संदेश

बिज़नेस लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

आईओटेक वर्ल्ड कोयंबटूर में 22वें CODISSIA एग्री इनटेक्स में एग्रीबॉट एमएक्स ड्रोन पेश करेगा

चित्र
० योगेश भट्ट ०  कोयंबटूर : आईओटेकवर्ल्ड, कृषि में प्रयोग होने वाली ड्रोन टेक्‍नोलॉजी 11 जुलाई से 15 जुलाई तक तमिलनाडु के कोयंबटूर में CODISSIA ट्रेड फेयर कॉम्प्लेक्स में आयोजित होने वाले 22वें CODISSIA एग्री इनटेक्स मेले में धूम मचाने के लिए तैयार है। कंपनी अपना नया प्रोडक्‍ट, एग्रीबॉट एमएक्स ड्रोन पेश करने के लिए उत्साहित है। यह उपकरण खासतौर पर भारत के दक्षिणी राज्यों के प्रगतिशील किसानों की आधुनिक सिंचाई की जरूरतों को पूरा करने के लिए बनाया गया है। भारतीय कृषि क्षेत्र में इस्तेमाल होने वाला नंबर वन ड्रोन कृषि की उन्नत तकनीक के शिखर का प्रतिनिधित्व करता है। इसका लक्ष्य खेती में आधुनिक तरीके अपनाकर क्रांतिकारी बदलाव लाना है, जिससे उत्पादकता के साथ स्थिरता भी बढ़ी है। ट्रेड फेयर देखने आने वाले मेहमानों को हॉल एच, स्टॉल नंबर पांच, में एग्रीबॉट एमएक्स ड्रोन को देखने का अवसर मिलेगा। इस प्रदर्शनी में मेहमान एग्रीबॉट ए6 और निगरानी रखने वाला दृष्टि सर्विलांस ड्रोन भी देख सकेंगे।  एग्रीबॉट एमएक्स ड्रोन में आधुनिक तकनीक पेश की गई है, जिसनें रडार पर आधारित एडीएएस-(एडवांस ड्रोन असिस्टेंस सिस्टम)

ग्रैप के प्रभाव और समाधान पर चर्चा

चित्र
० योगेश भट्ट ०  नयी दिल्ली - ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (ग्रैप) के परिणामों की जांच करने और संभावित समाधानों का पता लगाने के लिए एक चर्चा आयोजित की गई। कॉन्स्टिट्यूशन क्लब ऑफ इंडिया में आयोजित इस कार्यक्रम का उद्देश्य वायु प्रदूषण के बारे में बढ़ती चिंताओं को संबोधित करना था, विशेष रूप से सर्दियों के दौरान निर्माण कार्य को रोकने जैसे ग्रैप उपायों के प्रभाव को संबोधित करना रहा. सिग्नेचर ग्लोबल (इंडिया) लिमिटेड के को- फाउंडर और वाईस चेयरमैन ललित अग्रवाल ने इस कार्यक्रम में भाग लिया और सर्दियों के मौसम में निर्माण उद्योग के सामने आने वाली चुनौतियों पर प्रकाश डाला, जब ग्रैप प्रदूषण के स्तर को कम करने के लिए निर्माण गतिविधियों को रोकने का आदेश देता है।  अग्रवाल ने इस मुद्दे पर अपने दृष्टिकोण साझा किए, संतुलित समाधानों की आवश्यकता पर बल दिया जो आर्थिक विकास को बाधित किए बिना पर्यावरण संबंधी चिंताओं को संबोधित करते हैं। अपने संबोधन में, उन्होंने कहा, "जबकि हम वायु गुणवत्ता में सुधार के प्रयासों का पूरी तरह से समर्थन करते हैं, एक ऐसा मध्य मार्ग खोजना महत्वपूर्ण है जो सतत विकास की अनुमति

गरवारे हाई-टेक फिल्म्स ने दिल्ली में पेंट प्रोटेक्शन फिल्म एप्लीकेशन स्टूडियो लॉन्च किया

