सिंगापुर में आयोजित रीजनल फाइनल्स में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे 6 स्‍टूडेंट्स

० योगेश भट्ट ० 
मुंबई, फेडरल एक्सप्रेस कॉर्पोरेशन ने 2024 फेडएक्स/जूनियर अचीवमेंट इंटरनेशनल ट्रेड चैलेंज (फेडएक्‍स/जेए आईटीसी) इंडिया नेशनल प्रतियोगिताओं के छह विजेताओं की घोषणा की है। विजेता अब अगस्त में आयोजित होने वाली फेडएक्‍स/जेए आईटीसी एशिया, मध्य पूर्व और अफ्रीका (AMEA) क्षेत्रीय प्रतियोगिता में भाग लेंगे।

पिछले चार वर्षों से, फेडएक्स भारतीय युवाओं की तरक्की और विकास को बढ़ावा देने के लिए जेए इंडिया के साथ काम कर रहा है। आईटीसी कार्यक्रम के माध्यम से, फेडएक्स और जेए इंडिया स्‍टूडेंट्स के लिए वैश्विक व्यापार पर केंद्रित टीम गतिविधियों और विशिष्ट वर्कशॉप्स का आयोजन करता है। इससे वाणिज्य के क्षेत्र में लीडर के रूप में उनकी भविष्य की सफलता का मार्ग प्रशस्त करते हैं। रीजनल फाइनल्‍स में प्रतिनिधित्‍व करने वाले 6 स्‍टूडेंट्स हैं – स्‍ट्रॉबेरी फील्‍ड्स हाई स्‍कूल, चंडीगढ़ करण ब्रार अथर्व तेग रट्टन

 डॉ बीआर आम्‍बेडकर स्‍कूल ऑफ स्‍पेश्‍यलाइज्‍ड एक्‍सीलेंस, कालकाजी अंश बेनीवाल रश्‍मि सिन्‍हा
 स्‍कॉटिश हाई इंटरनेशनल स्‍कूल, गुड़गांव गायत्री सरीन काशवी कुमार महामारी के बाद यह पहली बार है, जब इस वर्ष एशिया पैसिफिक रीजनल फाइनल्स का आयोजन होगा। अगस्त में सिंगापुर में होने वाले इस प्रतियोगिता में भारतीय विजेता हॉन्गकॉन्ग, जापान, इंडोनेशिया, कोरिया, मलेशिया, फिलीपींस, सिंगापुर, थाईलैंड और वियतनाम के छात्रों के साथ प्रतिस्पर्धा करेंगे।

 प्रतियोगियता का यह फॉर्मेट इन छात्रों को आपसी साझेदारी के तहत विचार-मंथन, सूचनाओं और जानकारियों के आदान-प्रदान व पूरे क्षेत्र की समृद्ध संस्कृतियों से आने वाले प्रतियोगियों के साथ रचनात्मक चर्चा में शामिल होने का अनूठा अवसर प्रदान करता है। 2024 फेडएक्स जेए/आईटीसी कार्यक्रम का आयोजन चार वर्कशॉप्स के साथ वर्चुअली किया गया था, जिसमें भारत के 58 स्कूलों के साथ-साथ थिम्पू भूटान के 555 से अधिक स्‍टूडेंट्स ने हिस्‍सा लिया। स्‍टूडेंट्स को इस कार्यक्रम में वैश्विक व्यापार पर अपनी जानकारी बढ़ाने और बाजार में प्रवेश करने की अपनी रणनीति बनाने के लिए जरूरी कौशल प्राप्त करने में मदद मिली।

पहली बार, इंडिया नेशनल प्रतियोगिता का आयोजन फिजिकल फॉर्मेट में किया गया, जिसमें स्‍टूडेंट्स को शहरी ऑस्ट्रेलिया में जल संरक्षण के सहयोग के लिए पर्यावरण हितैषी प्रॉडक्ट को विकसित करने की चुनौती दी गई। यह पर्यावरण पर पड़ने वाले प्रतिकूल प्रभावों को कम करने के लिए व्यावसायिक गतिविधियों में "रिड्यूस, रिप्लेस एंड रिवॉल्यूनाइज" के फेडएक्स के दृष्टिकोण के मुताबिक है।

फेडएक्स, एमईआईएसए में मार्केटिंग और एयरलाइन नेटवर्क के वाइस प्रेसिडेंट नितिन नवनीत टाटीवाला ने कहा, "फेडएक्स में, हम युवा उद्यमियों को वैश्विक स्तर पर जुड़ी दुनिया में आगे बढ़ने के लिए आवश्यक उपकरणों और संसाधनों से लैस करके उनकी क्षमता को बढ़ाने में विश्वास करते हैं।" इनोवेशन और उद्यमिता की भावना को प्रोत्साहित करते हुए, हम न केवल वाणिज्य के क्षेत्र में भविष्य के लीडर्स को आकार दे रहे हैं बल्कि स्थायी वैश्विक व्यापार प्रणालियों को भी बढ़ावा दे रहे हैं। हमें इन छात्रों पर बेहद गर्व है जो क्षेत्रीय फाइनल में अपने देशों का प्रतिनिधित्व करेंगे। हम उनके अभिनव समाधानों और लीडरशिप को देखने के लिए उत्सुक हैं।"

2021 में भारत में अपनी शुरुआत के बाद से फेडएक्स/ जेए आईटीसी ने छात्रों को अंतर्राष्ट्रीय व्यापार की बारीकियों को बेहतर ढंग से समझने में मदद करने के लिए अपनी प्रतिबद्धता को जारी रखा है। अब तक, कार्यक्रम ने लगभग 2,200 छात्रों को आकर्षित किया है, जिनमें से 24 से अधिक छात्र क्षेत्रीय फाइनल में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

वाणी का डिक्टेटर – कबीर

"मुंशी प्रेमचंद के कथा -साहित्य का नारी -विमर्श"

श्री माहेश्वरी समाज जयपुर ने मनाया शताब्दी समारोह

गांधी जी का भारतीय साहित्य पर प्रभाव "

डीपीएस स्कूल,द्वारका द्वारा नियम/कानूनों को ठेगा दिखाते हुए फिर फीस वसूली के लिए काटे 26 छात्रों के नाम