रों को व्यावहारिक कौशल विकसित करने के लिए प्रोत्साहित किया गया है और रट्टा मारकर सीखने की संस्कृति से दूर रहने के लिए भी प्रेरित किया गया है। इस दृष्टि के साथ-साथ वर्तमान स्थिति की जटिलता को ध्यान में रखते हुए, टीसीएस आईओएन इंटेलिजेम को छात्रों को जीवन के हर क्षेत्र में आवश्यक कौशल विकसित करने में मदद करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।”


उन्होंने आगे कहा, "हम जानते हैं कि पहले सिर्फ एक ही करिअर किया जाता था लेकिन आज के छात्र बिलकुल अलग हैं, वे एक साथ कई काम और कई करिअर करना चाहते हैं।  यह प्रतियोगिता उनकी विविध आकांक्षाओं को पहचानते हुए जटिल, वैश्विक और तेजी से बदलती हुई डिजिटल दुनिया में प्रतिस्पर्धी बने रहने के लिए छात्रों को उच्च मूल्य कौशल प्राप्त करने में मदत करती है।" आकर्षक नकद पुरस्कारों को जीतने के अलावा, इस प्रतियोगिता में भाग लेने वाले छात्रों को मुफ्त और मजेदार शिक्षा सामग्री भी उपलब्ध करायी जाती है जिसमें 21 वीं सदी के कौशल पर आधारीत डिजिटल बुकलेट, वेबिनार, पहेलियाँ, खेल और बहुत कुछ शामिल हैं। इंटेलिजेम के जरिए छात्रों को दिग्गज उद्यमियों के साथ जुड़ने का अवसर मिलता है, जिससे उन्हें अपनी शिक्षा के क्षितिज को व्यापक बनाने में मदद मिलती है।  


इसके अलावा, इंटेलिजेम में छात्रों को इंटेलिजेम कोशंट रिपोर्ट दी जाती है जिससे वे 21 वीं सदी के कौशल के बारे में अपने ज्ञान और समझ पर व्यक्तिगत मूल्यांकन कर सकते हैं।  टीसीएस आईओएन इंटेलिजेम के तीसरे एडिशन के रजिस्ट्रेशन्स अब देश भर के स्कूलों के लिए शुरू हो चुके हैं और वह 15 अक्टूबर 2020 को बंद होंगे। अधिक जानकारी के लिए और अपने स्कूल को रजिस्टर करने के लिए http://intelligem.tcsion.com/ पर लॉग ऑन करें।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अतरलाल कोलारे बने नुन्हारिया मेहरा समाज के प्रांतीय अध्यक्ष

दिल्ली मूल ग्रामीणों की 36 बिरादरी अपनी अनदेखी से लामबंद

मुंबई उपचुनाव में MEP का शानदार प्रदर्शन : दिल्ली MCD चुनाव में उम्मीदवार उतारने का फैसला

डॉ सुब्बाराव की पुण्यतिथि पर शिविरार्थियों ने मानसरोवर में निकाली सदभावना रैली

आजादी के बाद भी बिरसा मुंडा को उचित सम्मान न दिए जाने पर निराशा