चित्र
० योगेश भट्ट ०  नयी दिल्ली - स्पेशलिटी फिल्म उद्योग में एक अग्रणी खिलाड़ी, गरवारे हाई-टेक फिल्म्स लिमिटेड (जीएचएफएल) ने गर्व से दिल्ली में दो अत्याधुनिक पेंट प्रोटेक्शन फिल्म एप्लीकेशन स्टूडियो के भव्य उद्घाटन की घोषणा की। यह मील का पत्थर एक महत्वपूर्ण विस्तार का प्रतीक है। बेहतर वाहन सुरक्षा समाधान प्रदान करने के लिए जीएचएफएल की प्रतिबद्धता, नवाचार में इसके नेतृत्व को और मजबूत करती है।  दिल्ली स्टूडियो के उद्घाटन में जीएचएफएल के उपाध्यक्ष धर्मेंद्र कपूर, जीएचएफएल के महाप्रबंधक अर्जुन कपूर सूरी, जीएचएफएल के क्षेत्रीय प्रमुख रतेश कसाना भी शामिल हुए। मनमीत सिंह - इन्फिनिटी कार और बाइक डिटेलिंग, मालवीय नगर, दिल्ली स्टूडियो के मालिक और सुश्री श्वेता पहल, ऑटोकार्ट, रोहिणी, दिल्ली, स्टूडियो मालिक भी स्टूडियो के उद्घाटन में उपस्थित थे।  90 वर्षों की शानदार विरासत के साथ, गरवारे हाई-टेक भारतीय विनिर्माण क्षेत्र में उत्कृष्टता का पर्याय बन गया है। दुनिया की नंबर 1 पूरी तरह से एकीकृत 'चिप टू फिल्म' प्रौद्योगिकी कंपनी के रूप में, जीएचएफएल तकनीकी प्रगति में सबसे आगे है, उच्च प्रदर्शन वाली

फैशन : दिल्ली में कल्कि का दूसरा स्टोर पीतमपुरा में खुला

चित्र
० योगेश भट्ट ०  नई दिल्ली : लग्जरी और प्रीमियम स्टाइल के फॉर्मल कपडों के लिए कल्कि फैशन ने दिल्ली के पीतमपुरा इलाके में अपने दूसरे स्टोर का उद्घाटन किया। लक्जरी कपड़ों को पसंद करने वाले और उनकी चाहत रखने वाले हर व्यक्ति के लिए कल्कि एक प्रमुख फैशन गंतव्य है। पीतमपुरा का कल्कि फैशन स्टोर समकालीन और पारंपरिक फैशन, दोनों का प्रदर्शन करता है। दुल्हन के विशिष्ट परिधान, रेडी-टू-वियर और विशेष अवसर परिधानों की एक विस्तृत श्रृंखला की पेशकश करते हुए, कल्कि की इस फ्लैगशिप स्टोर का उद्घाटन बॉलीवुड एक्ट्रेस और मुंज्या फिल्म की हीरोइन शरवरी वाघ ने किया। कल्कि की फैशन यात्रा में मील का पत्थर साबित होने वाले दिल्ली के इस रिटेल स्टोर का एक विशेष औचित्य है। दिल्ली शहर अपनी सांस्कृतिक विरासत, अच्छी गुणवत्ता वाले कपड़ों और आकर्षक टेपेस्ट्री के लिए जाना जाता है। इस राजधानी के उच्च गुणवत्ता वाले पारंपरिक और समकालीन परिधानों के उत्पादन के लिए ब्रांड की प्रतिबद्धता के कारण देश के विभिन्न शहरों में इसका तेजी से विस्तार हुआ है।  बॉलीवुड सेलिब्रिटी शरवरी वाघ ने सभी दुल्हनों के लिए फैशनेबल ड्रेस की एक विशेष गैलरी

मानव संसाधन पर विचार करता काईट : HR कॉन्क्लेव 2024

चित्र
० योगेश भट्ट ०  नयी दिल्ली - दिल्ली-एन०सी०आर स्थित काईट ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस ने दिल्ली में HR कॉन्क्लेव 2024 नामक कार्यक्रम का आयोजन किया। इस कार्यक्रम में मानव संसाधन अर्थात ह्यूमन रिसोर्सेज के क्षेत्र से सम्बंधित नामी एवं वरिष्ठ विशेषज्ञों को आमंत्रित किया गया था जिन्होंने मानव संसाधन के क्षेत्र में नवीन विचारों पर गहन चर्चा की और सभी उपस्थित लोगों के लिए बहुमूल्य अंतर्दृष्टि प्रदान की। केपीएमजी, ईपीएएम, ब्रिलियो, सर्विसनाउ, हेक्सावेयर, जंगलगेम्स, न्यूजेन, एवेवा, पर्सिस्टेंट, एनटीटी डेटा, एटलसियन, डब्ल्यूएनएस, कोफोर्ज और अन्य बड़े संगठनों के प्रतिनिधियों संग संस्थान संकाय सदस्यों ने भी पैनल डिस्कशन में भाग लिया और अपने विचारों का आदान-प्रदान किया। एजेंडे में "टैलेंट आइसबर्ग का निर्माण" और "भविष्य में नौकरी की भूमिका: एआई का प्रभाव" पर सत्र शामिल थे, जिनका संचालन प्रो. आदेश पांडे, डीन - आईटीएसएस, एचओडी-आईटी और प्रो. रेखा कश्यप, एचओडी - सीएसई एआईएमएल द्वारा किया गया। इनके अतिरक्त अन्य विभागों के डीन और प्रमुखों ने भी नेटवर्किंग सत्रों में सक्रिय रूप से भाग लिया और

जि़प इलेक्ट्रिक ने 73 मिलियन डिलीवरी की उपलब्धि हासिल की, डिलीवरी पार्टनर्स ने की रिकॉर्ड कमाई

चित्र
० योगेश भट्ट ०  नई दिल्ली – ज़िप इलेक्ट्रिक ने घोषणा की है कि उसके गिग वर्कर्स (अस्थायी कर्मचारियों) की कमाई में ज़बरदस्त वृद्धि हुई है। कमाई में यह वृद्धि दर्शाती है कि ज़िप इलेक्ट्रिक अपने डिलीवरी पार्टनर्स को कमाई के स्थायी और आकर्षक अवसर प्रदान करने और उनके जीवन स्तर को बेहतर बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। जि़प इलेक्ट्रिक भारत का अग्रणी टेक्‍नोलॉजी-इनेबल्‍ड ईवी-एज़-ए-सर्विस प्लेटफॉर्म है। जि़प पायलट मुख्य रूप से ईवी राइडर्स हैं, जिनकी उम्र 27 वर्ष है। इन पायलटों ने एक महत्‍वपूर्ण उपलब्धि हासिल की है। 8% पायलट अब हर महीने 50,000 रुपये से अधिक कमा रहे हैं, जिसमें मार्च से 50% की वृद्धि हुई है। इसके अलावा, 14% जि़प पायलटों की मासिक आय बढ़कर 40,000 और 50,000 रुपये पहुंच गई है, और इसमें मार्च 2024 के मुकाबले 81% की जबरदस्त वृद्धि हुई है। कुल मिलाकर, 35% जि़प पायलट हर महीने 24,000 रुपये से अधिक की कमाई कर रहे हैं, जो जि़प के समर्पित कर्मचारियों की आय में लगातार वृद्धि को दर्शाता है। जि़प के तिपहिया वाहन पायलटों की आय में भी उल्लेखनीय सुधार देखने को मिला है। 5% तिपहिया वाहन पायलट प्रति माह 80

यमुनानगर में खोला गया सबसे बड़ा वैलकम सेंटर

चित्र
० नूरुद्दीन अंसारी ०   नई दिल्ली - यमुनानगर,हरियाणा में किए गए प्रयासों जैसे सड़क नेटवर्क के विस्तार, पड़ोसी राज्यों के साथ बेहतर कनेक्टिविटी और सार्वजनिक परिवहन प्रणाली के आधुनिकीकरण के चलते यमुनानगर में बड़े बदलाव आए हैं। इन सभी प्रयासों के चलते क्षेत्र में परिवहन एवं सुलभता में सुधार हुआ है और आर्थिक विकास को गति मिली है। रियल एस्टेट डेवलपर एम्पेरियम प्रा. लिमिटेड ने बुरिया चौक के नज़दीक एम्पेरियम रेज़ॉर्टिको वैलकम सेंटर का उद्घाटन किया। यह सेंटर सम्पत्ति, फाइनैंस के विकल्पों एवं परियोजना के विवरण पर व्यापक जानकारी देता है। वैलकम सेंटर रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड और राष्ट्रीय राजमार्ग के नज़दीक स्थित है। यह रेज़ॉर्टिको प्रोजेक्ट का हिस्सा है। सेंटर भावी खरीददारों, निवेशकों और समुदाय के सदस्यों को सेवाएं प्रदान करेगा।  यमुनानगर में रिहायशी अनुभव को बेहतर बनाने के लिए एम्पेरियम रेज़ॉर्टिको वैलकम सेंटर आधुनिक कार्यालय इस तरह से डिज़ाइन किया गया है कि उपभोक्ताओं को बेजोड़ सर्विस और मार्गदर्शन प्रदान करता है। यह सेंटर ऐसे समुदाय के निर्माण के हमारे दृष्टिकोण को पूरा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा

रावत एजुकेशनल ग्रुप एजुकेशन एक्सीलेंस अवार्ड 2024 से सम्मानित

चित्र
० आशा पटेल ०  जयपुर - रावत एजुकेशनल ग्रुप को शिक्षा के क्षेत्र में दिए गए अभूतपूर्व योगदान हेतु अनेक अंतरराष्ट्रीय एवम राष्ट्रीय स्तर के अवार्ड मिल चुके हैं। रावत ग्रुप के आर बी एस ई और सी बी एस ई के स्कूल्स के स्टूडेंट्स ने ऑल इंडिया लेवल पर टॉप रैंक प्राप्त करके हमेशा ग्रुप को गौरवान्वित किया है। रावत एजुकेशनल ग्रुप के चेयरमैन बी एस रावत एवम निदेशक नरेंद्र सिंह रावत को शिक्षा के क्षेत्र में दिए गए उत्कृष्ट योगदान के लिए उप मुख्यमंत्री प्रेम चंद बैरवा एवम शिक्षा मंत्री मदन दिलावर द्वारा एजुकेशन एक्सीलेंस अवार्ड 2024 से सम्मानित किया गया। इस अवॉर्ड सेरेमनी में हुए पैनल डिस्कशन में रावत एजुकेशनल ग्रुप के निदेशक एवम अक्षेंद्र वेलफेयर सोसायटी के सचिव नरेंद्र सिंह रावत ने हिस्सा लिया और शिक्षा जगत में आ रही समस्याओं एवम तकनीकी शिक्षा के महत्व को बताया। बच्चों को दिए गए अपने संदेश में उन्होंने कर्म करके निरंतर आगे बढ़ने की प्रेरणा दी।

एक्सपीरियन ने एक्सपीरियन एलिमेंट्स के साथ पर्यावरण-अनुकूल,नोएडा के ईवी-रेडी होम्स का अनावरण किया

चित्र
० योगेश भट्ट ०  नई दिल्ली : एक्सपीरियन डेवलपर्स ने एक्सपीरियन एलिमेंट्स प्रोजेक्ट में नोएडा के पहले ईवी पार्किंग अपार्टमेंट का अनावरण करके संवहनीय जीवन के लिए नया मानक स्थापित किया है। यह पहल पर्यावरण के अनुकूल नवाचार के प्रति एक्सपीरियन की प्रतिबद्धता को दर्शाती है, और इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) इंफ्रास्ट्रक्चर की बढ़ती मांग को पूरा करती है।   एक्सपीरियन एलिमेंट्स के ईवी पार्किंग अपार्टमेंट्स में अत्याधुनिक चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर है, जिससे निवासियों को घर पर अपने इलेक्ट्रिक वाहनों को आसानी से चार्ज करने की सहूलियत मिलती है।  इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए डिज़ाइन किया गया, यह अत्याधुनिक चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर एक्सपीरियन एलिमेंट्स के निवासियों को सहजता से पर्यावरण के अनुकूल परिवहन को अपनाने की सहूलियत देता है। यह इनोवेटिव पेशकश इलेक्ट्रिक मोबिलिटी की ओर बढ़ते वैश्विक रुझान के अनुरूप है, जो एक्सपीरियन को संवहनीय लिविंग स्पेस के मामले में सबसे आगे रखता है। ईवी पार्किंग अपार्टमेंट्स के अलावा, एक्सपीरियन एलिमेंट्स को ऊर्जा की खपत को कम करने के लिए सभी घरों में परफॉर्मेंस ग्लास वाले वहनीय पहलू बना

युवा खरीदारों ने बढ़ाई ऑडी इंडिया की बिक्री : एसयूवी की ग्रोथ में मिली वृद्धि

चित्र
० योगेश भट्ट ०  नयी दिल्ली - मौजूदा समय में भारत के युवाओं के बीच ऑडी की लग्‍जरी कारों का शौक बहुत ज्‍यादा बढ़ रहा है। ऑडी इंडिया के रुझानों के मुताबिक, कंपनी के 70% नए ग्राहक 50 वर्ष से कम आयु के हैं। ऑडी की लग्‍जरी कारें अत्याधुनिक तकनीकों से लैस होती हैं, जो तकनीक प्रेमी युवा ग्राहकों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं। लग्जरी कारों को पसंद करने वाली नई पीढ़ी ऑडी को बेहद पसंद करती है क्योंकि यह ब्रांड परफॉर्मेंस, स्टाइल और इनोवेशन पर ध्यान केंद्रित करता है। हाल के वर्षों में लग्जरी कार सेगमेंट में एसयूवी की बिक्री में मजबूत वृद्धि देखने को मिली है। एसयूवी वर्सेटाइल होने के साथ ही लग्‍जरी का संगम व्‍यावहारिकता से करती हैं और ये बड़ी ही खूबसूरत होती हैं। एसयूवी परिवारों और एडवेंचर पसंद करने वालों को आकर्षित करने में सक्षम हैं। ऑडी इंडिया में, हमारे पास ऐतिहासिक रूप से एक मजबूत एसयूवी पोर्टफोलियो रहा है और हमने ऑडी Q3, ऑडी Q5 और ऑडी Q7 सहित हमारी कारों की मांग में मजबूत वृद्धि देखी है।  आज भी, हमारी Q रेंज कई खरीदारों को आकर्षित कर रही है और हम बढ़ते बाजारों खासकर टियर-2 शहरों से अच्छी मांग द

बीएलएस ई-सर्विसेज ने एडिफिडेलिस सॉल्यूशं में 55% हिस्सेदारी खरीदने के लिए समझौता किया

चित्र
० योगेश भट्ट ०  नई दिल्ली | बीएलएस ई-सर्विसेज लिमिटेड ("बीएलएसई") ने एडिफिडेलिस सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड और इसकी सहयोगी कंपनियों ("एएसपीएल") में 55% नियंत्रित हिस्सेदारी हासिल करने के लिए निर्णायक शेयर खरीद समझौते (एसपीए) पर हस्ताक्षर किए हैं। एडिफिडेलिस सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड और इसकी सहयोगी कंपनियां भारत में कॉरपोरेट और पर्सनल लोन के वितरण और प्रोसेसिंग के क्षेत्र में सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है, जिनका एंटरप्राइज वैल्यू करीब 190 करोड़ रुपये का है।  बीएलएसई लगभग 71 करोड़ रुपये (प्राइमरी और सेकेंडरी) का अग्रिम निवेश करेगा और बची हुई राशि का निवेश वित्त वर्ष 25 में लक्ष्य को हासिल करने पर किया जाएगा। यह अधिग्रहण पूरी तरह से नकद होगा, जो वित्त वर्ष 2025 की दूसरी तिमाही में पूरा हो जाएगा। एएसपीएल हब-एंड-स्पोक मॉडल के माध्यम से परिचालन करता है और इसकी 17 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में मौजूदगी है। एएसपीएल के 8,600 से अधिक चैनल भागीदारों का नेटवर्क लोन संबंधी पूछताछ का महत्वपूर्ण स्रोत है और यह बीएलएसई के बिजनेस कॉरेस्पोंडेंट के नेतृत्व वाली नागरिक-केंद्रित

सीआईआई-एनएसटीआई प्लेसमेंट ड्राइव "कुशल युवाओं को अग्रणी कंपनियों से जोड़ना"

चित्र
० योगेश भट्ट ०  देहरादून -  भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) ने राष्ट्रीय कौशल प्रशिक्षण संस्थान (एनएसटीआई) के सहयोग से एनएसटीआई देहरादून में एक प्लेसमेंट ड्राइव का आयोजन किया। इस अभियान का उद्देश्य विभिन्न क्षेत्रों में कुशल नौकरी चाहने वालों और अग्रणी कंपनियों के बीच अंतर को कम करना है। सीआईआई ने अपने सदस्यों के माध्यम से 350 से अधिक रिक्तियां निकालीं जिनमें टाटा मोटर्स, आईटीसी लिमिटेड, डिक्सन टेक्नोलॉजीज, रॉकमैन इंडस्ट्रीज, हिमालय वेलनेस कंपनी और टेक्निकल एसोसिएट्स शामिल हैं। एनएसटीआई देहरादून देश के शीर्ष 10 संस्थानों में से एक है, जो उभरते क्षेत्रों में औद्योगिक कार्यबल के गुणवत्ता प्रशिक्षण उन्नयन कौशल को प्रभावित करता है और उद्योग और शिक्षाविदों के बीच अंतर को कम करने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है, आरडीएसडीई उत्तराखंड के क्षेत्रीय निदेशक रवि चिलुकोटी ने कहा, एनएसटीआई देहरादून में सीआईआई-एनएसटीआई प्लेसमेंट ड्राइव में। उन्होंने साझा किया कि एनएसटीआई में प्रदान किए गए कौशल और प्रशिक्षण ने उनके उम्मीदवारों को उनके संबंधित क्षेत्रों में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए आवश्यक उपकरणों से

बास्केट बाय ग्रिप इन्वेस्ट, बॉन्ड और एसडीआई में पहली बार निवेश करने वालों के लिए थीम बेस्ड निवेश की सुविधा

चित्र
० नूरुद्दीन अंसारी ०  नई दिल्ली : अच्छा रिटर्न देने वाला इन्वेस्टमेन्ट प्लेटफॉर्म ग्रिप इन्वेस्ट, बॉंन्ड एवं एसडीआई मार्केट में उद्योग जगत में पहली बार अनूठा फीचर लेकर आया है। इसके साथ निर्धारित आय वाले निवेशक, निवेश की थीम में एडीआई और बॉंन्ड के वर्गीकरण द्वारा निवेश का आसान अनुभव पा सकते हैं। यह नई पेशकश बास्केट बाय ग्रिप इन्वेस्ट, थीम बेस्ड बास्केट में विशेष बॉन्ड और एसडीआई पेश करती है। एक क्लिक के साथ भुगतान के लिए डिज़ाइन किया गया बास्केट बाय ग्रिप इन्वेस्ट, रीटेल निवेशकों को उंचे रिटर्न के फायदे देता है। रीटेल निवेशकों के लिए सैंकड़ों विकल्पों में निवेश के लिए सही बॉन्ड चुनना मुश्किल हो सकता है। निवेशकों की इसी ज़रूरत को ध्यान में रखते हुए प्लेटफॉर्म फाइनैंशियल टूल- बास्केट बाय ग्रिप इन्वेस्ट लेकर आया है जो निवेश के अनुभव को तनावरहित बना देता है। यह अनुभवी निवेशकों को न्यूनतम प्रयास के साथ अधिकतम विविधीकरण का विकल्प देता है। सेबी-पंजीकृत अनुसंधान विश्लेषकों द्वारा सत्यापित, बास्केट का पहला सेट ग्रिप इन्वेस्ट पर लॉन्च किया गया जिसमें हाई रिटर्न बास्केट, हाई रेटेड बास्केट, गोल्ड शील्ड

यूईएम यूनिवर्सिटी में इंडस्ट्री ओटोमेशन हेतु ड्यूल डिग्री मेजर व माइनर डिग्री की शुरुआत

चित्र
० आशा पटेल ०  जयपुर।  दोहरी डिग्री, जैसे कि इंजीनियरिंग में, कंप्यूटर विज्ञान को मेजर और मैकेनिकल को माइनर रूप में मिलाकर या यहाँ तक कि इसके विपरीत एक मैकेनिकल फर्म के ऐसे स्वचालन में उद्योग की मदद करेगा भारत में पहली बार स्नातक स्तर या स्नातक स्तर के छात्र इंजीनियरिंग के दो पाठ्यक्रम समानांतर रूप से कर सकते हैं और वे इंजीनियरिंग की दो अलग-अलग धाराओं में एक प्रमुख डिग्री और एक माइनर डिग्री प्राप्त कर सकते हैं (जैसे: कंप्यूटर विज्ञान में प्रमुख डिग्री और मैकेनिकल में माइनर डिग्री) यूनिवर्सिटी वाईस चांसलर प्रो. (डॉ.) बिस्वजॉय चटर्जी ने बताया कि मैकेनिकल फर्मों को उचित इंजीनियर नहीं मिल रहे हैं, क्योंकि उनकी जो मशीनें हैं या उनकी जो इंडस्ट्रीज हैं, या कहे जो मैकेनिकल फर्म हैं वे अभी ऑटोमेशन की तरफ जा रही हैं, इसलिए पूरी मशीनें मैन्युअल रूप से संचालित नहीं होती हैं, यह स्वचालित रूप से संचालित होती हैं और ये सभी भौतिक उपकरण साइबर फिजिकल उपकरण बन गए हैं मतलब इंटरनेट द्वारा दुनिया के किसी भी कोने से मशीनों को मानव रिमोट के जरिए संचालित कर सकता है। तो हमें मशीनों को स्वचालित करना होगा साथ ही स

टियर-2 शहरों में प्रमुख इलाकों में संपत्ति की कीमतों में 10-15% तक की वृद्धि होने के कारण

चित्र
० योगेश भट्ट ०  नई दिल्ली - भारत की अग्रणी फुल-स्टैक प्रॉपटेक कंपनी, Housing.com ने आज अपनी पहली “द भारत इन इंडिया” रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट में देश भर के टियर-2 शहर के रियल एस्टेट मार्केट में उल्लेखनीय वृद्धि के ट्रेंड्स का खुलासा किया गया है। यह रिपोर्ट इस बात पर प्रकाश डालती है, कि कैसे ये कभी उपेक्षित रहने वाले शहरी केंद्र अपने टियर-1 समकक्षों के अंतर को तेज़ी से दूर कर रहे हैं। इस वृद्धि को आर्थिक विविधीकरण, उपभोक्ताओं की बढ़ती मांग, और महामारी के कारण आए रिवर्स माइग्रेशन पैटर्न से प्रोत्साहन मिला है। ग्रुप सीईओ ध्रुव अग्रवाल ने कहा, “भारत में रियल एस्टेट का नैरेटिव तेज़ी से आगे बढ़ रहा है, जिसमें कोच्चि, जयपुर, गोवा और चंडीगढ़ ट्राइसिटी जैसे टियर-2 के शहर प्रगति के नए पावरहाउस के रूप में उभर रहे हैं। हमारे प्रॉप्रिएटरी प्रॉपर्टी बाय इंडेक्स से पता चलता है कि टियर-2 शहर टॉप आठ महानगरों से 88 अंकों से आगे निकल गए हैं।”  अग्रवाल ने कहा, “आर्थिक परिदृश्य बदल रहा है, और टियर-2 का नगरीय क्लस्टर कुशल कार्यबल और स्टार्ट-अप इकोसिस्टम के लिए नए आकर्षण के रूप में उभर रहा है।  यह रिपोर

रिलायंस जियो को मिला अंतरराष्ट्रीय ‘सीडीपी क्लाइमेट’अवार्ड

चित्र
० आशा पटेल ०  नई दिल्ली : रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड ने वर्ष 2022-23 के लिए ‘सीडीपी क्लाइमेट’ अवार्ड हासिल किया है। कार्बन डिसक्लोजर प्रोजेक्ट (सीडीपी) ने जियो को जलवायु परिवर्तन को थामने और कार्बन फुटप्रिंट कम करने के प्रयासों के लिए ए रेटिंग दी है। 2019 के बाद यह पहला मौका है जब जियो को यह सम्मान मिला है। भारतीय दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल को बी रेटिंग दी गई है। सीडीपी ए रेटिंग उन्हीं कंपनियों को देती है जो पर्यावरण के क्षेत्र में अग्रणी होती हैं। जियो के प्रवक्ता ने कहा, “हमें गर्व है कि जलवायु परिवर्तन से जुड़ा दुनिया का सबसे बड़ा अवार्ड हम जीत पाए। कार्बन फुटप्रिंट कम करने में रिलायंस जियो की लीडरशिप के विजन और प्रतिबद्धता ने महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है।”इसके अतिरिक्त, जियो को "सीडीपी सप्लायर एंगेजमेंट" में भी ए रेटिंग मिली है। सीडीपी ने बताया कि ए रेटिंग पाने वाली कंपनियां जलवायु परिवर्तन के प्रति सबसे जागरूक और पारदर्शी होती हैं। यह रेटिंग पर्यावरण मानकों पर आधारित होती है, जिससे कंपनियों के बीच तुलनात्मक अध्ययन किया जा सकता है।

CMAI ने दूसरे NIGF 2024 का शानदार सफलता,आने वाले त्यौहारी सीज़न के लिए यह आशाजनक संकेत

चित्र
० योगेश भट्ट ०  नई दिल्ली : क्लोदिंग मैन्युफैक्चरर्स असोसिएशन ऑफ़ इंडिया (सीएमएआई) द्वारा आयोजित दूसरा नॉर्थ इंडिया गारमेंट फेयर (NIGF 2024) द्वारका, नई दिल्ली में यशोभूमि कन्वेंशन सेंटर (IICC) में संपन्न हुआ।  इस कार्यक्रम में 200 से अधिक प्रदर्शकों और 5450 से ज्यादा ट्रेड आगंतुकों ने अपनी प्रभावशाली उपस्थिति दर्ज की, जो गारमेंट इंडस्ट्री के लिए आगामी त्यौहारी सीज़न के लिए मजबूत सकारात्मक भावनाओं का संकेत देता है। NIGF देश भर के उत्पादकों के लिए उत्तरी भारत के रिटेलर्स, वितरकों और एजेंट्स से जुड़ने का प्रभावी प्लेटफ़ॉर्म है, जबकि रिटेलर्स एक ही छत के नीचे पूरे भारत के नए आपूर्तिकर्ताओं और ब्रैंड्स को खोजने का लाभ उठा सकते हैं। बिज़नेस नेटवर्किंग सेशन को बहुत अच्छी प्रतिक्रिया मिली, जिसमें 65 से अधिक प्रदर्शकों को पूरे भारत से आमंत्रित 22 प्रमुख एजेंट्स और वितरकों के साथ आमने-सामने मीटिंग करने का मौका मिला। प्रदर्शक विभिन्न इलाकों से आए संभावित एजेंट्स और वितरकों के सामने अपने कलेक्शन पेश कर सकें।  CMAI के अध्यक्ष राजेश मसंद ने कहा, “NIGF 2024 को मिली ज़बरदस्त प्रतिक्रिया भारतीय गारमेंट

गोवा शिपयार्ड लिमिटेड और लक्समबर्ग की जन डी नुल ग्रुप के साथ अनुबंध

चित्र
० आनंद चौधरी ०  गोवा - गोवा शिपयार्ड लिमिटेड ने लक्समबर्ग की जन डी नुल ग्रुप के साथ नेक्स्ट जनरेशन ट्रेलिंग सक्शन हॉपर ड्रेजर्स के निर्माण के लिए लक्समबर्ग में अनुबंध पर हस्ताक्षर किए हैं। इस पोत को प्लग-इन हाइब्रिड के रूप में डिज़ाइन किया गया है, जो पहले चरण में चार घंटे तक की स्वायत्तता क्षमता रखता है और विशेष रूप से छोटे बंदरगाहों में संचालन के लिए डिज़ाइन किया गया है। जीएसएल, (गोवा शिपयार्ड लिमिटेड) भारत के प्रमुख शिपबिल्डर में से एक, यूरोपीय ग्राहक के लिए ड्रेजर्स के क्षेत्र में प्रवेश कर रहा है। एक प्लग-इन हाइब्रिड के रूप में, इस पोत का पारिस्थितिकीय पदचिह्न बहुत कम होगा और पहले चरण में यह चार घंटे तक की स्वायत्तता क्षमता रख सकता है। इसके अतिरिक्त, यह यूएलईवी तकनीक (अल्ट्रा लो एमिशन वेसल) और बायो-फ्यूल पर चलने वाले यूरो 6 इंजन से सुसज्जित है। 79 मीटर लंबाई के इस नए पोत की होपर क्षमता 2000 घन मीटर है।  वर्तमान अनुबंध एक पोत के लिए है, जिसमें पहले पोत की डिलीवरी अवधि 24 महीने है, और दूसरे समान पोत के निर्माण का विकल्प भी है। नया पोत छोटे बंदरगाहों में संचालन के लिए अनुकूलित है, जै

किआ इंडिया ने 250,000 वाहनों के निर्यात का मील का पत्थर पार किया

चित्र
० योगेश भट्ट ०  नई दिल्ली : किआ इंडिया कार निर्माता ने 250,000 वाहनों के निर्यात को पार करने की एक महत्वपूर्ण उपलब्धि की घोषणा की। 2019 से, कंपनी ने अपने अनंतपुर विनिर्माण संयंत्र से 100 से ज़्यादा बाज़ारों में 255,133 यूनिट अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भेजी हैं। सेल्टोस का सबसे ज़्यादा योगदान रहा है, जो कंपनी के कुल विदेशी डिस्पैच का 59% है। किआ के अन्य इनोवेशन - सोनेट और कैरेंस क्रमशः 34% और 7% योगदान देते हुए दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं।  किआ इंडिया, किआ कॉरपोरेशन के लिए प्रमुख निर्यात केंद्रों में से एक है। हालांकि, हाल के वर्षों में कंपनी ने घरेलू बाजारों में अपनी कारों की बिक्री पर अधिक ध्यान केंद्रित किया है और अब इस वर्ष से 90% उत्पाद भारत के लिए बनाए जा रहे हैं। वर्तमान में किआ इंडिया अपने अनंतपुर संयंत्र से 100 से अधिक अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में निर्यात करती है। किआ इंडिया के निर्यात के कुछ प्रमुख बाजारों में दक्षिण अफ्रीका, चिली, पैराग्वे और लैटिन अमेरिका शामिल हैं। नवाचार और उत्कृष्टता के प्रति किआ के समर्पण ने भारत और वैश्विक स्तर पर ऑटोमोटिव उद्योग में वैश्विक नेता के रूप में अप

‘विक्स डबल पॉवर कफ ड्रॉप्स’ एक बड़ी गोली,जो खिच खिच और खराब गले से राहत

चित्र
० योगेश भट्ट ०  मुंबई : विक्स ने पॉवरहाउस ब्रांड एंबेसडर रनवीर सिंह के साथ ‘‘विक्स की गोली अब हो गई बड़ी’’ की घोषणा की, जिसमें लगभग दो दशकों में विक्स कफ ड्रॉप्स के ‘डबल पॉवर्ड परिवर्तन’ का अनावरण किया गया। पीएंडजी इंडिया में कैटेगरी लीडर, कंज़्यूमर हैल्थकेयर, साहिल सेठी ने कहा, ‘‘ब्रांड की प्रतिष्ठित जिंगल, ‘विक्स की गोली लो, खिच खिच दूर करो’ फौरन उस पुराने समय की यादों में ले जाती है, जब विक्स कफ ड्रॉप्स ने सन 1960 से भारतीयों की कई पीढ़ियों को बिना खिच-खिच के बोलने में मदद की थी।  हमारे ग्राहक क्या चाहते हैं, यह समझकर और उनके द्वारा दी गई जानकारी को अपने उत्पाद के फॉर्मुलेशन और पैकेजिंग में शामिल करके इस विरासत को मजबूत बनाने की प्रतिबद्धता के साथ हम दशकों में सबसे बड़ी खबर पेश करने के लिए उत्साहित हैं कि हम अपनी प्रतिष्ठित त्रिकोणीय विक्स कफ ड्रॉप्स का पहला डबल पॉवर्ड परिवर्तन, विक्स डबल पॉवर कफ ड्रॉप्स लेकर आए हैं। खाँसी और गले की खराश से राहत पाने के लिए बड़े आकार में अपनी पसंदीदा कफ ड्रॉप लेने की ग्राहकों की जरूरत और उनकी प्रतिक्रिया के आधार पर बनाई गई हमारी ‘विक्स डबल पॉवर कफ ड्रॉप